ਤਾਜ਼ਾ ਖ਼ਬਰਾਂ

लुधियाना उत्तरी भारत का औद्योगिक केंद्र बनने की राह पर: उद्योग मंत्री गुरकीरत सिंह

bttnews
0

 378.77 एकड़ क्षेत्रफल में हाई-टैक वैली की जा रही विकसित

चंडीगढ़, 25 अक्टूबर: 
लुधियाना को उत्तरी भारत का औद्योगिक केंद्र बनाने के मद्देनजऱ पंजाब सरकार द्वारा गाँव धनानसू में 378.77 एकड़ क्षेत्रफल में हाई-टैक वैली विकसित की जा रही है। यह वैली सरकारी संस्था पंजाब स्मॉल इंडस्ट्रीज़ एंड एक्सपोर्ट कोर्पोरेशन द्वारा तैयार की जा रही है।

लुधियाना उत्तरी भारत का औद्योगिक केंद्र बनने की राह पर: उद्योग मंत्री गुरकीरत सिंह

378.77 एकड़ ज़मीन के पूरे हिस्से के लिए नक्शा योजना, चेंज ऑफ लैंड यूज़ (सीएलयू), ई.आई.ए. नोटिफिकेशन के अधीन वातावरण सम्बन्धी मंज़ूरी, रेरा आदि के लिए मंज़ूरी पहले ही प्राप्त हो चुकी है। इस प्रोजैक्ट पर 365 करोड़ रुपए की लागत आएगी।
हीरो साईकल्ज़ लिमटिड जोकि साइकिल उद्योग में एक प्रमुख संस्था है, की तरफ से हाई टैक वैली के अंदर 100 एकड़ क्षेत्रफल में बने हीरो इंडस्ट्रियल पार्क में अत्याधुनिक बाईसाईकिल्स और ई-बाईक्स के निर्माण के लिए अत्याधुनिक इकाई लगाई गई है। इस इकाई का उद्घाटन अप्रैल 2021 में किया गया था। हीरो इंडस्ट्रियल पार्क में इस यूनिट की सहायक इकाईयाँ भी होंगी।
इसी तरह अदित्या बिरला ग्रुप, फॉर्चून 500 कंपनी, ने अपनी प्रमुख कंपनी ग्रॉसिम इंडस्ट्रीज़ लिमटिड के ज़रिए अपने आने वाले पेंट कारोबार के लिए पंजाब को एक निवेश स्थान के तौर पर चुना है। ग्रुप ने अपने नए उद्यम के लिए हाई टैक वैली में 61.38 एकड़ औद्योगिक ज़मीन खऱीदी है। 
अदित्या बिरला का आगामी प्लांट नवीनतम निर्माण प्रौद्यौगिकी से लैस होगा और इस तरह उच्च तकनीकी कुशलता पर काम करेगा। प्लांट को डी.सी.एस/पी.एल.सी. की उन्नत तकनीक के द्वारा कंट्रोल किया जाएगा। प्लांट के अंदर आर.एम. पी.एम. और एफ.जी. वेयरहाऊसों के प्रबंधन के लिए स्वचालित विधि का प्रयोग किया जाएगा। सुरक्षित काम के मापदण्डों को सुनिश्चित बनाने के लिए, प्लांट में उत्तम दर्जे की सुरक्षा और वातावरण सुरक्षा प्रणालियां होंगी। निर्माण कामों को बेहतर बनाने के लिए प्लांट में आई.आई.ओ.टी-4 के सिद्धांत का प्रयोग किया जाएगा। 
इसके अलावा जे.के. पेपर्स लिमटिड को बक्सों और पैकेजिंग उत्पादों के निर्माण के लिए अपनी यूनिट स्थापित करने के लिए 17 एकड़ औद्योगिक ज़मीन आवंटित की गई है।
पंजाब के उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री गुरकीरत सिंह ने कहा कि उच्च गुणवत्ता और मानक बिजली मुहैया करवाने के लिए पंजाब स्टेट ट्रांसमिशन कोर्पोरेशन लिमटिड (पी.एस.टी.सी.एल.) द्वारा 30 एकड़ ज़मीन पर 400 के.वी. का बिजली ग्रिड स्टेशन स्थापित किया जाएगा, जिसके लिए ज़मीन आवंटित कर दी गई है। उन्होंने कहा कि पीएसटीसीएल ने साइट पर पहले ही विकास कार्य शुरू कर दिए हैं।
उन्होंने कहा कि सरल संपर्क प्रदान करने के लिए हाईटेक वैली को चण्डीगढ़-लुधियाना नेशनल हाईवे के साथ 100 फुट चौड़ी 4-लेन और 8.3 किलोमीटर लम्बी बाहरी कंक्रीट सडक़ बनाकर जोड़ा गया है और यह 14 अप्रैल, 2021 को लोकार्पित कर दी गई थी।
गुरकीरत सिंह ने बताया कि इसके अलावा हाईटेक वैली का आंतरिक विकास भाव 33 मीटर और 24 मीटर चौड़ी आंतरिक कंक्रीट सडक़ों का निर्माण, तूफ़ानी पानी की निकासी प्रणाली, सीवरेज क्लैकशन सिस्टम और ऐफलूऐंट क्लैकशन सिस्टम का कार्य मुकम्मल कर लिया गया है और अन्य काम जारी हैं। उन्होंने आगे कहा कि हाई टेक वैली का बुनियादी आंतरिक विकास 28 फरवरी, 2022 तक पूरा हो जाएगा।  

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)
✨ ਅੱਪਡੇਟ