[post ads]

आधुनिक फर्नीचर और बाल पेंटिंग से सजेंगे आंगनवाड़ी केंद्र
स्वास्थ्य विभाग की हिदायतों के बाद बच्चों के लिए खुलेंगे आंगनवाड़ी केंद्र
आंगनवाड़ी मुलाज़िम जत्थेबंदियों से आंगनवाड़ी केन्द्रों को बेहतर बनाने के लिए सुझाव

चंडीगढ़, 27 अगस्त
पंजाब के सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अरुणा चौधरी ने कहा कि राज्य के आंगनवाड़ी केन्द्रों को चरणबद्ध तरीके से मॉडल आंगनवाड़ी केन्द्रों में बदला जायेगा, जिसमें छोटे बच्चों में सीखने की रुचि पैदा करन के लिए नयी सीखने की तकनीकों और रंगदार पेंटिंग पर ज़ोर दिया जायेगा। दीवार चित्रों के द्वारा बच्चों को सिखाने के साथ-साथ गाँव स्तर पर आंगनवाड़ी केन्द्रों के लिए संकेत लगाऐ जाएंगे जिससे उनकी गाँव स्तर पर अहम संस्था के तौर पर पहचान बने। आंगनवाड़ी केन्द्रों की ज़रूरतों के मुताबिक फर्नीचर और आधुनिक उपकरण हर केंद्र को मुहैया कराने के लिए मूल्यांकन किया जा रहा है।  यहाँ पंजाब भवन में आंगनवाड़ी वर्करों और हैल्परों के साथ आंगनवाड़ी केन्द्रों को मज़बूत करने के लिए हुई मीटिंग के दौरान कैबिनेट मंत्री ने ऐलान किया कि किराये की इमारतों या अन्य स्थानों पर चलते आंगनवाड़ी सैंटरों को अपनी इमारतों में तबदील किया जायेगा जिससे बच्चे सुरक्षित माहौल में रह सकें। आंगनवाड़ी केन्द्रों को बच्चों के लिए जल्दी खोलने के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि इस पर विचार किया जा रहा है। कोरोना महामारी के कारण बंद किये इन आंगनवाड़ी केन्द्रों को जल्द ही बच्चों के लिए खोला जायेगा। श्रीमती चौधरी ने कहा कि जिन आंगनवाड़ी केन्द्रों की इमारतों की मुरम्मत करवाने की ज़रूरत है, उनकी सूचियां तैयार कर ली गई हैं और काम जल्द शुरू किया जायेगा। उन्होंने कहा कि वह पंजाब के आंगनवाड़ी केन्द्रों को देश भर में से उच्चतम मानकों की तरह बनाने के इच्छुक हैं। इसलिए सुझावों के लिए आज आंगनवाड़ी वर्करों और हैल्परों की जत्थेबंदियों को बुलाया गया है। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को मिले सुझावों पर अमल करने के लिए आदेश दे दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि आंगनवाड़ी केन्द्रों में ही टीकाकरण कैंप लाने के लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ तालमेल किया जा रहा है जिससे कोई भी बच्चा टीकाकरण और अनीमिया से मुक्ति या अन्य सेवाओं से वंचित न रहे।  श्रीमती अरुणा चौधरी ने यह भी कहा कि फ्रंटलाईन आंगनवाड़ी टीम द्वारा ज़मीनी स्तर पर दी सेवाओं के साथ ही राज्य में ऐसा आधार बंधा है, जिससे महिलाओं, बच्चों एवं किशोर उम्र वालों के स्वास्थ्य और पोषण की दिशा में राज्य ने बड़ी उपलब्धी हासिल की। उन्होंने एक-एक वर्कर से सुझाव लिए और अपने विभाग के अधिकारियों को हर सुझाव पर तत्काल अमल करने के लिए कहा जिससे सेवाओं में सुधार करके राज्य के लाखों लाभार्थियों का जीवन स्तर ऊँचा उठाया जा सके। इस दौरान प्रमुख सचिव सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग श्रीमती राजी पी. श्रीवास्तव ने आंगनवाड़ी वर्करों द्वारा कोविड महामारी के दौरान फ्रंटलाईन वर्करों के तौर पर निभाई भूमिका की सराहना की, जिसके द्वारा पंजाब इस महामारी से दूसरे राज्य की अपेक्षा बेहतर ढंग से निपट सका। उन्होंने कहा कि आंगनवाड़ी वर्करों के काम का बहुत प्रचार नहीं होता परन्तु इसके बावजूद यह वर्कर और हैल्पर अपना काम ईमानदारी और संजीदगी से कर रही हैं। मीटिंग के दौरान जत्थेबंदियों के प्रतिनिधियों ने मान भत्ते में विस्तार करने की लम्बे समय से रहती माँग को पूरा करने पर सरकार का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि इससे ज़मीनी स्तर पर वर्करों का मनोबल बढ़ेगा और वह अधिक वचनबद्धता से अपना काम करेंगी। उन्होंने जायज माँगों के हक में खड़ा होने और वर्करों और हैल्परों की मुश्किलें सुनने के लिए कैबिनेट मंत्री श्रीमती चौधरी का धन्यवाद किया। विभाग के डायरैक्टर विपुल उज्जवल ने बताया कि शिक्षा विभाग के साथ बेहतर तालमेल के लिए एक साझा एक्शन कमेटी प्रस्तावित की गई है जिससे 2017 के दिशा-निर्देशों को मौजूदा संदर्भ में लागू किया जा सके, जिसमें मुख्य तौर पर शिक्षा विभाग के वालंटियरों को एक घंटे के लिए आंगनवाड़ी केन्द्रों के बच्चों को पढ़ाने के लिए भेजना शामिल था। उन्होंने बताया कि एक बार कमेटी बन जाने के बाद इन दिशा-निर्देशों को लागू करने में मदद मिलेगी। मीटिंग के दौरान आंगनवाड़ी केन्द्रों को सुचारू रूप से चलाने संबंधी सुझाव देते हुये आंगनवाड़ी मुलाज़िम यूनियन पंजाब (सीटू) की ऑल इंडिया प्रधान उषा रानी ने जल्दी से जल्दी आंगनवाड़ी केन्द्रों में लर्निंग किटें देने का सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि गाँवों में आंगनवाड़ी के साईन बोर्ड लगाऐ जाएँ और केन्द्रों की दीवारों पर आंगनवाड़ी केन्द्रों के द्वारा मिलते राशन की सूची दर्शाई जाये। ऑल पंजाब आंगनवाड़ी मुलाज़िम यूनियन की प्रदेश प्रधान हरगोबिन्द कौर ने बच्चों के टीकाकरण कैंप आंगनवाड़ी केन्द्रों में लगाने की माँग रखी। उन्होंने स्वास्थ्य एवं शिक्षा विभाग के साथ बेहतर तालमेल संबंधी भी कहा। ऑल इंडिया आंगनवाड़ी वर्करज़ हैल्परज़ यूनियन एटक पंजाब की प्रदेश प्रधान सरोज छप्पड़ीवाला ने आंगनवाड़ी केंद्र जल्द खोलने की माँग रखी। मीटिंग के दौरान ज्वाइंट डायरैक्टर गुरजिन्दर सिंह मौड़, डिप्टी डायरैक्टर रुपिन्दर कौर, डिप्टी डायरैक्टर अमरजीत सिंह कोरे और ज़िला प्रोग्राम अफ़सर सुखदीप सिंह भी उपस्थित थे।

Post a Comment

bttnews

{picture#https://1.bp.blogspot.com/-pWIjABmZ2eY/YQAE-l-tgqI/AAAAAAAAJpI/bkcBvxgyMoQDtl4fpBeK3YcGmDhRgWflwCLcBGAsYHQ/s971/bttlogo.jpg} BASED ON TRUTH TELECAST {facebook#https://www.facebook.com/bttnewsonline/} {twitter#https://twitter.com/bttnewsonline} {youtube#https://www.youtube.com/c/BttNews} {linkedin#https://www.linkedin.com/company/bttnews}
Powered by Blogger.