Type Here to Get Search Results !

मुख्यमंत्री ने राज्य के संपूर्ण, निरंतर और समावेशी विकास की वचनबद्धता पर दिया ज़ोर

 पठानकोट के धार्मिक स्थानों पर माथा टेका

पठानकोट, 17 अक्तूबरः
मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने आज कहा कि पंजाब सरकार राज्य के संपूर्ण, निरंतर और व्यापक विकास के लिए पूरी तरह वचनबद्ध है।

मुख्यमंत्री ने राज्य के संपूर्ण, निरंतर और समावेशी विकास की वचनबद्धता पर दिया ज़ोर

मुख्यमंत्री ने उप मुख्यमंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा और राजस्व मंत्री श्रीमती अरुणा चौधरी के साथ पठानकोट के स्वामी जगत गिरी आश्रम में माथा टेका। लोगों के बीच बैठकर सत्संग में शामिल हुए श्री चन्नी ने आश्रम को जाती सड़क के चौड़ीकरण प्रोजैक्ट के लिए 51 लाख रुपए की ग्रांट देने का ऐलान किया और आश्रम परिसर में एमकेएम पब्लिक स्कूल में होस्टल का नींव पत्थर भी रखा। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार पहले ही डेरा सच्चखंड बल्लां, जालंधर में श्री गुरु रविदास चेयर स्थापित करने का ऐलान कर चुकी है और आने वाले दिनों में इसे जल्दी ही कैबिनेट की मंज़ूरी मिल जायेगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वह राज्य के सर्वपक्षीय विकास और लोगों का कल्याण यकीनी बनाने के लिए कर्तव्यबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि हालांकि सरकार के पास समय बहुत सीमित है परन्तु उनकी सरकार पहले ही राज्य की प्रगति में तेज़ी लाने के लिए पूर्ण रूप से प्रयत्नशील है। श्री चन्नी ने दोहराया कि राज्य सरकार प्रदेश की प्रगति और लोगों की ख़ुशहाली को यकीनी बनाने के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगी।
स्वामी गुरदीप गिरि जी से आशीर्वाद लेते हुए मुख्यमंत्री ने इस बात पर ज़ोर दिया कि उनकी सरकार गरीब -हितैषी पहलकदमियों को समयबद्ध तरीके से लागू करने को यकीनी बनाने के लिए दिन-रात काम कर रही है। उन्होंने कहा कि समाज के कमज़ोर वर्गों को सस्ती और मानक स्वास्थ्य एवं शिक्षा सुविधाएं उपलब्ध करवाने के मद्देनज़र शिक्षा और स्वास्थ्य क्षेत्रों को मज़बूत करने की तरफ विशेष ध्यान दिया जा रहा है ताकि समाज के कमज़ोर वर्ग के युवा दिमाग़, समाज के विकास में अपना योगदान दे सकें। श्री चन्नी ने कहा कि स्वामी गुरदीप गिरी जी जो कुछ भी उनको कहेंगे, उसे तुरंत पूरा कर दिया जायेगा।
उुप मुख्यमंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा और राजस्व मंत्री अरुणा चौधरी ने भी जनसभा को संबोधन किया।
सत्संग के दौरान स्वामी गुरदीप गिरी जी ने मुख्यमंत्री को पगड़ी और स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया।
बाद में मुख्यमंत्री ने काली माता मन्दिर के भी दर्शन किये।
इस मौके पर विधायक अमित विज, सुशील कुमार रिंकू और जोगिन्द्र पाल, मेयर पन्ना लाल भाटिया, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र लांबा, अतिरिक्त उपायुक्त सन्दीप सिंह गढ़ा और अन्य उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.