चंडीगढ़, 22 फरवरीः पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान सुनील जाखड़ ने आज कहा कि साल 2022 के विधान सभा मतदान में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह पार्टी का नेतृत्व करेंगे क्योंकि हाल ही में हुये म्यूंसिपल मतदान में राज्य के लोगों ने कांग्रेस पार्टी के समर्थन में स्पष्ट फतवा देकर मुख्यमंत्री की लीडरशिप में विश्वास प्रकट किया है। मुख्यमंत्री की तरफ से स्मार्ट सिटी और अमरुत स्कीमों के अंतर्गत 1087 करोड़ रुपए के विकास प्रोजेक्टों की शुरुआत किये जाने के लिए हुए एक समागम के दौरान श्री जाखड़ ने कहा, ‘‘म्यूंसिपल मतदान में कांग्रेस की समपूर्ण जीत से वोटरों ने न सिर्फ राज्य में कैप्टन अमरिन्दर सिंह की लीडरशिप को फिर प्रवानित किया है बल्कि उनकी भावी नेतृत्व में भी पंजाबियों नेे भरोसा जाहिर किया है।’’ उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी मिशन ‘2022 के लिए कैप्टन’ की शुरुआत पहले ही कर चुकी है और अगले मतदान भी उनके नेतृत्व में ही लड़ेगी। मुख्यमंत्री की सराहना करते हुये श्री जाखड़ ने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने बहुत ही कठिन समय में कांग्रेस का नेतृत्व किया है और पंजाब के लोग राज्य के प्रति उनके योगदान को भली-भाँति जानते हैं। उन्होंन कहा, ‘‘पंजाब शायद इस समय पर बहुत बुरे संकट में से गुजर रहा है, चाहे कोविड की बात हो, काले खेती कानूनों के कारण किसानों में बेचेनी की बात हो या फिर केंद्र सरकार के राज्य के प्रति बेरुखी वाले व्यवहार की, सिर्फ कैप्टन अमरिन्दर सिंह की दूरअन्देशी और लीडरशिप वाली पहुँच ही राज्य को इससे बाहर निकालने के समर्थ है। पंजाब के साथ किये जा रहे सौतेली माँ वाले सलूक ने केंद्र सरकार पर बरसते हुये श्री जाखड़ ने कहा कि किसानी संघर्ष का समर्थन करने के एवज में राज्य को सजा देने के लिए केंद्र सरकार ने आर्थिक नाकाबंदी समेत हर तरह का हथियार इस्तेमाल किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के अधीन मुल्क का संघीय ढांचा खतरे अधीन है। उन्होंने हाल ही में पाकिस्तान में ननकाना साहिब के दर्शनों के लिए जाने वाले जत्थे को इजाजत देने से इन्कार करने वाले केंद्र सरकार के फैसले पर सवाल उठाये और दोष लगाया कि केंद्र राज्य के विरुद्ध पक्षपाती रवैया अपना रहा है। शहरी इलाकों में विकास के उद्देश्य के साथ अलग-अलग प्रोजेक्टों की शुरुआत करने के लिए मुख्यमंत्री को बधाई देते हुये श्री जाखड़ को कहा कि यह गलत धारणा पाई जा रही थी कि उनकी सरकार सिर्फ ग्रामीण इलाकों के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा कि चाहे पंजाब एक खेती अर्थव्यवस्था वाला राज्य है और शहरी इलाकों में व्यापक स्तर पर शुरू किये गए विकास कामों के साथ यह धारणा भी दूर होगी। जाखड़ ने मुख्यमंत्री से अपील की कि वह यह यकीनी बनाये कि साल 2022 के लिए कांग्रेस के मैनीफैस्टो में अमृतसर-‘गुरू की नगरी’ को सर्वोत्तम शहर बनाने का वायदा किया जाये। उन्होंने कहा, ‘‘अमृतसर को वैटिकन सिटी की तर्ज पर दुनिया के सर्वोत्तम शहरों में से एक बनाया जाना चाहिए।’’ पंजाब यूथ कांग्रेस प्रधान बरिन्दर सिंह ढिल्लों ने म्युंसिपल चुनाव में जीत के बाद इन प्रोजेक्टों के आगाज़ को शानदार शुरुआत बताया। उन्होंने कहा कि शानदार जीत यह दर्शाती है कि पंजाब के लोगों का मुख्यमंत्री की लीडरशिप में बहुत ज्यादा भरोसा है। उन्होंने कहा कि सिर्फ कैप्टन अमरिन्दर सिंह राज्य को आगे ले जा सकते हैं और सामाजिक और सांप्रदायिक सदभावना कायम रख सकते हैं। बरिन्दर सिंह ढिल्लों ने कहा, ‘‘आपको 2022 के विधान सभा मतदान लड़ने होंगे क्योंकि पंजाब को आपके नेतृत्व की जरूरत है।’’


Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.