Type Here to Get Search Results !

सौर ऊर्जा परियोजनाओं की महँगी दरों को घटाने के लिए ठोस कार्यवाही की जाए: वेरका

 चंडीगढ़, 30 अक्टूबर: 

सोलर पावर प्रोजैक्टों की महँगी दरों का प्रभाव राज्य के लोगों पर पडऩे के मद्देनजऱ पंजाब के नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत मंत्री श्री राज कुमार वेरका ने विभाग के अधिकारियों को हिदायत की है कि सोलर पावर प्रोजैक्टों के बिजली खऱीद समझौतों (पी.पी.ए.) की दरों को घटाने के लिए ठोस कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाए और दरों को घटाने की संभावनाओं की आलोचना के लिए ठोस तर्क और कार्यप्रणाली तुरंत आरंभ की जाए।

सौर ऊर्जा परियोजनाओं की महँगी दरों को घटाने के लिए ठोस कार्यवाही की जाए: वेरका

इस सम्बन्धी बैठक की अध्यक्षता करते हुए श्री वेरका ने महँगी बिजली दरों को घटाने की ज़रूरत पर ज़ोर देते हुए कहा कि राज्य सरकार द्वारा महँगी बिजली खऱीद दरों को घटाने के लिए विधान सभा में कानून लाने की संभावना समेत सभी तरीकों पर विचार किया जा रहा है, क्योंकि बिजली सम्बन्धी कानून में बदलाव राज्य के अधिकार का भी विषय है। बैठक के दौरान श्री एच.एस. हंसपाल चेयरमैन पेडा, श्री वेनू प्रसाद चेयरमैन-कम-मैनेजिंग डायरैक्टर पी.एस.पी.सी.एल, श्री के.पी. सिन्हा प्रमुख सचिव बिजली और एन.आर.ई.एस. विभाग, श्री एन.पी.एस. रंधावा मुख्य कार्यकारी अधिकारी पेडा, श्री एम.पी.  सिंह डायरैक्टर पेडा, श्री परमजीत सिंह डायरैक्टर जैनरेशन पी.एस.पी.सी.एल. और श्री मनजीत सिंह एस.ई. (आई.पी.सी.) पी.एस.पी.सी.एल. शामिल थे।

कैबिनेट मंत्री ने कहा कि करीब 7-8 साल पहले तीन पड़ावों में पी.पी.ए. पर हस्ताक्षर किए गए थे, जब राष्ट्रीय स्तर पर सौर ऊर्जा की कीमत आज के तुलनात्मक आधार पर बहुत ज़्यादा थी, इसलिए इन दरों में कटौती की संभावना की तरफ ध्यान देने की ज़रूरत है। उन्होंने कहा कि अब जब मौजूदा समय में सौर ऊर्जा की लागत बहुत कम है तब भी पी.एस.पी.सी.एल. द्वारा इन महँगी दरों की अदायगी की जा रही है, जो सरासर गलत है।

बिजली खऱीद संबंधी पूरी जानकारी देते हुए सी.एम.डी. पी.एस.पी.सी.एल. ने बताया कि मौजूदा समय में बिजली खऱीद सम्बन्धी दर काफ़ी कम है, इसलिए पी.एस.पी.सी.एल. द्वारा बहुत अरसे पहले दस्तख़त किए गए बिजली खऱीद समझौतों की दरों में कटौती की संभावनाएं तलाशने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.