लॉक डाउन को गंभीरता से न लेने का परिणाम : पंजाब में अनिश्चितकाल के लिए कर्फ्यू का ऐलान - BTTNews

ताजा अपडेट

�� बी टी टी न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें bttnewsonline@yahoo.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 7035100015 पर

Monday, March 23, 2020

लॉक डाउन को गंभीरता से न लेने का परिणाम : पंजाब में अनिश्चितकाल के लिए कर्फ्यू का ऐलान

पंजाब में सामने आ चुके हैं 21 कोरोना पोजिटिव मामले, अब तक एक की मौत

चंडीगढ़ : 
पंजाब के लोगों द्वारा लॉक डाएन को गंभीरता से न लेने के परिणामस्वरूप सीएम कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने करोना वायरस के फैलाव से बचाव के लिए पंजाब के मुख्य सचिव करन अवतार सिंह और पंजाब पुलिस प्रमुख दिनकर गुप्ता के साथ रिव्यु मीटिंग के कर्फ्यू लगाने के निर्देश जारी किए। मुख्य मंत्री ने डिप्टी कमिश्नरों को इस बारे हुक्म जारी करने के निरदेश दिए हैं
और कर्फ्यू   के दौरान किसी व्यक्ति को समय अनुसार ढील डिप्टी कमिशनर दे सकते हैं। गुरदासपुर, जालंधर, पटियाला, नवांशहर, पठानकोट समेत कई जिलों में कर्फ्यू  लागू कर दिया गया है। मुक्तसर के डीसी पहले ही यह हुक्म जारी कर चुके हैं कि वही सरकारी मुलाज़ीम दफ़्तरों अंदर रुकें  जो कोरोना वायरस से सम्बन्धित काम कर रहे हैं। पंजाब में 21 कोरोना पोजिटिव मामले सामने आ चुके हैं और अब तक 1मौत हो चुकी है। चण्डीगढ़ में 7 मामले सामने आ चुके हैं। सोमवार को एक ताज़ा मामला सामने आया। अकेले नवांशहर में 14 पोजिटिव मामले सामने आ चुके हैं। जि़क्रयोग्य है कि लाकडाऊन के बावजूद लोग इस को गंभीरता से नहीं ले रहे थे जिसके बाद राज्य सरकार ने यह हुक्म जारी किये हैं। लोगों को यह समझने की ज़रूरत है कि कोरोना वायरस के साथ लड़ाई में उनका सहयोग जरूरी है। जनता को बचाने के लिए ही पंजाब सरकार ने 31 मार्च तक लाकडाऊन का फ़ैसला लिया था जिसके अनुसार लोगों को घरों अंदर ही रहने व बेहद ज़रूरी होने पर ही बाहर जाने की अपील की थी। इस के बावजूद लोगों ने इस को गंभीरता से लेना ज़रूरी नहीं समझा, जिसके चलते सरकार को सख्त होना पड़ा। 

No comments:

Post a Comment