Type Here to Get Search Results !

Dixon Technologies - राज्य में अपने कारोबार का विस्तार करेगी ; 300 करोड़ रुपए का करेगी निवेश

 इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र को मिलेगा अधिक प्रोत्साहन

राज्य में अपने कारोबार का विस्तार करेगी डिक्सन टेक्नोलॉजीज़ ; 300 करोड़ रुपए का करेगी निवेश

चंडीगढ़, 15 दिसबंरः

डिक्सन टेक्नोलॉजीज़ द्वारा राज्य में किये जाने वाले 300 करोड़ रुपए के निवेश से पंजाब के इलेक्ट्रोनिक्स क्षेत्र को अधिक प्रोत्साहन मिलेगा।
आज यहां हुई मीटिंग के दौरान पंजाब के उद्योग और वाणिज्य मंत्री गुरकीरत सिंह कोटली और डिक्सन टेक्नोलॉजीज़ के कार्यकारी चेयरमैन सुनील वचानी ने व्यापक विचार-विमर्श किया।
गणमान्य व्यक्तियों ने पंजाब में इलेक्ट्रॉनिक्स निर्माण क्षेत्र के लिए समूचे कारोबारी मौकों से सम्बन्धित मामलों के बारे चर्चा की। मीटिंग के बाद डिक्सन के द्वारा एक विस्तृत पेशकारी दी गई जिसमें कंपनी के कार्य क्षेत्र और ग्रुप से जुड़े ब्रांडों की जानकारी दी गई। पेशकारी और चर्चा राज्य में डिक्सन की विकास योजनाओं की बात की गई।
कार्यकारी चेयरमैन सुनील वचानी ने उद्योग मंत्री को अवगत करवाया कि डिक्सन लुधियाना में भारतीय ग्रुप के साथ मिले कर सांझा उद्यम (जेवी) के द्वारा ज़मीन और इमारत समेत लगभग 300 करोड़ रुपए के निवेश से इलेक्ट्रॉनिक्स निर्माण प्लांट स्थापित करेगा। उन्होंने आगे बताया कि उनको टेलीकॉम सैक्टर के लिए भारत सरकार की पी.एल.आई. स्कीम के अंतर्गत प्रोडकशन लिंकड इंसैंटिव (पी.एल.आई.) की मंजूरी प्राप्त हुई है। अधिक जानकारी देते हुये सुनील वचानी ने बताया कि हाल ही में डिक्सन टैकनॉलॉजी और बीटल टैलीटैक लिमटिड ने सांझे उद्यम सम्बन्धी समझौता किया है। जेवी कंपनी-डिक्सन इलैक्ट्रो ऐपलायंसज़ प्राईवेट लिमटिड ने पंजाब के लुधियाना शहर में निर्माण सुविधा एक्वायर की थी।  
पंजाब में डिक्सन टेक्नोलॉजीज़ का स्वागत करते हुए श्री गुरकीरत सिंह कोटली ने श्री वचानी और डिक्सन ग्रुप की इलेक्ट्रॉनिक्स निर्माण क्षेत्र में शानदार योगदान के लिए सराहना की। श्री गुरकीरत सिंह कोटली ने कहा ‘मुझे खुशी है कि डिक्सन जैसी संस्थाएं, जो इलेक्ट्रॉनिक्स निर्माण क्षेत्र में अग्रणी हैं, पंजाब में इलेक्ट्रॉनिक्स निर्माण इको-सिस्टम तैयार करने के लिए उत्सुक हैं। मेरा उद्देश्य राज्य में बड़े सुधार लाना और रोज़गार के मौकों को बढ़ाने में अहम योगदान डालना है। डिक्सन जैसी संस्थाओं की मदद से हम यकीनी तौर पर इस उद्देश्य को हासिल करेंगे। उद्योग मंत्री ने यह भी कहा कि वह पंजाब को ईएसडीएम निर्माण में एक अग्रणी राज्य के तौर पर देखने के लिए बहुत उत्सुक हैं और डिक्सन टेक्नोलॉजीज़ के द्वारा यह नया निवेश ईएसडीएम निर्माण वातावरण को बढ़ावा देते हुये यकीनी तौर पर राज्य में इलेक्ट्रॉनिक्स निर्माण के नये युग की शुरुआत करेगा।

सीईओ रजत अग्रवाल के नेतृत्व वाली इनवैस्ट पंजाब टीम की सराहना करते हुये सुनील वचानी ने कहा कि उन्होंने टीम के साथ अलग-अलग मीटिंगें की और पंजाब में इलेक्ट्रॉनिक्स निर्माण प्रोजैक्ट स्थापित करने के लिए एक बढ़िया और मज़बूत केस तैयार किया। इसके बाद इनवैस्ट पंजाब टीम ने बहुत सक्रियता से और लगातार इसका पालन किया। श्री वचानी ने कहा कि पंजाब में अलग-अलग शैक्षिक और खोज संस्थाओं के साथ साथ शानदार बुनियादी ढांचा, नीतिगत प्रोत्साहन, बढ़िया संपर्क, बढ़िया तकनीकी प्रशिक्षण प्राप्त मानवीय शक्ति एक निर्णायक कारक था।

ज़िक्रयोग्य है कि उद्योग मंत्री की पहलकदमी और इनवैस्ट पंजाब के ठोस यतनों के नतीजे के तौर पर राज्य ने हाल ही में श्री पंजाब सीमेंट, जेकेपीऐल पैकेजिंग प्रोडक्टस लिमटिड, महिन्द्रा एंड महिन्द्रा लिमटिड स्वराज डिवीज़न, अरिहंत स्पिनिंग मिल्लज़, इंटरनैशनल ट्रैक्टर्ज़ लिमिटेड, हीरो इलेक्ट्रिक व्हीकल्ज प्राईवेट लिमिटड, वर्धमान आदर्श इस्पात प्राईवेट लिमटिड, ऐलेंजरज़ ओ.ई.एम. प्राईवेट लिमिटड, सनजिन इंडिया फीडज़ प्राईवेट लिमिटड आदि की तरफ से कई बड़े निवेश हासिल किये हैं।
इनवेस्टमैंट प्रमोशन के प्रमुख सचिव श्री तेजवीर सिंह ने श्री वचानी को इस प्रोजैक्ट को स्थापित करने के लिए इनवैस्ट पंजाब की तरफ से हर संभव सहयोग देने का भरोसा दिया।

इस मौके पर दूसरों के इलावा इनवैस्ट पंजाब के अतिरिक्त सी.ई.ओ. डा. सेनू दुग्गल और डिक्सन टैकनॉलॉजी इंडिया लिमटिड के प्रोजैक्ट मैनेजर पृथ्वी वचानी और चेयरमैन पंजाब इनफोटैक्क हरप्रीत सिंह संधू भी उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.