मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने नशा माफिया की कमर तोड़ कर अपना वादा पूरा किया

चंडीगढ़, 26 फरवरी:
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने बुधवार को अकाली दल के सरप्रस्त प्रकाश सिंह बादल के उन दोषों को ‘झूठ का पुलिंदा’ करार दिया है कि जिसमें उन पर गुटका साहिब की कसम खाने के बाद राज्य में नशों को ख़त्म करने में असफल रहने का दोष लगाया था।
एक सीनियर राजनैतिक नेता के कोरे झूठ पर हैरानी ज़ाहिर करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने दमदमा साहिब में गुटका साहिब की कसम खाई थी कि वह नशों की रीढ़ की हड्डी तोड़ देंगे, जो उन्होंने सफलतापूर्वक कर दिया है।
शिरोमणि अकाली दल के नेता के ताज़ा बयान संबंधी आज विधानसभा में मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसा झूठ फैलाना बादल को शोभा नहीं देता।
कैप्टन अमरिन्दर ने कहा कि चुनावी वायदे के अनुसार उनकी सरकार की नशों के खि़लाफ़ व्यापक मुहिम ने राज्य में ड्रग माफिया की रीढ़ की हड्डी तोड़ दी है और यह मुहिम बिना रुकावट जारी है।
मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य सरकार ने पंजाब के लोगों के साथ अपने वायदे को पूरा करने के लिए एक व्यापक ई.डी.पी.- लागूकरण, नशा मुक्ति और बचाव की व्यापक रणनीति अपनाई है।
आंकड़ों का हवाला देते हुए कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि पिछले तीन सालों के दौरान पंजाब पुलिस द्वारा एनडीपीएस एक्ट के अधीन 34,373 केस दर्ज करके 42,571 व्यक्तियों को गिरफ़्तार किया गया है और 974.15 किलोग्राम हेरोइन बरामद की गई है। उन्होंने बताया कि कुल 193 ओटज़ क्लीनिक स्थापित किये गए थे, जिनमें नशा पीडि़तों को नियमित तौर पर मुफ़्त ईलाज मुहैया कराया जा रहा है। इस समय राज्य में 3.70 लाख व्यक्ति नशों से मुक्ति पाने के लिए ईलाज करवा रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि नशा रोकथाम मुहिम को लोगों की मुहिम बनाने के लिए उनकी सरकार द्वारा 5 लाख से अधिक नशा रोकथाम अधिकारी (डैपो) लगाए गए हैं और राज्य के सभी स्कूलों और कॉलेजों में 8 लाख के करीब बड्डी ग्रुप बनाए गए हैं जिससे नशों के खि़लाफ़ संदेश घर-घर पहुँचाया जा सके।
उन्होंने कहा, ‘‘हम सभी जानते हैं कि पिछली सरकार द्वारा ऐसा कोई प्रयास नहीं किया गया था बल्कि वह तो राज्य में नशों की होंद से भी इन्कार करते रहे थे।’’
मुख्यमंत्री ने सदन को भरोसा दिया कि जब तक राज्य से मुकम्मल तौर पर नशों का ख़ात्मा नहीं कर दिया जाता तब तक यह यत्न जारी रखे जाएंगे और दोहराए जाएंगे।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.