Type Here to Get Search Results !

साइबर क्राइम के बढ़ते मामले गंभीर चिंता का विषय

 

साइबर क्राइम के बढ़ते मामले गंभीर चिंता का विषय

श्री मुक्तसर साहिब, 05 जनवरी-
 जैसे जैसे साईंस और तकनालौजी बढ़ती है वैसे वैसे ही इसका दुर्पयोग करने वाले लोग भी तैयार हो जाते हैं। आज तक सोशल मीडिया और नैट का उपयोग बेहद आम हो चुका है। हर मोबाइल धारक अकसर इसका उपयोग करता है। आम देखने में आया है कि कभी बैंक यां इनकम टैक्स विभाग के नकली अधिकारी बन कर मोबाइल धारकों को मीठी मीठी बातों में फंसा कर उनके बैंक खातों में से पैसे उडा लेते हैं। आधार कार्ड, वोटर कार्ड एंव पैन कार्ड बनाने के बहाने ठग किस्म के लोग भोले भाले व्यक्तियों को चूना लगा जाते हैं। आनलाइन पेमैंट करने के बहाने ठगी मारने के केस सामने आ रहे हैं। चाहे सरकार और सरकारी अदारे आम लोगों को अपने मोबाइल द्वारा किसी तरह के भी विवरण न देने के लिए समय समय पर सुचेत करते रहते हैं, परंतु फिर भी शातिर किस्म के लोग भोले भाले व्यक्तियों को अपने जाल में फंसा ही लेते हैं। इतना ही नहीं कई बार साइबर क्राइम अपराधी भोले भाले लोगों को ब्लैकमील करने के लिए फर्जी चैट कालें बना कर और वायरल करने का डरावा देकर उनको ठग लेते हैं। फोटो एडिट करके बेकसूर लोगों की समाज में इमेज खराब करते हैं और अपने छुपे मनसूबों को पूरा करते हैं। इतना ही नहीं कई बार तो बेहद शातिर किस्म के साइबर क्राइम अपराधी अपने मोबाइल फोनों से स्टेटस का प्राइवेसी मोड लगा कर लोगों को ब्लैक मेल करने की कोशिश भी करते हैं। एल.बी.सी.टी. (लार्ड बुद्धा चैरिटेबल ट्रस्ट) के चेयरमैन और आल इंडिया एस.सी./बी.सी./ एस.टी. एकता भलाई मंच के राष्ट्रीय प्रधान दलित रत्न जगदीश राय ढोसीवाल ने साइबर क्राइम और सोशल मीडिया के बढ़ रहे दुर्पयोग पर गंभीर चिंता व्यक्त की है। उन्होंने कहा है कि ऐसे लोग समाज और देश के लिए गंभीर खतरा पैदा करते हैं। ऐसे समाज विरोधी अनसरों को सख्ती से नकेल डालने की जरूरत है। प्रधान ढोसीवाल ने मोबाइल धारकों को अपील की है कि वह किसी भी अनजान व्यक्ति को अपने निजी विवरण न दें। ऐसे व्यक्तियों की सूचना पुलिस को तुरंत देनी चाहिए।  

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.