Type Here to Get Search Results !

अपडेट − आरएमपी डाक्टर को पुलिस ने दी जमानत, डीसी के आदेशाें पर फिर किया गिरफ्तार

कोरोना पॉजिटिव आरएमपी डाक्टर एकांतवास रहने के बजाय कर रहा था मरीजों की जांच 
गिरफ्तार करने के बाद डाक्टर को रखा जाएगा सरकारी ब्वाय स्कूल में बनी आरजी जेल में 

श्री मुक्तसर साहिब : जिले के गांव खुंडेहलाल में प्रेक्टिस करने वाला एक आरएमपी डाक्टर खुद कोरोना पॉजिटिव आने के बावजूद एकांतवास में रहना तो दूर मरीजों की जांच कर रहा था। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने चाहे डाक्टर पर मामला दर्ज करने के बाद जमानत पर रिहा कर  दिया गया था, बीटीटी न्यूज पर इस संबंध में प्रमुखता से खबर चलने के बाद जिला प्रशासन हरकत में आ गया। डीसी एम के अराविंद कुमार के आदेशाें व  सिविल सर्जन रंजू सिंगला व पीसीएस चरनजोत सिंह के प्रयासों से उपरोक्त आरएमपी डाक्टर को दोबारा से  गिरफ्तार कर सरकारी ब्वाय स्कूल में बनी आरजी जेल में भेजा जा रहा है। गौरतलब है कि थाना लक्खेवाली के सब इंस्पेक्टर हरजिंदर सिंह ने बुधवार को गुप्त सूचना के आधार पर छापामारी की तो गांव खुंडेहलाल स्थित अपनी क्लिनिक में आरएमपी डाक्टर तसपिंदरपाल सिंह पुत्र निहाल सिंह मरीजों की जांच कर रहा था। उनके अनुसार बुधवार को सुबह ही उक्त आरएमपी डाक्टर तसपिंदरपाल सिंह की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। हालांकि स्वास्थ्य विभाग एवं  सरकार के निर्देशों अनुसार किसी की भी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आ जाने पर उसे 17 दिन के लिए एकांतवास किया जाता है, लेकिन उक्त आएमपी डाक्टर अपनी खुद की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बावजूद वह एकांतवास में रहना तो दूर अपना क्लिनिक खोलकर मरीजों की जांच कर रहा था। सब इंस्पेक्टर हरजिंदर सिंह ने बताया कि उक्त तसपिंदरपाल सिंह के खिलाफ थाना लक्खेवाली में एफ.आई.आर. नंबर 22 धारा 188/269/270/271 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया था। 

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.