[post ads]

तीसरी तिमाही के दौरान राजस्व में 4.38 प्रतिशत वृद्धि हुई

चंडीगढ़, 3 जनवरी: पंजाब का दिसंबर 2020 महीने के दौरान कुल जी.एस.टी. राजस्व 1067.21 करोड़ रुपए रहा। पिछले साल इसी महीने का कुल जी.एस.टी. राजस्व 1009.03 करोड़ था, जो कि पिछले साल की अपेक्षा 5.77 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है।पंजाब के कर आयुक्त कार्यालय के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि अप्रैल से दिसंबर 2020 के दौरान पंजाब का कुल जी.एस.टी. राजस्व 7881.5 करोड़ रुपए था जबकि पिछले साल इन 9 महीनों के समय के दौरान कुल जी.एस.टी. राजस्व 9851.82 करोड़ रुपए था। इस तरह 20 प्रतिशत गिरावट दर्ज की गई है।सरकारी प्रवक्ता ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि दिसंबर 2020 के महीने सुरक्षित राजस्व 2403 करोड़ है जिसमें से पंजाब राज्य ने 1067 करोड़ रुपए प्राप्त किये हैं, जो कि कुल सुरक्षित राजस्व का करीब 44.4 प्रतिशत बनता है। इस तरह दिसंबर 2020 के महीने के लिए बकाया मुआवज़े की राशि 1336 करोड़ है जो कि अभी तक प्राप्त नहीं हुई। इसी तरह अप्रैल से नवंबर 2020 के समय के दौरान मुआवज़े की राशि 8856 करोड़ रुपए बनती है जो कि बाकाया पड़ी है।सरकारी प्रवक्ता ने आगे बताया कि राष्ट्रीय सकल जी.एस.टी. राजस्व संग्रह दिसंबर 2020 के महीने के दौरान 1,15,174 करोड़ रुपए है जबकि पिछले साल दिसंबर 2019 के महीने के दौरान राष्ट्रीय सकल जी.एस.टी.  राजस्व 1,03,184 करोड़ रुपए एकत्रित हुआ। इस तरह 12 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज हुई है। उन्होंने आगे बताया कि तीसरी तिमाही (अक्तूबर से दिसंबर 2020) के समय के दौरान राष्ट्रीय सकल जी.एस.टी. राजस्व 3,25,292 करोड़ रुपए एकत्रित हुआ जबकि इसी समय के दौरान पिछले साल 2019 में 3,02,055 करोड़ रुपए एकत्रित हुआ था। इस तरह इस साल पिछले साल की अपेक्षा 12 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई।जी.एस.टी. के अलावा पंजाब राज्य को वैट और सी.एस.टी. से भी टैक्स/राजस्व प्राप्त होता है। वैट और सी.एस.टी. एकत्रित करने में प्रमुख योगदान करने वाले उत्पाद शराब और पाँच पैट्रोलियम उत्पाद हैं। दिसंबर 2020 के महीने में वैट और सी.एस.टी. की कुलैक्शन 671.12 करोड़ रुपए है, जबकि पिछले साल दिसंबर 2019 के महीने के लिए यह कुलेक्शन 517.08 करोड़ रुपए थी। इस तरह इस साल पिछले साल के मुकाबले 29.79 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई।प्रवक्ता ने आगे बताया कि अप्रैल से दिसंबर 2020 के लिए वैट और सी.एस.टी. सकल राजस्व 4474.02 करोड़ रुपए रहा है जो कि पिछले साल के इसी समय के दौरान कुल राजस्व 4137.59 करोड़ रुपए था, जो कि 8.13 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है।जी.एस.टी., वैट और सी.एस.टी. को अगर इक_े पढ़ा जाये तो दिसंबर 2020 दौरान कर की वसूली 1738.33 करोड़ रुपए थी जबकि पिछले साल दिसंबर 2019 के दौरान यही वसूली 1526.11 करोड़ रुपए थी। इस तरह दिसंबर महीने साल 2020 की वसूली बीते बरस की अपेक्षा 212.22 करोड़ रुपए (16 प्रतिशत) अधिक रही। इसी तरह तीसरी तिमाही (अक्तूबर -दिसंबर) के दौरान वसूली 5168.48 करोड़ रुपए हुई जबकि पिछले साल इसी समय के दौरान वसूली 4474.15 करोड़ रुपए हुई थी जोकि इस साल 15.51 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाती है।प्रवक्ता ने आगे बताया कि तीसरी तिमाही के दौरान औसतन जी.एस.टी. राजस्व में पिछले साल की तीसरी तिमाही के मुकाबले 4.38 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी जबकि दूसरी और पहली तिमाही में क्रमवार 11.06 प्रतिशत और 52.65 प्रतिशत कमी दर्ज हुई थी।
-------

पंजाब में जी.एस.टी. राजस्व संग्रह का तुलनात्मक अध्ययन:-
महीना 2019 2020

अप्रैल 1304.13 करोड़ 156.28 करोड़ रु
मई 998.13 करोड़ 514.03 करोड़
जून 950.36 करोड़ 869.66 करोड़ रु
जुलाई 1548.15 करोड़ 1103.31 करोड़
अगस्त 1014.03 करोड़ 987.20 करोड़ रु
सितंबर 974.96 करोड़ 1055.24 करोड़ रु
अक्तूूबर 929.52 करोड़ 1060.76 करोड़ रु
नवंबर 1122.93 करोड़ 1067.81 करोड़ रु
दिसंबर 1009.03 करोड़ 1067.21 करोड़ रु


 पंजाब के जीएसटी राजस्व संग्रह की तुलना (तिमाही वार) : -
 तिमाही 2019 2020 प्रतिशत वृद्धि/कमी

अप्रैल-जून (तिमाही-1) 3252.62 1539.97 -52.65
जुलाई-सितंबर (तिमाही-2) 3537.14 3145.75 -11.06
अक्तूबर-दिसंबर (तिमाही-3) 3061.48 3195.78 4.38


Post a Comment

bttnews

{picture#https://1.bp.blogspot.com/-pWIjABmZ2eY/YQAE-l-tgqI/AAAAAAAAJpI/bkcBvxgyMoQDtl4fpBeK3YcGmDhRgWflwCLcBGAsYHQ/s971/bttlogo.jpg} BASED ON TRUTH TELECAST {facebook#https://www.facebook.com/bttnewsonline/} {twitter#https://twitter.com/bttnewsonline} {youtube#https://www.youtube.com/c/BttNews} {linkedin#https://www.linkedin.com/company/bttnews}
Powered by Blogger.