मोगा पुलिस की तुरंत मुस्तैदी के चलते मिली सफलता

चंडीगढ़/मोगा, 19 मार्च - बीते दिनों गाँव मानूके में दो नौजवान लड़कियों को गोली मारकर मार देने की खौफनाक घटना को जिला मोगा पुलिस ने 24 घंटो में सुलझा लिया है। इस घटना के मुख्य आरोपी को घटना के समय इस्तेमाल किए गए हथियार और वाहन समेत गिरफ्तार कर लिया गया है। इस संबंधी जानकारी देते हुए जिला पुलिस प्रमुख श्री हरमन बीर सिंह गिल ने बताया कि बीते दिनों दो नौजवान लड़कियों को लगभग 35 साल की उम्र के एक नौजवान ने गोलियाँ मारकर मौत के घाट उतार दिया था। मोगा पुलिस इस घिनौनी घटना की सूचना मिलते ही तुरंत हरकत में आ गई। उन्होंने बताया कि गाँव शेखा पुलिस थाना समालसर, मोगा की रहने वाली पीडि़त लड़कियाँ अमनदीप कौर की उम्र 23 साल और कमलप्रीत कौर की 24 साल थी और दोनों बहनें थीं। लडक़ी अमनदीप कौर दसमेश कॉलेज डगरू में इम्तिहान देने गई थी और उसकी बहन कमलप्रीत कौर उसके साथ कॉलेज गई हुई थी, जब परीक्षा पूरी होने के बाद दोनों लड़कियाँ अपने गाँव लौट रही थीं तो आरोपी गुरवीर सिंह पुत्र जगदेव सिंह सरपंच गाँव शेखा उनको मिला और जबरदस्ती उनको अपनी कार (रजिस्ट्रेशन नंबर पीबी-03-वाई -3450) में अगवा कर लिया और अगवा करने के बाद मुलजिम कार को बाघापुराना क्षेत्र की तरफ ले गया। रास्ते में किसी बात पर आपसी बहस होने के उपरांत नेहाल सिंह वाला के नजदीक गाँव मानूके पहुँचने पर आरोपी ने लड़कियों पर 5 गोलियाँ चलाईं, जोकि उनके गर्दन और सिरों पर लगी, जिस कारण एक पीडि़त की मौके पर ही मौत हो गई और दूसरी हस्पताल ले जाते समय पूरी हो गई। इस घटना को बहुत ही गंभीरता के साथ लेते हुए मोगा पुलिस ने सारी रात पूरी कोशिश की और आखिर में आरोपी को 24 घंटों में ऑल्टो कार और 32 बोर रिवॉल्वर समेत गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि आरोपी का पिता गांव शेखा का सरपंच है। इस मामले संबंधी एफआईआर नं. 40 दिनांक 18-03-2013 यू / एस 302, 307 आइपीसी 25, 27 -54 / 59 आम्र्ज एक्ट पुलिस थाना निहाल सिंह वाला जिला जिला मोगा में दर्ज की गई है। आरोपी से और पूछताछ की जा रही है।
Tags ,

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.