चंडीगढ़, 24 दिसंबर:भारत सरकार ने 28 दिसंबर और 29 दिसंबर, 2020 को कोविड-19 के टीके का ट्रायल शुरू करने के लिए पंजाब राज्य को चुना है। 2 जि़ले लुधियाना और शहीद भगत सिंह नगर को कोविड- 19 टीके के ट्रायल के लिए चुना गया और हर जि़ले में 5 स्थानों की पहचान की जाएगी। यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्री स. बलबीर सिंह सिद्धू ने प्रैस बयान के द्वारा दी। यह जानकारी देते हुए श्री सिद्धू ने बताया कि इस ट्रायल का उद्देश्य स्वास्थ्य प्रणाली में कोविड-19 टीकाकरण शुरू करने के लिए निर्धारित तरीकों की जांच करना है। यह कोविड-19 मुहिम की शुरुआत से पहले किसी भी आंतरिक कमियों या रुकावटों संबंधी जानकारी प्रदान करेगा, जिससे समय रहते उनको हल किया जा सके। यह परीक्षण दो जिलों में जि़ला क्लैकटर / मैजिस्ट्रेट के नेतृत्व में चलाया जायेगा।मंत्री ने बताया कि टीकाकरण हिस्सेदार यू.एन.डी.पी. और राज्य स्तर पर विश्व स्वास्थ्य संस्था इस गतिविधि का समर्थन करेंगे। इस दो दिनों के ट्रायल की सभी गतिविधियां नज़दीक करने, लाभपात्रियों के डेटा अपलोड, सैशन साइट निर्धारन (माईक्रो-प्लानिंग), सैशन साइट प्रबंधन (टैस्ट किए लाभपात्रियों के साथ) रिपोर्टिंग और शाम के ड्रीफिटिंग आदि शामिल की जानी हैं। उन्होंने कहा कि जि़ला और राज्य टास्क फोर्स में परीक्षण का सुझाव उपचार कार्यवाही के लिए उपयुक्त होगा (अगर ज़रूरी हो) टीके का ट्रायल 28 और 29 दिसंबर 2020 दौरान किया जाना है। मंत्री ने कहा कि इस ट्रायल के दौरान कोविड-19 टीकाकरण प्रक्रिया की एंड-टू-एंड टेस्टिंग को यकीनी बनाया जायेगा और एक इलेक्ट्रानिक एप्लीकेशन के द्वारा सहयोगी समूहों द्वारा पहले से पहचान किए गए लाभपात्रियों का टीकाकरण किया जायेगा। इस ट्रायल का मुख्य उद्देश्य वातावरण में को-विन एप्लीकेशन का प्रयोग की कार्यशील संभावना का मुल्यांकन करना और योजनाबंदी के बीच संबंधों का टैस्ट करना शामिल है। उन्होंने कहा कि टीके का यह परीक्षण 4 राज्यों जैसे कि आंध्रा प्रदेश, असम, गुजरात और पंजाब में चलाए जाने की प्रस्ताव है।


,

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.