नई दिल्‍ली : पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा प्रच्‍चलित टिकटॉक एप्‍प समेत 59 चायनीज एप्‍प पर प्रतिबंध लगाकर चाहे सुर्खियां बटोरी हैं, लेकिन एक और इस तरह की गेम रूपी एप्‍प नौजवान व नाबालिग युवाओं के मोबाइल में है जो मौजूदा समय में सबसे घातक साबित हो रही है, जिसका नाम है PUBG …

जीं हां पिछले दिनों में इस एप्‍प के कारण कई नौजवानों द्वारा आत्‍महत्‍या की खबरे भी आती रही हैं। अब जो पंजाब के खरड़ में हुई ताजा घटना हुई है उसने लाखों उन परिवानों को और झकझोर कर रख दिया है जिनके बच्‍चे इस गेम में संलिप्‍त हैं। किसी भी मोबाइल गेम के खेलने के साथ समय का नुकसान तो होता ही है परन्तु कभी किसी ने यह नहीं सोचा होना कि PUBG  नामक उक्‍त गेम ने एक परिवार की सारी उम्र की जमापूंजी लाखों रुपये का नुकसान कर दिया। खरड़ के नाबालिग लड़के ने कुछ इस तरह का ही किया है जिस ने सब को हैरान कर दिया। मोबाइल गेम के सौकीन टीनएज़र लड़के ने 16 लाख रुपए मशहूर मोबाइल गेम PUBG में लगा दिए। उसने कथित तौर पर गेम में एक महीने में मास्टर बनने के लिए गेम में वर्चुअल बारूद, पास और आरटीलरी ख़रीदी। अब उस की इस हरकत से परेशान उस के पिता ने उसे एक स्‍कूटर रिपेयर की दुकान पर लगा दिया है। उस के पिता का कहना है कि वह उसे यह एहसास दिलाना चाहते हैं कि पैसा कमाना कितना कठिन है। वह अब लड़के को घर में फ्री नहीं बैठने दे सकते। उन्‍होंने अब अपने जीवन भर में में कमाकर रखा सब कुछ लुट जाने के बाद अपने लाड़ले से मोबाइल फ़ोन भी छीन लिया है। 17 साला लड़के ने अपने पारिवारिक सदस्यों को कहा था कि वह आनलाइन पढ़ाई के लिए मोबाइल इस्तेमाल कर रहा है। नाबालिग लड़के ने कथित तौर पर तीन बैंक अकाऊंटस का प्रयोग कर गेम में खरीददारी की और अपने टीम सदस्यों को भी करवाई। परिवार को इस सम्बन्धित जानकारी तब मिली जब उन बैंक स्टेटमैंटस देखें। लड़के ने अपनी माता के पीऐफ खाते में से भी 2लाख रुपए और अपने बैंक अकाउँट में से भी पैसे ख़र्च कर दिए हैं।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.