नइ दिल्ली: राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द ने रविवार को तीनों विवादपूर्ण कृषि बिलों को अपनी सहमति दे दी है।विरोधी पार्टियों का कहना है कि यह बिल किसान विरोधी और कॉर्पोरेट समर्थकीय हैं,  हाल ही में संसद की तरफ से विरोध के बावजूद इन बिलों को के पास किया गया। सरकार का कहना है कि यह बदलाव महत्वपूर्ण है और किसानों को स्व -निर्भर बनाएगी। परन्तु एक दर्जन से अधिक विरोधी पार्टियों ने राष्ट्रपति कोविन्द को विवादपूर्ण बिलों पर दस्तखत न करने की अपील की थी। जिस में यह दोश लगाया गया था कि बिल कथित तौर पर संसद के नियमों की पूरी तरह अनदेखी करते हुए "ग़ैर -संवैधानिक तरीके से पास किया गए हैं। इन बिलों का विरोध इतना था कि शिरोमणि अकाली दल ने विवादपूर्ण कृषि बिलों की परवानगी को लेकर केंद्र में भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाले नेसनल डेमोक्रेटिक अलायंस (NDA) गठबंधान से भी अपना नाता तोड़ लिया।

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.