चंडीगढ़, 10 फरवरी:
कब्रिस्तान के लिए ज़मीन देने के लिए ईसाई भाईचारे की माँग पर कार्यवाही करते हुये मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने आज ग्रामीण विकास व पंचायत विभाग को राज्य भर में भाईचारे को कब्रिस्तान के लिए अपेक्षित जगह मुहैया करवाने के लिए तुरंत शामलात वाली ज़मीन की शिनाख्त करने के आदेश दिए हैं।

ईसाई कल्याण बोर्ड, पंजाब के चेयरमैन सलामत मसीह के नेतृत्व में उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल को संबोधित करते हुये कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि राज्य सरकार ईसाई भाईचारे को कब्रिस्तान के लिए उचित ज़मीन मुहैया करवाने के लिए वचनबद्ध है और इसको जल्द से जल्द अमली रूप दिया जायेगा।
ईसाई भाईचारे की भावनाओं के सत्कार के तौर पर ऐतिहासिक बेरिंग यूनियन क्रिश्चियन कॉलेज, बटाला से निकलने वाली प्रस्तावित नयी सडक़ इसके विरासती ढांचे से छेड़छाड़ किये बिना बनाने के लिए मुख्यमंत्री की तरफ से दिए निजी दख़ल के लिए प्रतिनिधिमंडल ने उनका धन्यवाद किया।
मुख्यमंत्री ने ईसाई भाईचारे के सर्वपक्षीय कल्याण के लिए फंडों के आवंटन के अलावा अन्य जायज माँगों पर गौर करने और बोर्ड को सहूलतें मुहैया करवाने का वायदा किया जिससे भाईचारे की इच्छाओं के मुताबिक कामकाज को यकीनी बनाया जा सके।
इस मौके पर शिक्षा और लोक निर्माण मंत्री विजय इंदर सिंगला, उद्योग और वाणिज्य मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल, विधायक नवतेज सिंह चीमा और मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव तेजवीर सिंह उपस्थित थे।
ईसाई कल्याण बोर्ड के प्रतिनिधिमंडल में इसके सीनियर उप-चेयरमैन बिशप इमैनूअल, उप चेयरमैन तरसेम सहोता, रमन रमेश मसीह के अलावा मैंबर सन्नी बाजवा, हैपी मसीह, जैसों मैथ्यू, वी.वी. एंथोनी, कमल खोखर, प्रेम कुमार और दीपक नायर शामिल थे।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.