Type Here to Get Search Results !

दूध की सप्लाई निर्विघ्न जारी रहेगी, लोग भयभीत न हों-सुखजिन्दर सिंह रंधावा



कोविड-19 के चलते मिल्कफैड किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयारसूखा दूध और लम्बे मियाद वाले दूध की सप्लाई में भी कोई कमी नहीं आने दी जाएगीदूध की सप्लाई के दौरान साफ़-सफ़ाई और शुद्धता के पूरे मानकों का रखा जा रहा है ख्याल-कैप्टन हरमिन्दर सिंह

चंडीगढ़, 20 मार्च:
कोविड-19 बीमारी के बढ़ते प्रकोप के चलते मिल्कफैड के ब्रांड वेरका द्वारा खपतकारों को मुहैया करवाई जाने वाली सेवाओं का मुल्यांकन करते हुए सहकारिता मंत्री स. सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने लोगों को विश्वास दिलाया कि दूध की सप्लाई निर्विघ्न जारी रहेगी और लोगों को किसी भी तरह भयभीत होने की ज़रूरत नहीं।
उन्होंने कहा कि दूध की सप्लाई के दौरान साफ़-सफ़ाई और स्वास्थ्य विभाग की हिदायतों का यथावत पालन किया जा रहा है। इसके अलावा उन्होंने यह भी यकीन दिलाया कि मिल्कफैड किसी भी आपात स्थिति का मुकाबला करने के लिए तैयार है।

आज यहाँ जारी प्रैस बयान में स. रंधावा ने कहा कि मिल्कफैड की तरफ से जहाँ दूध की सप्लाई बढ़ाते हुए उपभोक्ता की माँग पूरी की जा रही है वहीं किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए लम्बे मियाद वाले दूध के पैकेटों और सूखे दूध की सप्लाई भी की जा रही है और स्किमड दूध और दूध पाऊडर हर स्तर के वेरका बूथों, मिल्क बार और परचून की दुकानों पर उपलब्ध होगा। उन्होंने कहा कि मार्केट में 20 मीट्रिक टन दूध वाला पाऊडर पहले ही भेज दिया गया है और 150 मीट्रिक टन दूध वाला पाऊडर जो 15 लाख लीटर दूध की जगह इस्तेमाल किया जा सकता है, आने वाले सात दिनों के अंदर सप्लाई कर दिया जायेगा।
सहकारिता मंत्री ने लोगों को विश्वास दिलाया कि वह भयभीत न हों और मिल्कफैड हर स्थिति का मुकाबला करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय दूध की प्रोसैसिंग पिछले साल के मार्च महीने की अपेक्षा 16 प्रतिशत अधिक है जिस कारण उनका विभाग हर माँग पूरी करने का सामथ्र्य रखता है। आने वाले दिनों में वेरका की तरफ से दूध की निर्विघ्न सप्लाई जारी रहेगी।
मिल्कफैड के चेयरमैन कैप्टन हरमिन्दर सिंह ने कहा कि कोविड-19 के चलते उनके संस्थान द्वारा हर तरह की एहतियात और साफ़ एवं शुद्ध दूध और अन्य डेयरी उत्पादों की सप्लाई यकीनी बनाई गई है। उन्होंने कहा कि राज्य में अत्याधुनिक तकनीकों वाले प्लांटों में सभी सफ़ाई प्रबंधों को यकीनी बनाया गया है और मिल्कफैड के सभी कर्मचारी पूरी तरह संवेदनशील हैं और विश्व स्वास्थ्य संगठन और केंद्र एवं राज्य सरकार की तरफ से स्वास्थ्य सम्बन्धी जारी दिशा-निर्देशों का पूरी तरह पालन किया जा रहा है।
चेयरमैन ने कहा कि दूध की सप्लाई वेरका प्रोसैसिंग प्लांट से उपभोक्ता तक पहुंचाने के लिए हर स्तर पर सप्लाई चेन में साफ़-सफ़ाई और शुद्धता के मानकों को कायम रखना यकीनी बनाने के साथ-साथ किसानों को भुगतान भी समय पर होता रहेगा। उन्होंने कहा कि दूध की सप्लाई की कोई किल्लत नहीं आने दी जायेगी।
मिल्कफैड के एम.डी. श्री कमलदीप सिंह संघा ने आगे विवरण जारी करते हुए बताया कि रोज़ाना का 12 लाख लीटर दूध पंजाब और पड़ोसी राज्यों को सप्लाई किया जाता है। उन्होंने कहा कि यह सप्लाई तो यकीनी बनाई ही गई है परन्तु फिर भी किसी आपात स्थिति का मुकाबला करने के लिए मिल्कफैड के पास 100 से 180 दिनों तक के मियाद वाले दूध की सप्लाई भी मौजूद है जो ताज़े दूध का विकल्प साबित हो सकती है। उन्होंने कहा कि सहकारिता मंत्री की हिदायतों का पूरा पालन करते हुए मिल्कफैड की तरफ से रोज़ाना के प्रयोग के लिए सबसे अहम चीज़ दूध की सप्लाई में कोई कमी नहीं आने दी जायेगी और पंजाब और पड़ोसी राज्यों के उपभोक्ता को इस संबंधी कोई परेशानी नहीं होगी।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.