Type Here to Get Search Results !

मुक्तसर में तीन सीटों पर चला झाडू, पूर्व सीएम बादल भी नहीं बचा पाए अपनी सीट

 - पिछले चुनाव में जितने वोट मिले थे अब उतने माजर्न के साथ जीते मुक्तसर से काका बराड़

मुक्तसर में तीन सीटों पर चला झाडू, पूर्व सीएम बादल भी नहीं बचा पाए अपनी सीट

श्री मुक्तसर साहिब, 10 मार्च (BttNews) :
राज्य भर में चली झाड़ू की आंधी में जहां बड़े बड़े दिग्गज लुड़क गए वहीं मुक्तसर जिले में भी आम आदमी पार्टी का जादू इस कद्र चल निकला कि लंबी क्षेत्र से चुनाव जीतकर पांच बार मुख्यमंत्री बन चुके प्रकाश सिंह बादल भी अपनी सीट नहीं बचा पाए। जिले में चार में से तीन सीटों पर झाडू चला जबकि महज पूर्व ट्रांस्पोर्ट मंत्री राजा वड़िंग ही अपनी साख बचाने में कामयाब रहे। मुक्तसर से जगदीप सिंह काका बराड़ को पिछली बार 2017 में जितने वोट मिले थे अबकी बार उन्होंने तत्कालीन एमएलए कंवरजीत सिंह रोजी बरकंदी को उतने माजर्न के साथ हराया।
गौरतलब है कि जिला मुक्तसर साहिब में मलोट, लंबी व मुक्तसर तीनों सीटों पर पहले ही राउंड से झाडू का पलड़ा भारी रहा तथा यहां मुकाबले में अकाली दल रहा जबकि कांग्रेस कहीं भी मुकाबले में नहीं दिखी। चौथी सीट गिद्दड़बाहा में शुरूआती दौर से आगे चलते रहे अकाली दल के हरदीप सिंह डिंपी ढिल्लो अंतिम दौर में कांग्रेस के अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग से मुकाबला हार गए। श्री मुक्तसर साहिब से शुरूआती दौर से ही आगे चलते रहे आम आदमी के जगदीप सिंह काका बराड को 76321 जबकि निकटतम प्रतिद्वंदी कंवरजीत सिंह रोजी बरकंदी को 42127 वोट मिले। पूर्व विधायक रोजी बरकंदी को काका बराड़ ने 34194 वोटों के अंतर से हराया, जबकि उनको पिछले चुनाव में महज 33201 वोट ही मिले थे। कांग्रेस प्रत्याशी करण कौर बराड़ जहां 14290 मत ही हासिल कर पाई वहीं भाजपा के राजेश गोरा पठेला को भी महज 10634 वोट मिल पाए। मलोट हलके से आम आदमी पार्टी की प्रत्याशी बलजीत कौर ने 77370 वोट हासिल करके अकाली दल के उम्मीदवार हरप्रीत कोटभाई को 40261 वोटों के भारी भरकम अंतराल से हराया। यहां कांग्रेस की रुपिंदर कौर रूबी को महज 17547 वोट ही मिल पाए जबकि पंजाब लोक कांग्रेस व भाजपा के संयुक्त प्रत्याशी करनबीर सिंह 1162 वोट पर ही सिमटकर रह गए तथा नोटा को 894 वोट मिले। उधर लंबी से पहली बार विधानसभा चुनाव में उतरे आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी गुरमीत सिंह खुड्डियां ने पांच बार मुख्यमंत्री रह चुके अकाली दल के ही दिग्गज नहीं बल्कि आयु के आधार पर भी पूरे पंजाब के सबसे अधिक उम्र के प्रत्याशी प्रकाश सिंह बादल को 11396 वोटों के अंतर से मात देकर इतिहास रच दिया उन्हें 66313 जबकि बादल को 54917 वोट मिले। मुक्तसर में जगदीप सिंह काका बराड़ की जीत के साथ ही समर्थकों में खुशी की लहर दौड पड़ी। लोगों ने ढोल की थाप पर भंगडे डाले तथा होली से पहले ही लोगों ने खूब लाल गुलाल से धुलंडी खेली। इसके अलावा मलोट में जहां डाक्टर बलजीत कौर की जीत पर समर्थकों ने रंगों से खेलकर नाचते हुए खुशी मनाई वहीं लंबी क्षेत्र में गुरमीत सिंह खुड्डियां की जीत पर भी समर्थकों ने खुशी का इजहार किया।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.