Type Here to Get Search Results !

लापता पत्नी की तलाश में पुलिस व रसूखदारों से प्रताडि़त पति ने किया सुसाइड

9 वीं कक्षा में पढ़ती पुत्री ने आयोग से मांगा इंसाफ

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने श्री मुक्तसर साहिब के डीसी व एसएसपी से मांगा जवाब

चंडीगढ़, 10 अगस्त : लापता पत्नी की तलाश में पुलिस व रसूखदारों से प्रताडि़त पति द्वारा आत्महत्या करने के मामले का कड़ा संज्ञान लेते हुए राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन विजय सांपला ने श्री मुक्तसर साहिब के डीसी व एसएसपी को नोटिस जारी कर तुरंत एक्शन टेकन रिपोर्ट पेश करने को कहा है। 9वीं कक्षा में पढ़ती मृतक की पुत्री महकप्रीत कौर ने आयोग को अपने पिता के सुसाइड नोट के साथ लिखित शिकायत भेजकर इंसाफ की गुहार लगाई है। आयोग को प्राप्त शिकायत के अनुसार मृतक जगमीत सिंह निवासी गांव चक्क तामकोट जिला श्री मुक्तसर साहिब ने अपनी पत्नी की गुमशुदा की शिकायत लक्खोवाली थाने व गांव के सरपंच को दी थी तथा बताया था कि उसकी पत्नी के गुम होने के पीछे गांव के ही कुछ रसूखदार व्यक्तियों जिनमें खुशबाग सिंह उर्फ भोला धनोआ पुत्र अर्जन सिंह, छिंदरभगवान सिंह उर्फ छिंदा पुत्र संतोख सिंह व आरएमपी डाक्टर गोरा सिंह शामिल हैं, की साजिश है। शिकायत में महकप्रीत कौर ने आरोप लगाया है कि  थाना पुलिस मुलाजमों द्वारा रसूखदारों की शह पर उसके पिता को इतना प्रताडि़त व मानसिक परेशान किया गया कि वह स्वयं लिखकर दे कि उसकी पत्नी अपनी मर्जी से भागी है। उसने आरोप लगाया कि डीएसपी मलोट व एसएचओ लक्खोवाली द्वारा रसूखदारों की शह पर सही कार्रवाई न करने के चलते उसके पिता ने आत्महत्या की है तथा पिता ने भी अपने सुसाइड नोट में उक्त आरोपियों का नाम लिखा है। राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने श्री मुक्तसर साहिब जिले के डिप्टी कमिश्नर तथा एसएसपी को लिखा है कि इस मामले की जांच करके आगामी 7 दिनों के भीतर कार्रवाई रिपोर्ट पेश करें। यदि आयोग के आदेशों की पालना नहीं होती तो जिला अधिकारियों को नई दिल्ली आयोग की अदालत में तलब किया जाएगा। 

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.