23 फरवरी तक मागी कार्यवाही रिपोर्ट

चंडीगढ़, 8 फरवरी:श्रम अधिकारों की कार्यकर्ता नौदीप कौर के मामले को मीडिया के एक हिस्से की तरफ से एक खबर के द्वारा उठाए जाने का ‘सू मोटो ’ नोटिस लेते हुये पंजाब राज अनुसूचित जाति आयोग ने सोमवार को अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) को इस मामले में दखल देने के लिए कहा जिससे जल्द से जल्द पीडि़ता को सहायता मिलने को यकीनी बनाया जा सके। आयोग ने इस सम्बन्धी तुरंत बनती कार्यवाही आरंभ करने के उपरांत 23 फरवरी तक रिपोर्ट भी माँगी है।यह प्रगटावा आज यहाँ पंजाब राज अनुसूचित जाति आयोग की चेयरपरसन तेजिन्दर कौर ने किया। उन्होंने बताया कि पीडि़त लडक़ी श्री मुक्तसर साहिब जिले की निवासी है, इसलिए कमीशन ने ‘सू मोटो ’ नोटिस लिया है। अतिरिक्त मुख्य सचिव गृृह मामले और न्याय को भेजे एक बयान में आयोग ने पीडि़त लडक़ी को राहत देने के अलावा प्रत्यक्ष तौर पर दखल देने के लिए भी लिखा है क्योंकि यह अनुसूचित जाति से सम्बन्धित एक महिला पर हुए अत्याचार के साथ जुड़ा बहुत गंभीर मामला है।जिक्रयोग्य है कि एक अखबार ने श्रम अधिकारों की कार्यकर्ता नौदीप कौर (23) के मामले सम्बन्धी एक खबर प्रकाशित की थी, जोकि लगभग एक महीने से पुलिस हिरासत में है और जिसको हरियाणा की सैशन कोर्ट ने जमानत देने से इन्कार कर दिया है।


Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.