फिरोजपुर शहरी हलके के 140 सरकारी स्कूलों में लगेंगे आरओ सिस्टम, एक महीने में पूरा होगा प्रोजेक्ट - BTTNews

ताजा अपडेट

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

Saturday, October 12, 2019

फिरोजपुर शहरी हलके के 140 सरकारी स्कूलों में लगेंगे आरओ सिस्टम, एक महीने में पूरा होगा प्रोजेक्ट


पावर फाइनांस कार्पोरेशन लिमिटेड से 1.80 करोड़ रुपए की लागत से करवाया जाएगा आरओ सिस्टम लगाने का काम, पंचायतों ने की सराहना


फिरोजपुर, 12 अक्टूबरः

फिरोजपुर शहरी हलके के 140 प्राइमरी, मिडल और हायर सैकेंडरी सरकारी स्कूलों में आरओ सिस्टम लगाने का प्रोजेक्ट पास हो गया है, जिसके तहत इन सभी स्कूल के बच्चों को अब साफ-सुथरा पीने का पानी उपलब्ध हो सकेगा। एक महीने में प्रोजेक्ट कंपलीट होगा, जिसके तहत हरेक स्कूल में आरओ सिस्टम लगाए जाएंगे। 


विधायक परमिंदर सिंह पिंकी ने शनिवार को विभिन्न गांव की पंचायतों से बैठक में ये जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पावर फाइनांस कार्पोरेशन लिमिटेड की तरफ से ये प्रोजेक्ट पास करवाया गया है, जिस पर 1.80 करोड़ रुपए का खर्च आएगा। इसका सबसे ज्यादा फायदा बॉर्डर एरिया से सटे गांव वाले स्कूलों में होगा, जहां पाकिस्तान से टैनरीज का गंदा पानी छोड़े जाने की वजह से पीने की पानी की स्थिति काफी खराब हो गई है। इन गांव के स्कूलों में खराब पानी की वजह से बच्चे भी बीमार रहते थे और पेट की बीमारियों से ग्रस्त थे। उन्होंने कहा कि आरओ सिस्टम लगने से बच्चों को बिल्कुल स्वच्छ पेयजल उपलब्ध होगा और इससे उनकी सेहत में भी सुधार होगा। उन्होंने बताया कि इससे पहले इन स्कूलों के लिए 9 हजार बैंच की व्यवस्था की गई थी ताकि बच्चे जमीन पर बैठकर पढ़ाई न करें, जिससे स्कूलों के आधुनिकीकरण में काफी सहायता हुई। उन्होंने कहा कि भविष्य में इन स्कूलों के लिए जरूरत मुताबिक फंड्स जुटाए जाएंगे। विधायक पिंकी ने कहा कि बच्चे हमारे देश का भविष्य हैं और उन्हें बेहतरीन सुविधाएं मुहैया करवाना हमारा कर्त्तव्य है ताकि वह अच्छी तरह से पढ़ाई-लिखाई करके अपना करियर बना सकें। उन्होंने कहा कि बॉर्डर एरिया अब एक पिछड़ा इलाका नहीं ब्लकि तेजी से आगे बढ़ रहे इलाकों में शुमार हो चुका है।
व्यापार सैल के प्रधान चंद्र मोहन हांडा ने इस प्रयास की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह काफी दूरदर्शिता भरा कदम है, जोकि सरकारी स्कूलों की दशा सुधारने के संदर्भ में मील का पत्थर साबित होगा। इसी तरह सरपंच अवतार सिंह और अमन ने बताया कि सरकारी स्कूलों में पेयजल की व्यवस्था न होना शिक्षा के रास्ते में बड़ी रुकावट बना हुआ था, जोकि विधायक परमिंदर सिंह पिंकी के प्रयासों से दूर हो गया है। 

No comments:

Post a Comment