Type Here to Get Search Results !

प्रधानमंत्री की तरफ से भगवंत मान को राज्य के लिए हर संभव सहायता का आश्वासन

  CM ने राज्य की अर्थव्यवस्था के पुनरूद्धार के लिए एक लाख करोड़ का वित्तीय पैकेज माँगा

प्रधानमंत्री की तरफ से भगवंत मान को राज्य के लिए हर संभव सहायता का आश्वासन

नई दिल्ली, 24 मार्च: 
पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज राज्य की अर्थव्यवस्था के पुनरूद्धार के साथ-साथ व्यापक विकास को सुनिश्चित बनाने और लोगों के कल्याण के लिए केंद्र सरकार से एक लाख करोड़ रुपए के विशेष वित्तीय पैकेज की माँग की है।
भगवंत मान ने आज दोपहर यहाँ संसद भवन में प्रधानमंत्री के साथ उनके कार्यालय में मुलाकात की। प्रधानमंत्री को राज्य की दयनीय वित्तीय हालत के बारे में अवगत करवाते हुए भगवंत मान ने कहा कि पिछली सरकार राज्य पर 3 लाख करोड़ रुपए का कजऱ् छोड़ गई और उन्होंने अगले दो सालों के लिए प्रति वर्ष 50,000 करोड़ रुपए का वित्तीय पैकेज तुरंत देने की माँग की, जिससे पटरी से उतरी हुई अर्थव्यवस्था को फिर पटरी पर लाया जा सके। भगवंत मान ने उम्मीद ज़ाहिर की कि इस वित्तीय सहायता के स्वरूप तीसरे साल के दौरान राज्य की अर्थव्यवस्था आत्मनिर्भर और वित्तीय पक्ष से स्थिर हो जाएगी।
भगवंत मान ने आगे कहा कि उनकी सरकार राज्य से माफीए का मुकम्मल सफाया करके खाली खज़़ाना भरने के लिए ठोस प्रयास करेगी। उन्होंने आगे कहा कि देश की आज़ादी के लिए पंजाबियों ने बड़े बलिदान दिए हैं और यहाँ तक कि अब भी हमारे बहादुर पंजाबी जवान अंदरूनी और बाहरी दुश्मनों से देश की एकता और अखंडता की सुरक्षा करने के लिए सरहदों की रक्षा कर रहे हैं।
पंजाब के सरहदी राज्य होने के प्रसंग में राष्ट्रीय सुरक्षा का एक ओर अहम मुद्दा उठाते हुए भगवंत मान ने सरहद पार की आधुनिक तकनीकों से लैस दुश्मन ताकतों के प्रयासों को नाकाम करने के लिए केंद्र सरकार से पूरे दिल से सहयोग की माँग की। उनकी तरफ से भी प्रधानमंत्री को यह आश्वासन दिया गया कि पंजाब की तरफ से इस सम्बन्ध में केंद्र को हर संभव सहायता दी जाएगी और मुख्यमंत्री की ओर से केंद्र को राज्य की घुसपैठ विरोधी कार्यवाहियों का मुकाबला करने के लिए राज्य बलों को अत्याधुनिक तकनीक मुहैया करवाने के लिए आग्रह किया गया।
मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद प्रधानमंत्री के साथ अपनी पहली मीटिंग को सकारात्मक बताते हुए भगवंत मान ने कहा श्री मोदी ने पंजाब को फिर से रंगला पंजाब बनाने के लिए हर संभव सहायता और पूर्ण सहयोग देने का आवश्वासन दिया। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘यदि पंजाब विकास की तीव्र गति से करेगा तो इससे भारत ही ख़ुशहाल होगा।’’ महान पंजाबी कवि प्रोफ़ैसर मोहन सिंह की कविता में से कुछ पंक्तियों का जि़क्र करते हुए भगवंत मान ने कहा कि पंजाब, भारत की अंगूठी में जड़े हुए अनमोल नग की तरह है।’’ उन्होंने उदासी भरे लहज़े में कहा कि पंजाब में बीते समय में कुछ गलत सरकारों के चुने जाने के फ़ैसलों के कारण इस अनमोल नग की चमक फीकी पड़ गई। अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार पंजाब को देश का अग्रणी राज्य बनाने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगी और विश्व स्तर पर मुल्क का नाम भी रौशन होगा।
भगवंत मान द्वारा उठाए गए मसलों के जवाब में प्रधानमंत्री ने कहा कि वह इस समूचे मामले को केंद्रीय वित्त और गृह मंत्रालय के समक्ष उठाएंगे जिससे राज्य की बनती मदद की जा सके।
इस मौके पर भगवंत मान ने प्रधानमंत्री को स्नेह के रूप में शॉल और गुलदस्ता भेंट किया और प्रधानमंत्री ने भी उनको अच्छी सेहत और मुख्यमंत्री के रूप में सफल पारी की शुरुआत करने की कामना की।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.