Type Here to Get Search Results !

रंधावा ने जिला पुलिस मुखियों को दूसरे राज्यों से पंजाब में आने वाले गैर कानूनी चावल / धान को रोकने के लिए सख्ती के साथ नाकाबंदी के दिए आदेश


उप-मुख्यमंत्री द्वारा प्रमुख सचिव गृह और डी.जी.पी. को आज शाम तक अतिरिक्त जरुरी स्टाफ को तैनात करने के निर्देश 

दूसरे राज्यों के साथ लगते 11 सरहदी जिलों के एस.एस.पीज को चौकस रहने की खास हिदायतें


चंडीगढ़, 2 अक्तूबर:

धान के सीजन की शुरुआत पर उप-मुख्यमंत्री स. सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने पुलिस विभाग को दूसरे राज्यों से पंजाब की मंडियों में बेचने के लिए गैरकानूनी तौर पर आने वाले चावल और धान को पंजाब में दाखिल न होने के सख्ती के साथ निर्देश जारी किये हैं। 
स. रंधावा ने सभी जिला पुलिस मुखियों को चौकस किया है कि पंजाब के साथ लगते राज्यों की सरहदों के द्वारा आने वाले चावल और धान को रोकने के लिए सभी मुख्य सडक़ों और लिंक सडक़ों की दिन-रात नाकेबन्दी की जाये और ऐसे वाहनों की चैकिंग की जाये।
उप-मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव गृह और डी.जी.पी. को भी पत्र जारी करते हुए कहा है कि दूसरे राज्यों से आने वाले चावल / धान को रोकने के लिए जिलों में जरुरी अतिरिक्त पुलिस स्टाफ को आज शाम तक तैनात कर दिया जाये।
स. रंधावा ने सभी एस.एस.पीज को चौकस करते हुए कहा कि इन हुक्मों का पालन सख्ती से किया जाये, खासकर दूसरे राज्यों की सरहदों के साथ लगते जिलों फाजिल्का, श्री मुक्तसर साहिब, बठिंडा, मानसा, संगरूर, पटियाला, एस.ए.एस.नगर, रूपनगर, होशियारपुर, गुरदासपुर और पठानकोट के पुलिस प्रमुख यह यकीनी बनाएं कि किसी भी रास्ते कोई भी वाहन ऐसी गैरकानूनी कार्यवाही को अंजाम न दे सके।
उप-मुख्यमंत्री ने कहा कि हर साल अखबारों में यह खबरें आती रहती हैं कि पंजाब के साथ लगते राज्यों की सरहदों के द्वारा दूसरे राज्यों से चावल / धान की फसल पंजाब की मंडियों में बिकने के लिए आती है, जोकि सरासर गलत है। उन्होंने आगे बताया कि इस बार धान के सीजन दौरान इस गैर कानूनी कार्यवाही को रोकने के लिए पूरी सख्ती बरती जाये।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.