[post ads]

जि़ला प्रशासन की उच्च स्तरीय टीम द्वारा राजिन्द्रा अस्पताल पटियाला के औचक निरीक्षण के दौरान सब कुछ दुरुस्त पाया गया


पटियाला, 11 मई : 
राजिन्द्रा अस्पताल पटियाला से संबंधित सोशल मीडिया पर किए जा रहे झूठे प्रचार को रोकने के लिए पटियाला के डिप्टी कमिश्नर श्री कुमार अमित और रजिन्द्रा अस्पताल की कोविड केयर इंचार्ज सुरभी मलिक ने आज अस्पताल के कोविड वॉर्ड का अचानक दौरा किया। पी.पी.ई. किट पहन कर डिप्टी कमिश्नर ने अन्य अधिकारियों के साथ कोविड वॉर्ड के प्रबंधों का निरीक्षण किया और मरीज़ों के साथ बातचीत की। डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि यह प्रमुख संस्था, संकट की इस घड़ी में कोविड मरीज़ों का मानक इलाज यकीनी बनाकर मानवता की सही सेवा कर रही है। उन्होंने कहा कि यह बहुत गर्व और संतुष्टी की बात है कि डॉक्टर, पैरा मैडीकल स्टाफ, सैनेटरी कर्मचारियों समेत सारी टीम पूरे जोश के साथ मानवता की सेवा में लगी हुई थी। डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि यह प्रमुख संस्था न सिफऱ् पटियाला, बल्कि पूरे मालवा क्षेत्र और अन्य राज्यों के लोगों की सेवा भी कर रही है। उन्होंने कहा कि राजिन्द्रा अस्पताल की समर्पित टीम द्वारा निभाई जा रही शानदार सेवा को इतिहास में सुनहरी शब्दों में लिखा जाएगा। श्री कुमार ने कहा कि सोशल मीडिया पर इस प्रमुख संस्था के खि़लाफ़ किया गया प्रचार बेतुका, हकीकत से कोसों दूर और पूरी तरह बेबुनियाद है। इस अचानक दौरे के दौरान डॉक्टर, नर्सें और वॉर्ड अटेंडेंट तन-मन से अपनी ड्यूटी करते हुए पाए गए और मरीज़ों की नियमित देखभाल की जा रही थी। इसी तरह वॉर्ड की अच्छी तरह सफ़ाई की हुई थी और आई.सी.यू. फ्लोर की सफ़ाई को यकीनी बनाने की कोशिश साफ़ दिखाई दे रही थी। वॉशरूम की चैकिंग के दौरान भी सफ़ाई तसल्लीबख्श पाई गई और सेवादार अपनी सेवाएं शानदार ढंग से निभा रहे थे। हालाँकि यह देखा गया है कि ज़्यादा मरीज़ों के अस्पताल में आने के कारण वॉशरूमों की नियमित सफ़ाई की ज़रूरत होती है, जिसके लिए सेवादार पहले ही ड्यूटी पर लगाए हुए थे। बहुत से मरीज़ अपने रिश्तेदारों के साथ बात करते हुए अपने मास्क हटा लेते हैं, जिसके गंभीर नतीजे हो सकते हैं, इससे बचने के लिए अस्पताल के अमले द्वारा नियमित काऊंसलिंग की जा रही थी। इसी तरह मरीज़ों को खाने-पीने के पदार्थों की नियमित आपूर्ति की जा रही थी, जिसके लिए पहले से ही एक व्यावहारिक ढंग अपनाया गया था। अधिकारियों ने कंट्रोल रूम की जाँच भी की, जहाँ सलाहकार और डॉक्टर नियमित तौर पर मरीज़ों के रिश्तेदारों को उनकी स्वास्थ्य स्थिति संबंधी अपडेट दे रहे थे। अधिकारियों ने मरीज़ों के रिश्तेदारों को इस संकट की घड़ी से निपटने के लिए एक मानव हितैषी पहुँच अपनाने के लिए कहा।इस मौके पर डिप्टी कमिश्नर श्री कुमार अमित और रजिन्द्रा अस्पताल की कोविड केयर इंचार्ज सुरभी मलिक के अलावा मैडीकल कॉलेज के वाइस प्रिंसिपल डॉ. आर.पी.एस. सिबिया, मैडीकल सुपरीटेंडैंट डॉ. एच.एस. रेखी, डॉ. विशाल चोपड़ा, डॉ. अमनदीप सिंह बख्शी, डॉ. सचिन कौशल और नर्सिंग सुपरीटेंडैंट सिस्टर गुरकिरन कौर भी मौजूद थे।

Post a Comment

bttnews

{picture#https://1.bp.blogspot.com/-pWIjABmZ2eY/YQAE-l-tgqI/AAAAAAAAJpI/bkcBvxgyMoQDtl4fpBeK3YcGmDhRgWflwCLcBGAsYHQ/s971/bttlogo.jpg} BASED ON TRUTH TELECAST {facebook#https://www.facebook.com/bttnewsonline/} {twitter#https://twitter.com/bttnewsonline} {youtube#https://www.youtube.com/c/BttNews} {linkedin#https://www.linkedin.com/company/bttnews}
Powered by Blogger.