[ads-post]

पंजाबी को उत्साहित करने के लिए भाषा अवार्ड के लिए तुरंत 5 करोड़ रुपए जारी करने के आदेश

चंडीगढ़, 3 मई : पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने सोमवार को दुनिया भर में रहते पंजाबियों के लिए गुरू नानक देव यूनिवर्सिटी, अमृतसर द्वारा शुरू किये आनलाइन प्रोग्रामों/कोर्सांें की डिजिटल तौर पर शुरुआत की।उच्च शिक्षा और भाषाएं विभाग के कामकाज की समीक्षा करते हुये मुख्यमंत्री ने पंजाबी भाषा को उत्साहित करने के लिए भाषा अवार्ड के लिए 5 करोड़ रुपए तुरंत जारी करने के भी आदेश दिए।मुख्यमंत्री ने कहा कि आनलाइन कोर्स नौजवानों को पंजाबी भाषा सिखाने में बहुत सहायक साबित होंगे जिससे उनमें पंजाब, पंजाबी और पंजाबियत की भावना पैदा होगी। इस पहलकदमी से विदेशों में बसते पंजाबी नौजवान पंजाब की अमीर और शानदार सभ्याचार विरासत से जुड़ेंगे और यह प्रयास उनको अपनी जड़ों के साथ जोड़ कर रखेगागुरू नानक देव यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर डा. जसपाल सिंह संधू ने कहा कि यू.जी.सी. ने देश की 981 यूनिवर्सिटियों में से 37 यूनिवर्सिटियों को कोर्स शुरू करने की आज्ञा दी है। गुरू नानक देव यूनिवर्सिटी पंजाब की एकमात्र राज्य की सरकारी यूनिवर्सिटी है जिसको यू.जी.सी. की तरफ से यह कोर्स शुरू करने का मान प्राप्त हुआ। उन्होंने कहा कि इससे अमरीका, ब्रिटेन, कैनेडा, आस्ट्रेलिया और अफ्रीका और यूरोप के हिस्सों में रहते पंजाबी भाईचारे की तरफ से निरंतर की जाती माँग पूरी हो गई और अब नौजवान पीढ़ी को पंजाबी भाषा में शिक्षा हासिल हो सकेगी।उन्होंने आगे बताया कि गुरू नानक देव यूनिवर्सिटी ने केटेगरी 1 की यूनिवर्सिटी होने के नाते विदेशों में बसते पंजाबियों की माँग को पूरा करने के लिए आनलाइन शिक्षा का डायरैक्टोरेट स्थापित किया है। यूनिवर्सिटी, पंजाबी भाषा में सर्टिफिकेट, ग्रैजुएट और पोस्ट ग्रैजुएट स्तर के कोर्स मुहैया करवाएगी। श्री संधू ने बताया कि इसके अलावा राज्य और देश के अन्य हिस्सों के विद्यार्थियों के लिए कंप्यूटर साईंस, कामर्स और मैनेजमेंट क्षेत्रों में तकनीकी और हुनर आधारित कोर्स भी शामिल किये जाएंगे।यूनिवर्सिटी ने कैंपस में आनलाइन शिक्षा को लागू करने के लिए वीडियो लैक्चरों की रिकार्डिंग और निगरानी की विधि के द्वारा इम्तिहानों के लिए एक स्टूडियो भी स्थापित किया है। इसके इलावा यूनिवर्सिटी ने स्वै-शिक्षा मटीरियल, ई-बुकस, वीड्यिोज, कुइज, आनलाइन विचारों और लाइव लैक्चरों की व्यवस्था वाली शिक्षा प्रबंधन प्रणाली (एल.एम.एस.) विकसित की है।जिक्रयोग्य है कि गुरू नानक देव यूनिवर्सिटी राज्य की अग्रणी यूनिवर्सिटी है जिसको नैक(एनएएसी) की तरफ से ए पल्स पल्स का दर्जा हासिल है। इसको यू.जी.सी., नयी दिल्ली की तरफ से ‘सर्वोत्तम कारगुजारी के लिए अथाह सामथ्र्य वाली यूनिवर्सिटी’ और ‘कैटागरी -1’ का दर्जा हासिल है।

Post a Comment

bttnews

{picture#https://1.bp.blogspot.com/-pWIjABmZ2eY/YQAE-l-tgqI/AAAAAAAAJpI/bkcBvxgyMoQDtl4fpBeK3YcGmDhRgWflwCLcBGAsYHQ/s971/bttlogo.jpg} BASED ON TRUTH TELECAST {facebook#https://www.facebook.com/bttnewsonline/} {twitter#https://twitter.com/bttnewsonline} {youtube#https://www.youtube.com/c/BttNews} {linkedin#https://www.linkedin.com/company/bttnews}
Powered by Blogger.