Type Here to Get Search Results !

पंजाब में अब होंगे कोरोना वायरस सम्बन्धी 800 टैस्ट रोज़ाना- डी.के. तिवाड़ी

5 आर.टी.पी.सी.आर मशीनें और 4 आर.एन.ए. एकस्टरेकशन मशीनें सरकारी मैडीकल कॉलेज पटियाला और अमृतसर में स्थापित

सरकारी मैडीकल कॉलेज पटियाला और अमृतसर की टैस्ट क्षमता 40 -40 से बढ़ कर हुई 400 -400 टैस्ट रोजाना

चंडीगढ़, 9 अप्रैल:
दुनिया भर में चिंता का विषय बने हुए कोविड 19 को मात पाने के लिए पंजाब सरकार ने कोरोना के शक्की मरीजों के टैस्ट करने के लिए 5
आर.टी.पी.सी.आर मशीनें और 4 आर.एन.ए. ऐकस्टरेकशन मशीने सरकारी मैडीकल कालेज पटियाला और अमृतसर के वायरल रिर्सच डायगनोस्टिक लैब में स्थापित कर दी गई हैं। इसके साथ सरकारी मैडीकल कॉलेज पटियाला और अमृतसर में अब रोज़ाना 400 -400 टैस्ट किये जा सकेंगे।
उक्त जानकारी आज यहाँ डाक्टरी शिक्षा और अनुसंधान संबंधी विभाग के प्रमुख सचिव श्री डी.के. तिवाड़ी ने दी।
उन्होंने बताया कि पंजाब सरकार की तरफ से कोरोना वायरस के मुकाबले के लिए जंगी स्तर पर तैयारी की गई हैं जिसके अंतर्गत सरकारी मैडीकल कालेज पटियाला और अमृतसर के लिए 5 आर.टी.पी.सी.आर मशीनों की खरीद तकरीबन 1.6 करोड़ की लागत से खरीदी गई हैं इस तरह अब राज्य में कुल 8 आर.टी.पी.सी.आर मशीने हो गई हैं। इसके अलावा 4 आर.एन.ए. ऐकस्टरेकशन मशीने भी तकरीबन 1.26 करोड़ की लागत से खरीदी गई हैं और यह मशीने पटियाला और अमृतसर में स्थापित कर दी गई हैं जिस कारण अब पंजाब राज्य में कुल 800 टैस्ट रोज़ाना होंगे।
श्री तिवाड़ी ने बताया कि अब तक अमृतसर और पटियाला की लैब में अब तक कुल 1958 टैस्ट किये जा चुके हैं। इसके अलावा मैडीकल कालेज फरीदकोट में टैस्ट शुरू करने के लिए आई.सी.एम.आर से मंजूरी की माँग की गई है यदि यह मंजूरी मिल जाती है तो यहाँ रोज़ाना 40 टैस्ट करने से शुरूआत की जायेगी।
प्रमुख सचिव ने उम्मीद अभिव्यक्ति कि इस सुविधा के साथ हम कोरोना और पीडि़त मरीजों की जल्द पहचान करने में कामयाब हो सकेंगे और लोगों को सही इलाज जल्द मुहैया करवाने में सफल हो सकेंगे।
श्री तिवाड़ी ने मैडीकल कालेजों के डाक्टरों और पैरा मैडीकल अमले की तरफ से निभाई जा रही सेवाओं की सराहना करते हुये कहा कि मुश्किल समय में ही मानवता की सेवा ही असली सेवा है।  

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.