Type Here to Get Search Results !

शहर में लूटपाट और चोरी की वारदातें गंभीर चिंता का विषय

आम जनता का विश्वास डावांडोल

शहर में लूटपाट और चोरी की वारदातें गंभीर चिंता का विषय

श्री मुक्तसर साहिब, 02 मार्च- 
दस्म पातशाह श्री गुरू गोबिंद सिंह महाराज जी के पवित्र चरन छोह प्राप्त श्री मुक्तसर साहिब की पावन धरती आज कल गैर समाजी अनसरों की ग्रिफत की ओर तेजी से बढ़ रही है। इन अनसरों के हौंसले दिन प्रति दिन बढ़ रहे हैं। शहर में मोबाइल खोसने और चैनें झपटनें के मामले आम हो गए हैं। सकूटर, मोटर साइकल और अन्य वाहन चोरी की घटनाएं दिन प्रति दिन बढ़ रही हैं। नौजवानों का जीवन नरक बनाने वाले नषे के सौदागरों के हौंसले दिन प्रति दिन बढ़ रहे हैं। हर रोज चोरी की घटनाएं हो रही हैं। सार्वजनिक स्थानों की पार्किंग और घरों समेत धार्मिक स्थानों पर भी कई चोर अपना हाथ साफ कर जाते हैं। पिछले दिनों शहर के एक डाक्टर को अगवा किए जाने के मामले ने लोगों में दहशत पैदा कर दी है। बजारों में सरकारी नियमों को अनदेखा करके सरकारी स्थानों पर अवैध कब्जे किए हुए हैं। पुलिस स्टेशन सिटी से सिर्फ दो सौ मीटर की दूरी पर स्थित रैड क्रास की दुकानों के किराएदार दुकानदारों द्वारा रैड क्रास सोसाइटी से किए समझौते और शर्तों की शरेआम धज्जियां उडाई जा रही हैं। लोगों की आवाजाई और सुविधा के लिए बने व्रांडों पर अवैध कब्जे करके सरकारी सडक़ों पर भी कब्जा किया हुआ है। इन कब्जों से आम लोगों की आवाजाई में विघन पड़ता है। बिना किसी जानकारी या रजिस्ट्रेशन से चल रहे ई-रिक्शा प्रशासन और ट्रैफिक पुलिस का नाक चिड़ाते फिरते हैं। समाज एवं आम लोगों के भले और विकास को समर्पित प्रमुख गैर सरकारी समाज सेवी संस्था मुक्तसर विकास मिशन के प्रधान प्रसिद्ध समाज सेवक जगदीश राय ढोसीवाल ने शहर में बढ़ रही गैर कानूनी और गैर समाजी घटनाओं, कई दुकानदारों द्वारा सरकारी स्थानों पर अवैध कब्जे और बिना डर के हरल हरल करते रिक्शे और अन्य लूट खोह की घटनाओं को बेहद गंभीर चिंता का विषय करार दिया है। प्रधान ढोसीवाल ने कहा है कि इस प्रशासनिक एवं पुलिस लाप्रवाही के कारण आम लोगों का विश्वास डांवाडोल हो गया है। ऐसी हालतों में प्रशासन और पुलिस को सख्त कदम उठाने चाहिए। दुकानदारों द्वारा दुकानों के आगे किए अवैध कब्जों को हटवाने, ट्रैफिक नियमों की शरेआम धज्जियां उडाते फिरते ई-रिक्शा/आटो रिक्शा वालों के लिए सख्त हिदायतें जारी करने और ट्रैफिक नियमों की सख्ती से पालना करवाने के लिए प्रशासन एवं पुलिस को पुखता कदम उठाने चाहिए। ऐसा करके प्रशासन प्रति लोगों का डोल रहा विश्वास फिर से स्थिर हो सकता है।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.