कहा, सरकारी प्रोग्रामों को समय पर मुकम्मल करने के लिए योगदान देंगे सुपरवाईजऱ

 सरकारी नौकरियों में महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण होगा सुनिश्चित

 

चंडीगढ़, 23 दिसंबर: महिलाओं को रोजग़ार के मौके मुहैया करवाकर उन्हें अधिक सशक्त बनाने की पहल के अंतर्गत पंजाब की सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास मंत्री अरुणा चौधरी ने आज 34 आंगनवाड़ी सुपरवाईजऱों को नियुक्ति पत्र सौंपे। इससे एक महीना पहले भी 362 आंगनवाड़ी सुपरवाईजऱों को नियुक्ति पत्र जारी किये गए थे। यहाँ आज पंजाब भवन में करवाए गए समागम के दौरान एक्स सर्विसमैन और खेल कोटे में से पदोन्नत इन 34 आंगनवाड़ी सुपरवाईजऱों को विभाग में निष्ठा और समर्पण के साथ काम करने के लिए प्रेरित करते हुए श्रीमती अरुणा चौधरी ने कहा कि वर्करों को पदोन्नत कर सुपरवाइजऱ बनाने से न सिफऱ् विभाग को मज़बूती मिलेगी, बल्कि राज्य की नयी पीढ़ी को पौष्टिक ख़ुराक और स्वस्थ वातावरण देने में मदद के अलावा राज्य में हर वर्ग के लोगों को सरकार की कल्याण योजनाओं संबंधी समयबद्ध जानकारी देने में भी ये सुपरवाइजऱ अहम योगदान देंगी। सरकारी नौकरियों में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने और पंचायती चुनाव में 50 प्रतिशत सीटें आरक्षित करने के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह का धन्यवाद करते हुए कैबिनेट मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने एक लाख नौकरियाँ सरकारी क्षेत्र में देने का ऐलान किया है, जिसमें महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण दिया जायेगा। इस मौके पर कैबिनेट मंत्री के साथ विभाग के प्रमुख सचिव राजी पी. श्रीवास्तव, संयुक्त सचिव विमी भुल्लर और डिप्टी डायरैक्टर गुरजिन्दर सिंह मौड़ भी मौजूद थे। अरुणा चौधरी ने महिलाओं को लोक सेवा के लिए राजनीति में आगे आने की अपील की और कहा कि इससे महिलाओं के सशक्तिकरण के मंतव्य से शुरू किये प्रोग्रामों को लागू करने में मदद मिलेगी। कैबिनेट मंत्री ने स्पष्ट तौर पर कहा कि मुख्यमंत्री के उद्देश्य ‘घर-घर रोजग़ार मिशन’ के अंतर्गत नौजवानों को नौकरियाँ देने के लिए हमारे प्रयास जारी हैं और सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग में खाली पद भरे जा रहे हैं।



Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.