Type Here to Get Search Results !

पंजाब के लोग तय करें, गिल्ली-डंडा खेलने वाली सरकार चाहिए या अच्छे स्कूल और अस्पताल बनाने वाली: केजरीवाल

-पंजाब ने 25 साल कांग्रेस और 20 साल शिअद-भाजपा को मौका दिया, अब एक मौका 'आप' को दें : अरविंद केजरीवाल

..सिर्फ 80 दिनों का हिसाब देकर किस मुंह से 5 साल और मांग रही है कांग्रेस - भगवंत मान

पंजाब के लोग तय करें, गिल्ली-डंडा खेलने वाली सरकार चाहिए या अच्छे स्कूल और अस्पताल बनाने वाली: केजरीवाल

लंबी(श्री मुक्तसर साहिब) - (चेतन भूरा) 16 दिसंबर

आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मौजूदा कांग्रेस सरकार को पंजाब के इतिहास का सबसे भ्रष्ट और पाखंडी सरकार करार दिया और कहा कि मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने सरकार को मजाक बना दिया है। पंजाब की जनता को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि इस चुनाव में पंजाब के लोगों को को खुद फैसला करना है कि उन्हें अच्छे स्कूल-अस्पताल बनाने वाली जनहितैषी सरकार चाहिए या चन्नी सरकार जैसी गिल्ली- डंडा खेलने वाली सरकार चाहिए। पंजाब के लोगों से अपील करते हुए केजरीवाल ने कहा, 'आपने कांग्रेस को 25 साल और शिअद-भाजपा को 20 साल मौका दिया और बार-बार आजमाने की कोशिश की। हमें (आम आदमी पार्टी को) 2022 में सिर्फ एक मौका दीजिए।"

पंजाब के लोग तय करें, गिल्ली-डंडा खेलने वाली सरकार चाहिए या अच्छे स्कूल और अस्पताल बनाने वाली: केजरीवाल

आप सुप्रीमो ने गुरुवार को बादल परिवार के गढ़ लंबी विधानसभा क्षेत्र के गांव खुदिया में गुरमीत सिंह खुदिया के पक्ष में एक जनसभा को संबोधित किया. इस मौके पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद भगवंत मान, नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा, पंजाब मामलों के सह-प्रभारी राघव चड्ढा, विधायक प्रो. बलजिंदर कौर, प्रदेश महासचिव हरचंद सिंह बरसट,लंबी विधानसभा क्षेत्र से पार्टी प्रत्याशी गुरमीत सिंह खुदिया समेत अन्य प्रमुख नेता मौजूद थे।

पंजाब के लोग तय करें, गिल्ली-डंडा खेलने वाली सरकार चाहिए या अच्छे स्कूल और अस्पताल बनाने वाली: केजरीवाल

लंबी में लोगों की बड़ी सभा को संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा, “1966 में पंजाब बनने के बाद राज्य में कांग्रेस पार्टी ने लगभग 25 वर्षों तक शासन किया और शिरोमणि अकाली दल ने लगभग 20 वर्षों तक पंजाब पर शासन किया। अपने 25 साल के शासन में न तो कांग्रेस सरकार ने पंजाब के लिए कुछ किया और न ही बादल-भाजपा ने 20 साल में पंजाब के लिए कुछ किया। इन पार्टियों को आपने बार-बार आजमाने की कोशिश की, लेकिन विनाशकारी परिणाम सबके सामने है। एक बार केजरीवाल को मौका दीजिए। बाकी सभी पार्टियों को आप भूल जाएंगे।"

पंजाब के लोग तय करें, गिल्ली-डंडा खेलने वाली सरकार चाहिए या अच्छे स्कूल और अस्पताल बनाने वाली: केजरीवाल

कांग्रेस में चल रहे गृह युद्ध पर टिप्पणी करते हुए केजरीवाल ने कहा, "नवजोत सिद्धू मुख्यमंत्री चन्नी से लड़ रहे हैं, सुनील जाखड़ नवजोत सिद्धू से लड़ रहे हैं, प्रताप सिंह बाजवा जाखड़ से लड़ रहे हैं।" दरअसल, ये सभी पंजाब को लूटने के लिए लड़ रहे हैं। उन्हें पता है कि कांग्रेस सरकार जा रही है। इसीलिए ये सभी कांग्रेसी नेता पंजाब को लूटने में लगे हुए हैं।

केजरीवाल ने चरणजीत सिंह चन्नी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार पर पंजाब के इतिहास की सबसे भ्रष्ट और पाखंडी सरकार होने का आरोप लगाया और कहा कि चन्नी घोषणाएं करने का दिखावा करते हैं। चन्नी का कहना है कि रेत 5 रुपये प्रति फुट बिक रहा है, बिजली सस्ती कर दी गई है और केबल की दरें कम कर दी गई हैं। लेकिन लोगों को कुछ भी सस्ता नहीं मिल रहा है। केजरीवाल ने कहा, 'मुख्यमंत्री चन्नी हर जगह कह रहे हैं कि वे एससी समुदाय से हैं। भले ही चन्नी एससी समुदाय से हैं, लेकिन केजरीवाल एससी समुदाय के हर परिवार का सदस्य है। केजरीवाल एससी समुदाय का भाई है। जो (केजरीवाल) एससी समुदाय के हर बच्चे को मुफ्त शिक्षा, अच्छा इलाज और अधिकारी बनने के लिए मुफ्त प्रशिक्षण प्रदान करता है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब से उन्होंने पंजाब की माताओं, बहनों और बेटियों को एक हजार रू महीने देने का वादा किया है, तब से विपक्षी दलों के नेता उन्हें कोस रहे हैं। वे सवाल कर रहे हैं कि पैसा आएगा कहां से? उन्होंने कहा कि एक हजार महीने के लिए सालाना कुल 10,000 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इसी तरह मुफ्त बिजली मुहैया कराने पर 2,000 करोड़ रुपये खर्च होंगे। यह सारा पैसा माफिया राज्य को बंद करके वसूला जाएगा। 

केजरीवाल ने आरोप लगाया कि सत्ताधारी पार्टी के नेताओं ने सरकारी खजाने को लूटा और पंजाब पर 3 लाख करोड़ रुपये का कर्ज लाद दिया। पंजाब के खजाने से हर साल करीब 34,000 करोड़ रुपये घोटालों के जरिए इन नेताओं की जेब में जाते हैं। इस लूट को रोक कर आम आदमी पार्टी की सरकार पंजाब के 18 वर्ष से ऊपर के सभी माताओं-बहनों को हर महीने ₹1000 देगी, पंजाब में अच्छे स्कूल व अस्पताल बनाकर और कुछ स्तर की शिक्षा और इलाज की व्यवस्था दिल्ली की तरह ही  मुफ्त दे देगी एवं 300 यूनिट तक बिजली फ्री करेगी। आप की सरकार बनने पर शिक्षकों, डॉक्टरों और अन्य सरकारी कर्मचारियों को हड़ताल पर नहीं जाना पड़ेगा। 

जनसभा में लोगों को संबोधित करते हुए पार्टी के पंजाब प्रधान और सांसद भगवंत मान ने अकाली दल के प्रधान सुखबीर बादल पर निशाना साधते हुए कहा, "उनके पास ट्रांसपोर्ट है, बसें है, जहाजें है, होटलें है व अन्य कई बड़े कारोबार है। अब वे लोगों को बेवकूफ बनाने के लिए किसान बनने का ड्रामा कर रहे हैं।" कांग्रेस को झूठी पार्टी बताते हुए उन्होंने सवाल किया कि सिर्फ 80 दिनों का हिसाब देकर कांग्रेश किस मुंह से फिर से 5 साल मांग रही है? साढ़े चार साल के कैप्टन शासन का हिसाब कौन देगा जिसमें वर्तमान मुख्यमंत्री चन्नी भी मंत्री रहे थे? मान ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने घर-घर नौकरी, ₹2500 वृद्धा पेंशन और संपूर्ण कर्ज माफी जैसे अपने एक भी वादे पूरे नहीं किए। 2022 चुनाव में कांग्रेस को इन झूठे वादे का जवाब देना पड़ेगा।

चन्नी सरकार के झूठ की पोल खोलते हुए मान ने कहा, मुख्यमंत्री चन्नी ने पूरे पंजाब में झूठे बोर्ड लगा रखे हैं कि उन्होंने 36000 मुलाजिम पक्के किए। लेकिन उनके पास गिनाने को ऐसे 36 मुलाजिम भी नहीं है। चन्नी को सिर्फ झूठे ऐलान करना आता है। उन्होंने कहा, जिस तरह"काठ की हांडी बार-बार नहीं चढ़ती।" उसी तरह अकाली-कांग्रेस का झूठ इस बार बिल्कुल भी नहीं चलेगा। उन्होंने पंजाब के लोगों से अपील करते हुए कहा कि अकाली-कांग्रेस की झूठी बातों में न फंसे। एक बार पंजा और तक्कड़ी(तराजू) से बाहर निकल कर झाड़ू को मौका दीजिए। फिर आपको भविष्य में कभी भी इन पार्टियों को मौका देने की जरूरत नहीं पड़ेगी जैसे दिल्ली की जनता को नहीं पड़ रही है।

इस मौके पर लंबी से आप प्रत्याशी गुरमीत सिंह खुड्डियां ने कहा कि जत्थेदार जगदेव सिंह खुड्डियां ने हमेशा ईमानदार और सैद्धांतिक राजनीति पर प्रहरा दिया और वे उन्हीं के नक्शे कदम पर चल रहे हैं। इसलिए क्षेत्र के लोग उनके साथ खड़े हैं। उन्होंने कहा कि बादल परिवार और कैप्टन परिवार जिन्होंने पंजाब पर 25 साल राज किया, ने राज्य को लाखों करोड़ रुपये के कर्ज में डुबो दिया। कैप्टन और चन्नी ने जहाजों के मलबे पर 9,700 करोड़ रुपये खर्च किए, लेकिन आम आदमी के लिए खजाना खाली है।उन्होंने लोगों से अपील की कि पंजाब को लूटने वालों को वोट के माध्यम से राज्य की सत्ता से  हटाया जा सकता है।

इस अवसर पर भूचो से मास्टर जगसीर सिंह, बठिंडा से जगरूप गिल, मौड़ मंडी से सुखबीर सिंह माइसरखाना, फाजिल्का से समरबीर सिंह सिद्धू, जलालाबाद से जगदीप गोल्डी कंबोज, बलुआना से गोल्डी मुसाफिर, श्री मुक्तसर साहिब से जगदीप सिंह काका बराड़ और नील गर्ग, राकेश पुरी, जगदेव सिंह बाम, जशन बराड़ और अन्य नेता मौजूद थे।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

CRYPTO CURRENCY