[post ads]


वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल द्वारा समारोह का उद्घाटन

4&4 ज़ीप चालकों की ऑफ रोडिंग और घुड़सवारों के हैरेतअंगेज़ करतबों ने दर्शक किये मंत्रमुग्ध

चंडीगढ़, 30 नवंबर:
13 से 15 दिसबंर तक होने जा रहे तीसरे मिलिट्री लिटरेचर फेस्टिवल के लिए आधार बांधते हुये यहाँ शनिवार को 4&4 ज़ीप चालकों की ऑफ-रोडिंग प्रदर्शनी के दौरान अपने हैरेतअंगेज़ करतबों के साथ दर्शकों को मंत्रमुग्ध करके रख दिया। इसके साथ ही टी-90 टेक, लाईट एंड मीडियम मशीन और शानदार बंदूकों समेत रक्षा हथियारों की प्रदर्शनी ने पूरे माहौल को देश भक्ति के रंग में रंग दिया।

मुख्य समागम के लिए माहौल तैयार करते हुये 2 दिवसीय मिलिट्री कार्निवल में पहली बार भाग ले रहे 50 से अधिक चालकों ने हिस्सा लिया और अपने विलक्षण कारनामों से दर्शकों में उत्साह भर दिया।
एम.एम. 50, जीपसियों, थार, पोलारिस और फोर्स गुरखा, बलैरो जैसी विश्व प्रसिद्ध गाडिय़ों पर सवार होकर नौजवान चालकों ने अपने हौंसले, शक्ति, सहनशीलता और साहस के साथ रक्षा सेनाओं के जोश और निडरता का प्रदर्शन किया। आर्मी एडवेंचर सैल के सहयोग से आज करवाए गए समागमों का उद्देश्य नौजवानों को रक्षा बलों द्वारा आकर्षित करने के उद्देश्य से आर्मी की ऑफ -रोडिंग महारत को प्रदर्शित करना था।
मिलिट्री कार्निवल का उद्घाटन करते हुये वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने कहा कि इस कार्निवल का उद्देश्य नौजवानों को समृद्ध फ़ौजी विरासत से अवगत करवाते हुये उनमें देश भक्ति की भावना को उत्साहित करना है। उन्होंने नौजवानों में राष्ट्र निर्माण की भावना को विकसित करने के लिए रक्षा अधिकारियों द्वारा किये गए इस महान प्रयास की सराहना की।
मिलिट्री लिटरेचर फेस्टिवल, जो कि विभिन्न फ़ौजी इतिहासकारों, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह और पंजाब के राज्यपाल वी.पी.सिंह बदनौर की सांझी पहलकदमी और पश्चिमी कमांड के सहयोग से करवाया जाता है, ने साहित्यक कामों, कला, संगीत और शिल्पकारी के विभिन्न पहलूयों को सफलतापूर्वक शामिल करते हुये थोड़े ही समय में बेहद प्रसिद्धि हासिल की है और बड़ी संख्या नौजवानों को रक्षा सेनाओं को पेशे के तौर पर चुनने के लिए उत्साहित किया है। पिछले साल 50,000 से अधिक दर्शकों की हाजिऱी से इस फेस्टिवल में पहुँचने वालों की संख्या में 5 गुणा वृद्धि दर्ज की गई है। 

इसके अलावा नौजवानों में मान और देश भक्ति की भावना पैदा करने के लिए कार्निवल में हथियारों की प्रदर्शनी भी लगाई गई जिसमें आटोमैटिक ग्रेनेड लांचर, आई.एन.एस.ए.एस. राइफल से लेकर भारतीय हथियारबंद सेनाओं के तोपखाने, बखतरबन्द और इंजीनियरिंग के क्षेत्र में विलक्षण अनुसंधानों के साथ साथ एंटी एयरक्राफ्ट एल 70 बंदूकों को डिस्पले पर रखा गया।
हथियारों की इस प्रदर्शनी में कैप्टन अमरिन्दर सिंह की दूसरी सिख रेजीमेंट और फस्ट गार्डज़, 25 एयर डिफेंस रैजीमेंट के अलावा 270 इंजीनियर और 12 हथियारबंद रैजीमैंटें शामिल थी।
किसी भी रासायनिक या जीव-वैज्ञानिक हमले के विरुद्ध हमारी फ़ौज के तकनीकी विकास और रक्षा तैयारियों की गति को दिखाना इस प्रदर्शनी का आकर्षण था।
सेना की तरफ से जंग के दौरान इस्तेमाल की गई कुआंटम स्निफर, नॉन लिनियर जंकट डिटेक्टर और माइन डिटैकटिंग सैट और 12 सीटर न्यूमेटिक किश्ती ने दर्शकों को हैरान कर दिया।
इसके इलावा सेना और पंजाब आम्र्ड पुलिस के जोशीले घोड़सवारों और स्थानीय सिटी क्लब के विद्यार्थियों ने मोटसाईकलें और जीपसियों के ऊपर से छलाँग लगाते हुये और आगे की बाधाओं को पार करते हुये अपने हैरतअंगेज़ करतबों से नौजवानों और बुज़ुर्गों को हैरान कर दिया।
2 सिखों द्वारा बजाए पाईपर बैंड की धुनों की लय में 800 मीटर प्रति मिनट की गति से घुड़सवारी करते हुये पंजाब हथियारबंद पुलिस के जवानों ने टैंट पैगिंग, ट्रिक राइडिंग के दौरान घोड़ों के साथ बेहतरीन तालमेल और जोश भरपूर करतब दिखाते हुये दर्शकों से तालियां बजायी।

डॉग शो के दौरान विभिन्न आर्मी डॉग की इकाईयां जिनमें रीमाउंट वैटरनरी कॉर्पस सैंटर और कॉलेज, मेरठ और एन.एस.जी. शामिल हुए, के माहिर कुत्तों ने दर्शकों के जुनून को शिखरों पर पहुंचा दिया। आर्मी के कुत्तों ने पूरी ताकत और फुर्ती से विभिन्न रुकावटों को पार करते हुये दीवारों ऊपर से छलाँगें लगाते हुये दर्शकों से वाह-वाह लूटी।
इस डॉग शो में ट्रैकर, माइन डिटैकशन, एक्सप्लोसिव डिटैकशन, गार्ड, इनफैंटरी पेट्रोल करने में माहिर विभिन्न प्रजातियों के कुत्ते इस शो में आकर्षण का केंद्र रहे।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री के सीनीयर सलाहकार लेफ्टिनेंट जनरल (सेवामुक्त) टी.एस. शेरगिल ने सेना की गतिविधियों संबंधी जानकारी के प्रसार के लिए प्रबंधकों के यत्नों की सराहना करते हुये कहा कि पंजाब और भारतीय सेना एक-दूसरे के पूरक हैं। उन्होंने कहा कि हमारे बहादुर लडक़े-लड़कियाँ हमेशा देश की सेवा करने में अग्रणीय रहे हैं और इस भावना और वचनबद्धता को और आगे बढ़ाने की ज़रूरत है।
कल कार्निवल के दूसरी और अंतिम दिन भी 4&4 जोशीले ज़ीप चालकों द्वारा ऑफ रोडिंग की प्रदर्शनी, घुड़सवारी इवेंट, हथियारों की प्रदर्शनी और डॉग शो दर्शकों का मनोरंजन करेंगे।
इन समागमों को आज लोगों का भरपूर समर्थन मिला और विभिन्न स्कूलों -कॉलेजों के विद्यार्थियों और एन.सी.सी कैडटों की उपस्थिति से इस कार्निवल का रोमांच शिखरों पर पहुंच गया। आज के समागमों में 4000 से अधिक लोगों ने भाग लिया और कल कार्निवल के समाप्ति दिन इससे भी ज़्यादा लोगों पर पहुँचने की उम्मीद है।


खेल मंत्री करेंगे अंतरराष्ट्रीय कबड्डी टूर्नामैंट का उद्घाटन


चंडीगढ़, 30 नवंबर:
श्री गुरू नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व को समर्पित अंतरराष्ट्रीय कबड्डी टूर्नामैंट 2019 का कल प्रात:काल उद्घाटन होने के बाद इसके महा-मुकाबले शुरू हो जाएंगे और पहले दिन चार टीमों की आपस में भिंड़त होंगी।

अंतरराष्ट्रीय कबड्डी टूर्नामैंट का उद्घाटन 1 दिसंबर, 2019 को पंजाब के खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी सुल्तानपुर लोधी के गुरू नानक स्टेडियम में प्रात:काल 11 बजे करेंगे। इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए खेल विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि टूर्नामैंट में हिस्सा लेने वाली सभी टीमें पहुँच गई हैं जिनको जालंधर के अलग-अलग होटलों में ठहराया गया है।
टूर्नामैंट में हिस्सा ले रही टीमों को दो ग्रुपों में बांटा गया है। ग्रुप ‘ए’ में भारत, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका हैं जबकि ग्रुप ‘बी’ में कैनेडा, अमरीका, न्यूजीलैंड और कीनिया हैं।
प्रवक्ता के अनुसार पहले दिन तीन मुकाबले होंगे जिनमें से पहला मुकाबला श्रीलंका और इंग्लैंड के बीच होगा जबकि दूसरा मैच कैनेडा और कीनिया और तीसरा मैच अमरीका और न्यूजीलैंड के बीच होगा। यह मैच 11 बजे से शाम साढ़े चार बजे तक होंगे। बाकी दिनों के दौरान दो-दो मैच होंगे। उद्घाटनी समारोह के दौरान एक शानदार रंगा-रंग प्रोग्राम भी होगा।
इस टूर्नामैंट में 8 विभिन्न देशों के 150 के करीब खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। भारत के अलावा इसमें अमरीका, आस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, कैनेडा, श्रीलंका, कीनिया और न्यूजीलैंड के खिलाड़ी अपने जौहर दिखाऐंगे। प्रवक्ता के अनुसार टूर्नामैंट में पहले स्थान पर आने वाली टीम को 25 लाख रुपए का नगद इनाम दिया जायेगा जबकि दूसरे और तीसरे स्थान पर रहने वाली टीमों को क्रमवार 15 लाख और 10 लाख रुपए की नगद ईनामी राशि से सम्मानित किया जायेगा।
प्रवक्ता के अनुसार इस टूर्नामैंट का रोजाना सीधा प्रसारण पी.टी.सी. नैटवर्क द्वारा किया जायेगा जिससे लोग अपने घरों में बैठे भी कबड्डी का आनंद मान सकेंगे। इस टूर्नामैंट के लिए खेल विभाग ने एक विस्तृत योजना तैयार की है और सम्बन्धित डिप्टी कमीशनरों की अध्यक्षता अधीन जि़ला स्तर पर टूर्नामैंट करवाने के लिए कमेटियों का गठन किया गया है। सभी टूर्नामैंट स्थानों की तैयारियांं माहिरों के योग्य नेतृत्व अधीन की गई है। टूर्नामैंट के स्थान, खिलाडिय़ों के ठहरने वाले स्थानों (होटल) और सफऱ के दौरान टीमों की सुरक्षा के प्रबंध मुकम्मल कर लिए गए हैं। हरेक टीम के साथ 2 लेजन अफ़सर तैनात किये गए हैं जिससे टीम का हर पक्ष से ध्यान रखा जा सके। सभी टीमें आराम से जालंधर में होटल रमाडा, एम -1 और डे इन में ठहरेंगी।



Chandigarh, November 27, 2019
 India’s Polar Satellite Launch Vehicle, in its forty ninth flight (PSLV-C47),
successfully launched Cartosat-3 along with 13 nanosatellites of USA from Satish Dhawan Space Centre (SDSC) SHAR, Sriharikota. ISRO Chairman Dr Sivan said “Cartosat-3 is the most complex and advanced earth observation satellite built by ISRO and it was a third generation agile advanced satellite having high resolution imaging capability.”      
The mission life of the Cartosat-3 is five years. Cartosat-3 will address the increased user’s demands for large scale urban planning, rural resource and infrastructure development, coastal land use and land cover etc. ISRO’s PSLV-C47 is the 21st flight of PSLV in 'XL' configuration (with 6 solid strap-on motors).This was the 74th launch vehicle mission from SDSC SHAR, Sriharikota and 9th satellite of Cartosat series.


PSLV-C47 lifted-off at 0928 Hrs (IST) from the Second Launch Pad. After 17 minutes and 38 seconds, Cartosat-3 was successfully injected into a sun-synchronous orbit of 509 km. Subsequently, the 13 nanosatellites were also injected into their intended orbits. After separation, solar arrays of Cartosat-3 were deployed automatically and the ISRO Telemetry Tracking and Command Network at Bengaluru assumed control of the satellite. In the coming days, the satellite will be brought to its final operational configuration.
Dr K Sivan congratulated and complimented the launch vehicle and satellite
teams involved in the mission. He also acknowledged the support from Indian Industry. About 5000 visitors witnessed the launch live from the Viewer’s Gallery in Sriharikota.

गढ़दीवाला, 24 नवम्बर (मनप्रीत): गत 7 नवम्बर को एक लडक़ी घर से चारा लेने गई पर अभी तक नहीं वापिस घर नहीं पहुंची। जिसके चलते परिवारिक सदस्य परेशानी में है। इस संबंधी जानकारी देते हुए सुरमदीन पुत्र बरकत अली निवासी अरगोवाल ने बताया कि उसकी बहन सीफा 7 नवम्बर शाम को 4 बजे शाम को घर से चारा लेने के लिए गई तथा उसके बाद वापिस नहीं आई। उनके सारे सखे संबंधियों तथा रिश्तेतारों से उसकी तलाश की लेकिन कोई पता नहीं चला। उन्होंने बताया कि उसका सारा परिवार परेशानी के आलम में है, यदि किसी को कुछ भी पता चले तो तुरंत उनके साथ सम्पर्क करें। 


ਜੇ ਤੁਹਾਡੇ ਕੋਲ ਫਟੇਪੁਰਾਣੇ ਕਰੰਸੀ ਨੋਟ ਹਨਤਾਂ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਬਦਲਣ ਲਈ ਪਰੇਸ਼ਾਨ ਹੋਣ ਦੀ ਲੋੜ ਨਹੀ਼ ਹੈ। ਤੁਸੀਂ ਆਪਣੇ ਲਾਗਲੀ ਕਿਸੇ ਵੀ ਬੈਂਕ ਦੀ ਸ਼ਾਖਾ ਤੋਂ ਉਹ ਨੋਟ ਬਦਲਵਾ ਸਕਦੇ ਹੋ। ਕੋਈ ਵੀ ਬੈਂਕ ਸ਼ਾਖ਼ਾ ਨੋਟ ਲੈਣ ਤੋਂ ਇਨਕਾਰ ਨਹੀਂ ਕਰ ਸਕਦੀ। ਸਾਰੇ ਬੈਂਕ ਇਨ੍ਹਾਂ ਨੋਟਾਂ ਨੂੰ ਹਰ ਹਾਲਤ ਚ ਬਦਲਣਗੇ।  
ਰਿਜ਼ਰਵ ਬੈਂਕ ਆੱਫ਼ ਇੰਡੀਆ (RBI) ਵੱਲੋਂ ਇਸ ਸਬੰਧੀ ਸਾਰੇ ਬੈਂਕਾਂ ਨੂੰ ਸਪੱਸ਼ਟ ਹਦਾਇਤ ਹੈ। ਬੈਂਕਾਂ ਨੂੰ ਨੋਟ ਬਦਲੇ ਜਾਣ ਦੀ ਸੁਵਿਧਾ ਦਾ ਬੋਰਡ ਲਾਉਣ ਦੀ ਹਦਾਇਤ ਵੀ ਕੀਤੀ ਗਹੀ ਹੈ। ਫਟੇਪੁਾਣੇ ਬਚੇ ਹੋਏ ਹਿੱਸੇ ਦੇ ਆਧਾਰ ਤੇ ਬੈਂਕ ਉਸ ਦਾ ਰੀਫ਼ੰਡ ਦੇਣਗੇ। 
ਆਮ ਤੌਰ ਤੇ ਬੈਂਕਾਂ ਬਾਰੇ ਅਜਿਹੀਆਂ ਸ਼ਿਕਾਇਤਾਂ ਅਕਸਰ ਮਿਲਦੀਆਂ ਰਹਿੰਦੀਆਂ ਹਨ ਕਿ ਬੈਂਕ ਫਟੇਪੁਰਾਣੇ ਨੋਟ ਬਦਲਣ ਤੋਂ ਇਨਕਾਰ ਕਰ ਦਿੰਦੇ ਹਨ। ਸਭ ਤੋਂ ਵੱਧ ਔਕੜ ਦੂਰਦੁਰਾਡੇ ਦੇ ਇਲਾਕਿਆਂ ਚ ਹੈ। ਉੱਥੇ ਜ਼ਿਆਦਾਤਰ ਇਹੋ ਆਖਿਆ ਜਾਂਦਾ ਹੈ ਕਿ ਨੋਟ ਬਦਲਣ ਲਈ RBI ਦੇ ਦਫ਼ਤਰ ਜਾਂ ਬੈਂਕ ਦੀ ਮੁੱਖ ਸ਼ਾਖਾ ਚ ਜਾਣਾ ਹੋਵੇਗਾ। ਪਰ ਅਸਲ ਵਿੱਚ ਅਜਿਹਾ ਨਹੀਂ ਹੈ। 
ਗਾਹਕਾਂ ਨੂੰ ਨਿਯਮਾਂ ਦੀ ਜਾਣਕਾਰੀ ਨਾ ਹੋਣ ਦਾ ਬੈਂਕ ਗ਼ਲਤ ਫ਼ਾਇਦਾ ਉਠਾਉਂਦੇ ਹਨ। RBI ਅਧਿਕਾਰੀਆਂ ਨੇ ਸਪੱਸ਼ਟ ਕੀਤਾ ਕਿ ਨੋਟ ਰੀਫ਼ੰਡਰੂਲਜ਼ 2018 ’ਚ ਇਹ ਪੂਰੀ ਤਰ੍ਹਾਂ ਸਪੱਸ਼ਟ ਕੀਤਾ ਗਿਆ ਹੈ ਕਿ ਜੇ ਬੈਂਕ ਦੀ ਕੋਈ ਸ਼ਾਖਾ ਦੇ ਮੁਲਾਜ਼ਮ ਨੋਟ ਨਾ ਬਦਲਣਤਾਂ ਉਸ ਦੀ ਸ਼ਿਕਾਇਤ ਬੈਂਕਿੰਗ ਲੋਕਪਾਲ ਜਾਂ RBI ਦੇ ਸ਼ਿਕਾਇਤ ਪੋਰਟਲ ਤੇ ਕੀਤੀ ਜਾ ਸਕਦੀ ਹੈ। ਸਬੰਧਤ ਸ਼ਾਖਾ ਵਿਰੁੱਧ RBI ਕਾਰਵਾਈ ਕਰੇਗਾ। 
ਜੇ 50 ਰੁਪਏ ਤੋਂ ਵੱਧ ਦੇ ਨੋਟਾਂ ਦਾ ਜੇ 80 ਫ਼ੀ ਸਦੀ ਹਿੱਸਾ ਤੁਹਾਡੇ ਕੋਲ ਹੈਤਾਂ ਬੈਂਕ ਉਸ ਦੀ ਪੂਰੀ ਰਕਮ ਵਾਪਸ ਕਰੇਗਾ। ਜੇ ਇਹ ਟੁਕੜਾ 40 ਫ਼ੀ ਸਦੀ ਤੋਂ ਵੱਧ ਹੈਤਾਂ ਅੱਧੀ ਕੀਮਤ ਮਿਲੇਗੀ। ਜੇ 40 ਫ਼ੀ ਸਦੀ ਤੋਂ ਛੋਟਾ ਕੋਈ ਟੁਕੜਾ ਹੈਤਾਂ ਉਸ ਦਾ ਕੋਈ ਪੈਸਾ ਨਹੀਂ ਮਿਲੇਗਾ।



पंजाब के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशु ने बताया जांच में तथाकथित खरीद के मुकाबले 9000 से अधिक बोरियां कम पाई गईं

चंडीगढ़, 24 नवंबर  
पंजाब के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशु ने यह दावा करते हुए, कि स्थानीय बाजारों में राज्य से बाहर के धान की बिक्री पर रोक लगाने हेतु खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के सतर्कता दल द्वारा कोई भी कसर बाकी नहीं छोड़ी जा रही है, ने बताया कि मुक्तसर के एक धान मिल परिसर में शुक्रवार को की गई औचक जांच के दौरान मिल मालिक द्वारा फर्जी बिलिंग की धोखाधड़ी सामने आई है।
 इस संबंधी जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि विभाग के अधिकारियों को मैसजऱ् आरके विशाल राईस एंड जनरल मिल्ज़, बरीवाला, जिला मुक्तसर पर अपना व्यापार गैरकानूनी ढंग से करने का शक था। धान मिल में छापेमारी करके मौके पर की गई जांच से पता चला कि मिल मालिक ने अपने रिकॉर्ड में स्थानीय मंडियों से की गई धान की खरीद को दिखाया है परंतु उसने वास्तव में ऐसा नहीं किया था। वास्तव में भंडार में 9000 से अधिक बोरियां कम पाई गईं जिनको कथित तौर पर स्थानीय मंडियों से खरीदा गया दिखाया गया था। रिकॉर्ड के अनुसार धान की 83303 बोरियां (प्रत्येक 37.5 कि.ग्रा.) जिसकी कुल मात्रा 3123 टन बनती है, को 23 नवंबर तक मिल में ही भंडारित करके रखा गया था। परंतु मौके पर मिल में केवल 2785 टन की 74281 बोरियां पाई गईं जिससे 9022 बोरियों (प्रत्येक 37.5 कि.ग्रा.)  (338 टन) की कमी सामने आई। फर्जी बिलिंग के अलावा जांच अधिकारियों के दल को निरीक्षण के दौरान मिल में उत्तर प्रदेश और बिहार राज्यों की खाली बोरियां भी मिलीं। इससे यह तथ्य सामने आया कि मिल मालिक ने बाजार से फर्जी बिलिंग के द्वारा धान को अपने मिल में दिखाया है जो वास्तव में मिल में आया ही नहीं और मिल मालिक अपने धान के अपेक्षित भंडार को अन्य राज्यों से सस्ता धान खरीदकर पूरा कर रहा है। मंत्री ने बताया कि आगे की जांच जारी है और कस्टम मिलिंग पॉलिसी 2019-20 की धाराओं के तहत मिल पर कर्रवाई की जाएगी।


बुड्डा पर पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में 15 आपराधिक मामलों में चल रहा है मुकदमा, बुड्डा के खालिस्तानी -समर्थकी संबंध होने की भी आशंका

चंडीगढ़, 22 नवंबर:
गैंगस्टरों के विरुद्ध चलाई विशेष मुहिम के अंतर्गत एक बड़ी सफलता दर्ज करते हुए पंजाब पुलिस ने आज रात नामी गैंगस्टर सुखप्रीत सिंह धालीवाल उर्फ बुड्डा को दिल्ली हवाई अड्डे से गिरफ़्तार करने के लिए अरमेनिया से सफलतापूर्वक हवालगी प्राप्त की है।



इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए डी.जी.पी. दिनकर गुप्ता ने बताया कि बुड्डा ने आधी रात के करीब दिल्ली एयरपोर्ट पर उतरना है, और पंजाब पुलिस की टीम द्वारा उसको हिरासत में ले लिया जायेगा।
दविन्दर बम्बीहा गिरोह का स्व-घोषित प्रमुख बुड्डा कत्ल, कत्ल की कोशिश, बलात्कार, गैर-कानूनी गतिविधियां रोकथाम एक्ट (यू.ए.पी.ए.) आदि के 15 से अधिक आपराधिक मामलों में कानून का सामना कर रहा था, वह भी हाल ही में अपने खालिस्तान समर्थकीय तत्वों के साथ सम्पर्कों के लिए नोटिस आया था।
बुड्डा को साल 2011 के एक कत्ल केस में दोषी घोषित किया था, परन्तु वह 2016 में पैरोल के दौरान भाग गया था और उसे भगौड़ा करार दिया गया था। पंजाब में अलग- अलग आपराधिक, बलात्कार और गैर-कानूनी गतिविधियों के लिए जि़म्मेदार बुड्डा के खि़लाफ़ भी हरियाणा के अलग- अलग थानों में केस दर्ज हैं।
बुड्डा पुत्र मेजर सिंह निवासी कुस्सा, तहसील - नेहाल सिंह वाला, जिला मोगा, कैप्टन अमरिन्दर सिंह सरकार द्वारा गैंगस्टरों के खि़लाफ़ आरंभ की गई मुहिम के मद्देनजऱ देश से भाग गया था। पंजाब पुलिस जोश से उसका पीछा करती रही परन्तु यूएई में उसको काबू करने में असफल रही। डीजीपी के अनुसार आखिर में उसको अरमेनिया में ढूँढ लिया गया, जिसके बाद पंजाब पुलिस को इंटरपोल द्वारा लुक आऊट सर्कुलर (एलओसी) और रैड कॉर्नर नोटिस (आरसीएन) मिला था।
8 अगस्त, 2019 को अरमेनिया की पुलिस ने बुड्डा को पकड़ लिया। इसके तुरंत बाद, यूरोप में कुछ खालिस्तान समर्थकीय कार्यकर्ता ने बुड्डा की गिरफ़्तारी संबंधी फेसबुक पर एक अपडेट प्रकाशित किया था, जिसको ‘पंजाब में खालिस्तान के लिए एक मज़बूत आवाज़’ कहा गया था। दरअसल बुड्डा ने इससे पहले नाभा जेल के अंदर कत्ल किये गए डेरा सच्चा सौदा के एक कार्यकर्ता मनिन्दर पाल बिट्टू के ख़ात्मे के लिए अपने फेसबुकअकाउंट पर जि़म्मेदारी ली थी।
इसके बाद हरकमलप्रीत सिंह खाख, एआईजी काउन्टर इंटेलिजेंस, जालंधर और बिक्रम बराड़, डीएसपी ओसीसीयू के नेतृत्व अधीन एक विशेष पंजाब पुलिस टीम को फरार अपराधी को देश लाने के लिए तालमेल हेतु नियुक्त किया गया था।
बुड्डा के पुराने अपराधों का विवरण देते हुए डीजीपी ने कहा कि गैंगस्टर पंजाब में चोरों के धंधो में सक्रियता के साथ शामिल था और विक्की गौंडर की मौत के बाद राज्य का सबसे खतरनाक अपराधी के तौर पर बदनाम था। वह अप्रैल 2017 में पंजाबी गायक / अदाकार परमीश वर्मा पर हुए हमले का मुख्य साजिशकर्ता था। वह कथित तौर पर अन्य मशहूर पंजाबी गायकी / अदाकार (मशहूर पंजाबी गायिका / अदाकार गिप्पी गरेवाल समेत) और वट्सएैप पर कारोबारियों से वसूली करने की धमकियों के पीछे भी था। सुखप्रीत उर्फ बुड्डा के दिशा- निर्देशों पर एक मशहूर पंजाबी गायक करन औजला पर भी कैनेडा में हमला किया गया था।
जिस केस में उसको गिरफ़्तार किया गया था और 20-03-2011 को एक जुगराज सिंह पुत्र परमिन्दर सिंह निवासी गाँव कुस्सा के कत्ल से सम्बन्धित पैरोल से भाग निकला था। ताजपुर चौंक रायकोट के एक कार छीनने के केस में बुड्डा के खि़लाफ़ भी पी.ओ की कार्यवाही चल रही थी। बुड्डा के खि़लाफ़ कुछ अन्य मामलों का विवरण देते हुए डीजीपी ने कहा कि फरीदकोट के पीएस जैतो में चावल मिल मालिक रवीन्दर कोचर पर ज़बरदस्ती और कत्ल केस में उसे मुलजि़म भी ठहराया गया था।
उसके खि़लाफ़ अन्य केस सिरसा (हरियाणा) के साथ-साथ रायकोट (लुधियाना), सरहिन्द (फतेहगढ़ साहिब) और शंबू (पटियाला) में आर्मज़ एक्ट के अधीन शामिल हैं। उसके खि़लाफ़ पटियाला में एनडीपीएस एक्ट के अंतर्गत केस भी दर्ज किया गया था।
डीजीपी ने कहा कि बुड्डा को भगौड़ा घोषित किया गया था या उसके खि़लाफ़ पीओ की कार्यवाही चल रही थी। उन्होंने कहा कि कई मामलों में उसे पंजाब लाए जाने पर और पूछताछ होने के बाद और खुलासे होने की उम्मीद की जा रही थी।


ਚੰਡੀਗੜ੍ਹ : ਸਿਹਤ ਵਿਭਾਗ ਵੱਲੋਂ ਮੁਅੱਤਲ ਕੀਤੇ ਗਏ ਸੂਬੇ ਦੇ 18 ਨਿੱਜੀ ਨਸ਼ਾ ਮੁਕਤੀ ਕੇਂਦਰਾਂ ਦੇ ਲਾਇਸੈਂਸ ਬਹਾਲ ਕਰ ਦਿੱਤੇ ਗਏ ਹਨ। ਵਿਭਾਗ ਨੇ ਤਰਕ ਦਿੱਤਾ ਹੈ ਕਿ ਇਨ੍ਹਾਂ ਨਿੱਜੀ ਨਸ਼ਾ ਮੁਕਤੀ ਕੇਂਦਰਾਂ ਦੇ ਲਾਇਸੈਂਸ ਮੁਅੱਤਲ ਹੋਣ ਤੋਂ ਬਾਅਦ ਇੱਥੇ ਪਹਿਲਾਂ ਤੋਂ ਇਲਾਜ ਕਰਵਾ ਰਹੇ ਮਰੀਜ਼ਾਂ ਨੂੰ ਕਾਫ਼ੀ ਪਰੇਸ਼ਾਨੀ ਝੱਲਣੀ ਪੈ ਰਹੀ ਸੀ। ਸਰਕਾਰੀ ਨਸ਼ਾ ਮੁਕਤੀ ਕੇਂਦਰ ਪਹਿਲਾਂ ਹੀ ਭਰੇ ਹੋਏ ਹਨ। 
ਅਜਿਹੇ ਵਿਚ ਵਿਭਾਗ ਨੇ ਇਨ੍ਹਾਂ ਸੈਂਟਰਾਂ 'ਤੇ ਕੁਝ ਸ਼ਰਤਾਂ ਲਾਗੂ ਕਰਦੇ ਹੋਏ ਪਰਿਵਰਤਨ ਡਰੱਗ ਡਿਪੈਂਡੈਂਸ ਟ੍ਰੀਟਮੈਂਟ ਸੈਂਟਰ, ਅੰਮਿ੍ਤਸਰ।,-ਪੰਕਜ ਵਰਮਾ ਨਿਊਰੋਸਾਈਕੇਟ੍ਰੀ ਐਂਡ ਡਰੱਗ ਡੀ ਐਡੀਕਸ਼ਨ ਸੈਂਟਰ, ਮਾਡਲ ਟਾਊਨ ਲੁਧਿਆਣਾ।,-ਪ੍ਰਯਾਸ, ਜਗਜੀਤ ਨਗਰ ਪਖੋਵਾਲ ਰੋਡ ਲੁਧਿਆਣਾ।,-ਏਕਮ ਹਸਪਤਾਲ, ਮੋਗਾ। -ਬਰਨਾਲਾ ਮਨੋਰੋਗ ਹਸਪਤਾਲ, ਬਰਨਾਲਾ।,-ਪੁਨਿਤ ਕਥੂਰੀਆ, ਪ੍ਰਰੇਮ ਨਿਊਰੋ ਸਾਈਕੇਟਿ੍ਕ ਹਸਪਤਾਲ ਮਾਲੇਰਕੋਟਲਾ।,-ਕਪੂਰਥਲਾ ਸਾਈਕ੍ਰੇਟਿ੍ਕ ਨਰਸਿੰਗ ਹੋਮ, ਕਪੂਰਥਲਾ।,-ਮੈਕਸ ਸੂਪਰ ਸਪੈਸ਼ਲਿਟੀ ਹਸਪਤਾਲ ਬਠਿੰਡਾ।,-ਸਤਿਕਾਰ ਡਰੱਗ ਡਿਪੈਂਡੈਂਸ ਟ੍ਰੀਟਮੈਂਟ ਸੈਂਟਰ, ਐੱਲਆਈਪੀ ਸਰਹਿੰਦ (ਫ਼ਤਹਿਗੜ੍ਹ ਸਾਹਿਬ)।,-ਡਾ. ਅਜੇ ਕੌਸ਼ਲ, ਮਾਇੰਡਕੇਅਰ ਹਸਪਤਾਲ ਸਰਹਿੰਦ (ਫ਼ਤਹਿਗੜ੍ਹ ਸਾਹਿਬ)।,-ਬੇਨੀਵਾਲ ਹਸਪਤਾਲ, ਆਨੰਦ ਨਗਰੀ ਅਬੋਹਰ (ਫ਼ਾਜ਼ਿਲਕਾ)।,-ਕ੍ਰਿਪਾ ਸਾਈਕ੍ਰੇਟਿ੍ਕ ਐਂਡ ਡਰੱਗ ਡੀ-ਐਡੀਕਸ਼ਨ ਸੈਂਟਰ, ਫਗਵਾੜਾ ਰੋਡ ਹੁਸ਼ਿਆਰਪੁਰ।,-ਵਰਦਾਨ ਡਰੱਗ ਡਿਪੈਂਡੈਂਸ ਟ੍ਰੀਟਮੈਂਟ, ਵੀਨਸ ਕਾਲੋਨੀ, ਦੁਖ ਨਿਵਾਰਨ ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਸਾਹਿਬ ਰੋਡ ਪਟਿਆਲਾ।,-ਪ੍ਰਗਤੀ ਸਾਈਕ੍ਰੇਟਿ੍ਕ ਐਂਡ ਡਰੱਗ ਡੀ-ਐਡੀਕਸ਼ਨ ਸੈਂਟਰ, ਸੈਲੀ ਰੋਡ ਪਠਾਨਕੋਟ।,-ਆਸ਼ਾ ਡਰੱਗ ਡਿਪੈਂਡੈਂਸ ਟ੍ਰੀਟਮੈਂਟ ਹਸਪਤਾਲ ਬਰਨਾਲਾ ਕਲਾਂ ਰੋਡ, ਨਵਾਂ ਸ਼ਹਿਰ।,-ਸੁੱਖ ਸਾਈਕ੍ਰੇਟਿ੍ਕ ਹਸਪਤਾਲ ਐਂਡ ਡਰੱਗ ਡੀ ਐਡੀਕਸ਼ਨ ਸੈਂਟਰ, ਮਲੋਟ ਰੋਡ ਸ੍ਰੀ ਮੁਕਤਸਰ ਸਾਹਿਬ।,-ਨਿਰਮਲ ਛਾਇਆ ਸਾਈਕ੍ਰੇਟਿ੍ਕ ਐਂਡ ਡਰੱਗ ਡੀ ਐਡੀਕਸ਼ਨ ਸੈਂਟਰ, ਤਰਨਤਾਰਨ ਦੇ ਲਾਇਸੈਂਸ ਬਹਾਲ ਕਰ ਦਿੱਤੇ ਹਨ।
ਇਨ੍ਹਾਂ ਕੇਂਦਰਾਂ ਨੂੰ ਨਵੇਂ ਨਿਰਦੇਸ਼ ਜਾਰੀ ਕੀਤੇ ਗਏ ਹਨ ਕਿ ਦਵਾਈਆਂ ਬਰੂਫੀਨੋਰਫਿਨ ਅਤੇ ਨੇਲੋਕਸੋਨ ਉਹ ਜ਼ਿਲ੍ਹੇ ਦੇ ਸਿਵਲ ਸਰਜਨ ਦਫ਼ਤਰ ਜ਼ਰੀਏ ਸਰਕਾਰੀ ਡਰੱਗ ਵੇਅਰ ਹਾਊਸ ਤੋਂ ਹੀ ਖਰੀਦਣਗੇ। ਸਿਹਤ ਵਿਭਾਗ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਇਹ ਦੋ ਮਿਲੀਗ੍ਰਾਮ ਦੀ ਇਕ ਗੋਲੀ ਛੇ ਰੁਪਏ ਦੇ ਹਿਸਾਬ ਨਾਲ ਦੇਵੇਗਾ ਅਤੇ ਨਸ਼ਾ ਮੁਕਤੀ ਸੈਂਟਰ ਸੰਚਾਲਕ ਇਸ ਨੂੰ ਸਾਢੇ ਸੱਤ ਰੁਪਏ ਪ੍ਰਤੀ ਗੋਲੀ ਦੇ ਹਿਸਾਬ ਨਾਲ ਵੇਚਣਗੇ। ਇਸ ਤੋਂ ਜ਼ਿਆਦਾ ਕੀਮਤ ਵਸੂਲਣ 'ਤੇ ਲਾਇਸੈਂਸ ਰੱਦ ਕਰ ਦਿੱਤਾ ਜਾਵੇਗਾ। ਇਸ ਤੋਂ ਇਲਾਵਾ ਇਨ੍ਹਾਂ ਸੈਂਟਰਾਂ ਨੂੰ ਦਵਾਈਆਂ ਸਪਲਾਈ ਕਰਨ ਤੋਂ ਪਹਿਲਾਂ ਸਟੇਟ ਫੂਡ ਐਂਡ ਡਰੱਗ ਟੈਸਟਿੰਗ ਲੈਬ 'ਚੋਂ ਜਾਂਚ ਕਰਵਾਉਣੀ ਹੋਵੇਗੀ। ਸਿਹਤ ਵਿਭਾਗ ਦੀਆਂ ਹਦਾਇਤਾਂ ਦੀ ਪਾਲਣਾ ਕਰਨੀ ਹੋਵੇਗੀ।

पंजाब गर्वनमेंट सप्लाई लिखे पत्ते धड़ल्ले से बेच रहे हैं निजी नशा छुड़ाओ केंद्र 

श्री मुक्तसर साहिब
सरकार के प्रयासों से नशीले पदार्थों पर शिकंजा कसे जाने के बाद नशा छुड़ाओ केंद्रों व सरकार द्वारा बनाए गए ओट सेंटरों पर मिलने वाली  (बूपरीनोरफिन) बूपन नामक गोलियां नशेडिय़ों का सहारा बनी हुई हैं। 

हालांकि सरकार द्वारा सिविल अस्पतालों में बनाए गए ओट सेंटर में मिलने वाली दवाई उन्हें वहीं पर खिलाई जाती है अथवा कुछेक दिनों की दवाई ही मरीज को दी जाती है, लेकिन क्षेत्र में नशा करने वाले कई नशेड़ी सरकारी सेंटर में मिलने वाला उपरोक्त गोलियों का पत्ता ही निजी नशा छुड़ाओ केंद्रों से धड़ल्ले से खरीद रहे हैं। चाहे उक्त पंजाब गर्वनमेंट सप्लाई लिखा उक्त गोलियों का पत्ता निजी केंद्रों से सरेआम मिलता है वहीं नोट टू बी सोल्ड लिखा होने के बावजूद यह धड़ल्ले से बिक भी रहा है। इस संबंघ में अधिकारियों ने अनभिज्ञता जताते हुए पता करवाने की बात कही है। इसी तरह के (बूपरीनोरफिन) बूपन नामक गोलियों के पत्ते के बारे में उसे लेकर आए एक नशेड़ी से पूछने पर उसने नशा केंद्र का नाम तो नहीं बताया लेकिन माना कि वह उक्त पत्ता यहां के एक प्राइवेट नशा केंद्र से लेकर आया है। उक्त पत्ते पर पंजाब गर्वनमेंट सप्लाई के साथ साफ शब्दों में नोट टू बी सोल्ड लिखा हुआ है। नशेड़ी ने अधिक कुछ न बताते हुए यह भी बताया कि उसने 10 गोलियों का यह पत्ता सत्तर रुपये मुल्य में यहां के एक निजी नशा छुड़ाओ केंद्र से खरीदा है। सिविल सर्जन डॉ. नवदीप सिंह ने इस सब से अनभिज्ञता जताते हुए कहा कि वह ड्रग इंस्पेक्टर की ड्यूटी लगाकर आवश्यक कदम उठाएंगे। 


एक पारिवारिक मैंबर को 5 हज़ार रूपए प्रति माह पैंशन और नौकरी मुहैया करवाएंगेसाधू सिंह धर्मसोत ने पी.जी.आई. में पीडि़त परिवार के साथ की मुलाकात
दोषियों को बक्शा नहीं जायेगा: धर्मसोत

चंडीगढ़, 17 नवंबर:
जि़ला संगरूर के गाँव चंगालीवाल में कुछ व्यक्तियों द्वारा दलित नौजवान की मारपीट के बाद हुई मौत के मामले का गंभीर नोटिस लेते हुए पंजाब के कैबिनेट मंत्री श्री साधु सिंह धर्मसोत ने आज शाम पी.जी.आई. चंडीगढ़ में पीडि़त परिवार के साथ मुलाकात की और पंजाब सरकार की तरफ़ से गहरी हमदर्दी जताई।



स. धर्मसोत ने कहा कि मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने भी इस घटना पर गहरा दुख ज़ाहिर करते हुए उच्च अधिकारियों को दोषियों के खि़लाफ़ कड़ी कार्यवाही करने के आदेश दिए हैं।
श्री धर्मसोत ने पीडि़त परिवार को पंजाब सरकार द्वारा हर संभव मदद देने का विश्वास दिलाते हुए कहा कि सरकार द्वारा एस.सी/एस.टी एक्ट के अंतर्गत पीडि़त परिवार को 8.15 लाख रुपए की राशी मुआवज़े के तौर पर दी जायेगी। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा एक पारिवारिक मैंबर को 5 हज़ार रुपए प्रति माह पैंशन प्रदान की जायेगी।
स. धर्मसोत ने कहा कि पीडि़त परिवार के एक मैंबर को सरकारी नौकरी देने के लिए जल्द ही उपयुक्त कदम उठाए जाएंगे। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि इस बेहद घिनौनी घटना को अंजाम देने वाले दोषियों को सख्त सज़ाएं दी जाएंगी।
इस अवसर पर लेहरागागा जिला संगरूर के एसडीएम के अलावा अन्य उच्च अधिकारी उपस्थित थे।

होशियारपुर - 14 नवंबर, 2019: संत निरंकारी मिशन द्वारा निर्मित होने वाले अस्पताल ’संत निरंकारी हैल्थ सिटी’ के निर्माण कार्य का विधिवत रूप से शुभारंभ आज दिल्ली में सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज ने अपने कर कमलों से किया। इस अवसर पर सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज ने अपने आर्शीवचनों में फरमाया कि इस हैल्थ सिटी का निर्माण निरंकारी बाबा हरदेव सिंह जी महाराज की योजना अनुसार विधिवत प्रारंभ हो रहा है। उन्होंने आगे कहा कि हमारा कर्तव्य है कि शरीर की देखभाल करनी है। 

शरीर का इलाज इसको ठीक रखने के लिए करना है। जैसे तंदुरुस्त मन दुरुस्त। यहां आने वाला हर कोई कहीं से भी आए उसको अच्छी सेहत और वैलनेस मिले। यह जो सेवा कार्य प्रारंभ हो रहा है यह केवल प्रोजेक्ट के रूप में ना होकर सेवा के रूप में हो। सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज सुदीक्षा जी महाराज ने आर्शीवाद देते हुए सारी संगत को अस्पताल बनाने वाली परियोजना टीम को और इसमें योगदान करने वाले सभी सदस्यों को बधाई दी और साथ ही आर्शीवाद दिया। इस परियोजना पूरी कर बाबा हरदेव सिंह जी का  सपना साकार करना है। 
इस परियोजना को पूरा करने में सभी ने सेवा भाव से जुडक़र इस परियोजना को पूरा करना है। उन्होंने आर्शीवाद दिया कि यह परियोजना सभी के तालमेल से बहुत अच्छी तरह पूरी  होगी। 
इस अवसर पर निरंकारी मंडल के महासचिव ब्रिगेडियर पी.एस. चीमा (रिटायर्ड) ने इस हैल्थ सिटी की परियोजना के बारे मे विस्तृत विवरण दिया। 23 फरवरी 2015 को अमल में लाने के लिए प्रयास शुरू किए गए थे, अब इस परियोजना की आवश्यक अनुमतिया प्राप्त कर ली गई हैं। इसके साथ ही संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन की कार्यकारी अध्यक्ष बहन बिंदिया छाबड़ा ने कहा कि बाबा जी की सोच व ध्यान को पूरा करना है। जहां शरीर को निरोगी रखना है वही मानव जीवन का भी उत्थान करना है।
इस अवसर पर हैल्थ सिटी से जुड़े सभी महानुभाव, संत निरंकारी मंडल की कायज़्कारिणी के सभी सदस्य, केंद्रीय योजना तथा सलाहकार बोर्ड के सभी सदस्य, संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के सदस्यगण, गणमान्य व्यक्ति और साथ संगत के संत उपस्थित रहे।

Gidderbaha, Sri Muktsar Sahib, 14 November
 Amardeep Singh, a youth of Gurusar village of district Sri Muktsar Sahib, along with his five companions, has planned a project to convert the paddy subble into a straw bales and send it to other states. Amardeep Singh Minto's group, along with his colleagues Karamjit Singh, Mandeep Singh, Ravneet Singh, Mandeep Singh and Yadvinder Singh, have so far prevented burning  stubble in more than 1900 acres in his adjoining villages.


Amardeep Singh said that he along with his colleagues had started this project this year. In their group they have two balers through which they collect the stubble from fields by making bales with an average weight of 20kg each bale. They have installed machine which convert stubble material to loose straw and then with one another machine same is compressed to make straw bale. The size of a knot is only 4 feet tall, 2 feet wide and 2 feet high. In this way, it becomes easy to store and transport.
Amardeep Singh said that they are sending these straw bales for use as fodder for livestock to the states where there is a shortage of fodder. They send these bales to Rajasthan, Madhya Pradesh, Gujarat and Maharashtra. He said that in those states there is a shortage of fodder and people use it as fodder for their livestock. It is noteworthy that straw can be used as fodder with other fodder locally as well, while in winter it can be used to protect the animals from cold.
Amardeep Singh said that he was constantly encouraging the farmers not to burn the stubble but to dispose of it in different ways. He said that he does not take any money from the farmer to collect the straw from the farmer's farm and he has collected the straw from 1900 acres from his surrounding villages till now.
The Deputy Commissioner of District, MK Aravind Kumar, lauded such enthusiasts, saying that the straw is not a problem but it is a wealth if we mamage it properly. He appealed to the farmers to seek guidance from Amardeep Singh and his associates so that they should dispose of the straw properly instead of burning it.

विधायक चीमा ने की शमूलियत


सुल्तानपुर लोधी,13 नवम्बर:
श्री गुरू नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व समागमों की समाप्ति के मौके पर आज समूह निहंग जत्थेबंदियों और सिख पंथ की अन्य संस्थाओं द्वारा खालसाई उत्साह का प्रतीक महल्ला सजाया गया। जिसमें विभिन्न निहंग जत्थेबंदियों के मुखियों की फौजों ने सिख मार्शल आर्ट के जौहर दिखाए, जिनमें गतका, नेज़ा बाज़ी, घुड़ दौड़ मुख्य रूप में शामिल थे।
 इस मौके पर बूढ़ा दल के प्रमुख बाबा बलवीर सिंह जी 96 करोड़ी, कार सेवा बाबा कश्मीर सिंह भूरी वाले, दल बाबा बिधि चंद जी के प्रमुख बाबा अवतार सिंह जी सुर सिंह वाले, बाबा गुरबचन सिंह जी, तरना दल के प्रमुख बाबा गज्जण सिंह जी, हरीयां वेलां तरना दल के प्रमुख जीवित शहीद बाबा निहाल सिंह जी, संत समाज से संत बाबा बलबीर सिंह जी सीचेवाल वाले, बाबा दया सिंह जी टाहली साहिब वाले आदि उपस्थित थे।

इस मौके पर हलका विधायक श्री नवतेज सिंह चीमा ने अपने साथियों समेत सम्मिलन किया। उन्होंने गुरपर्व समागमों के दौरान अहम जि़म्मेदारी निभाने वाली निहंग जत्थेबंदियों, लंगर लगाने वाली संस्थाओं और संत महापुरुषों का धन्यवाद करते हुए कहा कि समूह संगत के सहयोग से ही शताब्दी समागम यादगारी तरीके से मनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि सुल्तानपुर लोधी में शताब्दी समागमों के दौरान 50 लाख के करीब संगत द्वारा सम्मिलन किया गया जो कि अपने आप में एक इतिहास है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार और वह स्वयं समूह सिख जत्थेबंदियों और संत महापुरूषों के ऋणी हैं। इस मौके पर निहंग जत्थेबंदियों और अन्य संस्थाओं की तरफ से विधायक चीमा का सम्मान भी किया गया।

आई.सी.सी.सी. में सिंगल क्लिक से पवित्र शहर सुल्तानपुर लोधी में किसी भी हिस्से में तैनात कर्मी की हाजिऱी सम्बन्धी प्राप्त की जा सकेगी जानकारी

सुल्तानपुर लोधी, 10 नवम्बर:
श्री गुरू नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व को लेकर पवित्र शहर सुल्तानपुर लोधी में ड्यूटी पर तैनात पुलिस अधिकारियों और कर्मियों की 100 प्रतिशत हाजिऱी यकीनी बनाने और उनकी गतिविधियों की निगरानी के लिए पंजाब पुलिस की तरफ से बड़ी पहलकदमी करते हुए एक विशेष एप जारी किया गया है।
इस संबंधी और ज्यादा जानकारी देते हुये एस.एस.पी. कपूरथला श्री सतिन्द्र सिंह ने बताया कि श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के मौके पर पवित्र शहर सुल्तानपुर लोधी में 1000 के करीब पुलिस कर्मी ड्यूटी पर तैनात किये गए हैं। उन्होने कहा कि इन सभी कर्मचारियों की हाजिऱी निजी तौर पर चैक करना बहुत ही मुश्किल काम है। इसलिए इस सारी प्रक्रिया के लिए यह एप बनाया गया है। श्री सतिन्द्र सिंह ने बताया कि यह एप संबंधित मुलाजिम के पद और जी.पी.एस.लुकेशन वाइस पवित्र शहर सुल्तानपुर लोधी में ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों की हाजिऱी को यकीनी बनाऐगा।
एस.एस.पी. ने बताया कि एक सिंगल क्लिक के साथ 24 घंटे ड्यूटी पर तैनात कर्मियों  सम्बन्धी जानकारी हासिल की जा सकेगी। उन्होने कहा कि इससे पुलिस कर्मी की ड्यूटी स्थान पर हाजिऱी को यकीनी बनाया जा सकेगा। एसएसपी ने बताया कि इससे किसी भी स्थान पर तैनात पुलिस बल की सही स्थिति सामने आ सकेगी और यह सुरक्षा बल किसी भी आपात स्थिति में अन्य स्थान पर आसानी के साथ पहुँच सकेंगे।
श्री सतिन्द्र सिंह ने बताया कि आई.जी. नौनिहाल सिंह की सख्त मेहनत के चलते ही पुलिस की इस एप को जारी किया जा सका है, जो ख़ुद पवित्र शहर में समूचे सुरक्षा प्रबंधों की निगरानी कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि आई.सी.सी. सैंटर में बैठा अधिकारी एक सिंगल क्लिक के साथ पवित्र शहर के किसी भी हिस्से में ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मी के पद और लोकेशन के अलावा उसके मोबायल फ़ोन की बैटरी पावर को भी चैक कर सकता है।

CHIEF MINISTER HONOURS PM, GOVERNOR & OTHER DIGNITARIES
Dera Baba Nanak (Gurdaspur), November 9: 
The Prime Minister Narendra Modi on Saturday partook langar during his visit to Dera Baba Nanak before the inauguration of historic Kartarpur corridor to mark 550th Prakash Purb celebrations of Sri Guru Nanak Dev Ji.

Disclosing this, an official spokesman said that the Prime Minister along with Punjab Chief Minister Captain Amarinder Singh and Governor V.P. Singh Badnore partook the ‘Langar’ in the pandal set up by the Punjab Government. Later, the Chief Minister honoured the Prime Minister, Governor, Union Civil Aviation Minister Hardeep Singh Puri and Union Food Processing Minister Harsimrat Kaur Badal.
PPCC President Sunil Jakhar, Cooperation and Jails Minister Sukhjinder Singh Randhawa, Former Union Minister Ashwani Kumar, Chief Principal Secretary to CM Suresh Kumar, Political Secretary to CM Captain Sandeep Singh Sandhu, Registrar Cooperative Societies Vikas Garg, MD Markfed Varun Roozam, MD Milkfed Kamaldeep Singh Sangha and Deputy Commissioner Vipul Ujjwal were also present on the occasion.

प्रधानमंत्री ने कैप्टन अमरिन्दर सिंह के साथ पंजाब सरकार के पंडाल में पंगत में बैठ कर लंगर छका
मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री, राज्यपाल समेत केंद्रीय मंत्रियों को सम्मानित किया
डेरा बाबा नानक (गुरदासपुर), 9 नवम्बर:
पहली पातशाही श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के अवसर परशनिवार को ऐतिहासिक करतारपुर गलियारे के उद्घाटन के लिए डेरा बाबा नानक पहुँचे भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्दर मोदी ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के साथ पंजाब सरकार के लंगर पंडाल में पंगत में बैठ कर लंगर छका।
सरकारी प्रवक्ता द्वारा दी जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह और पंजाब के राज्यपाल श्री वी.पी.सिंह बदनौर समेत अन्य प्रमुख शख्सियतों के साथ प्रधानमंत्री मंत्री ने सार्वजनिक सभा को संबोधित करने के बाद इंटगरेटिड चैक पोस्ट में करतारपुर गलियारे का उद्घाटन करने से पहले लंगर पंडाल में जाकर लंगर छका। गलियारे की तरफ जाते हुये रास्ते पर इंटगरेटिड चैक पोस्ट से थोड़े पहले राज्य सरकार की तरफ से पंडाल में लंगर लगाया हुआ था।
इस मौके पर कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने प्रधानमंत्री, राज्यपाल, केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप पूरी और केंद्रीय फूड प्रोसैसिंग मंत्री हरसिमरत कौर बादल को सम्मानित भी किया।
इस मौके पर अन्यों के अलावा पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान सुनील जाखड़, सहकारिता और जेल मंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा, पूर्व केंद्रीय मंत्री अश्वनी कुमार, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रमुख सचिव सुरेश कुमार, मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव कैप्टन सन्दीप सिंह संधू, मार्कफैड के एम.डी. वरुण रूज़म, मिल्कफैड के एम.डी. कमलदीप सिंह संघा और गुरदासपुर के डिप्टी कमिशनर विपुल उज्जवल उपस्थित थे।

बरनाला, 5 नवंबर (Manpreet Singh): 
संत निरंकारी मिशन का वार्षिक अन्र्तराष्ट्रीय संत समागम , जो कि निरंकारी सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज की छत्रछाया में आयोजित होगा, वह संत निरंकारी मिशन के 90 वर्षों के सत्य, प्रेम व एकत्व के भाव को समर्पित होगा। इस समागम की तैयारियों में देश व विदेशों से भारी संख्या में पहुंच कर श्रद्धालु अपना योगदान देते है। उक्त जानकारी संत निरंकारी मंडल की ब्रांच बरनाला के संयोजक जीवन गोयल ने देते हुए बताया कि कि सन्त निरंकारी मिशन का 72वां निरंकारी सन्त समागम 16, 17 व 18 नवंबर 2019 को सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज की छत्रछाया में सन्त निरंकारी आध्यात्मिक स्थल, जी.टी. रोड , समालखा , जिला पानीपत हरियाणा में आयोजित होने जा रहा है। संत समागम मे विश्व भर से लाखों की संख्या में श्रद्धालु सतगुरू माता सुदीक्षा जी महाराज जी के दर्शन करेंगे व उनके अनमोल वचन श्रवण करेंगे। 


सन्त समागम में दूर दूर से आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधाएं को ध्यान में रखने के लिए समागम स्थल पर विभिन्न क्षेत्रों के श्रद्धालुओं द्वारा सेवाएं दी जा रही हैं। इसी कड़ी में संत निरंकारी मिशन की ब्रांच बरनाला के सेवादल के भाई - बहन व अन्य श्रद्धालु समागम स्थल पर सेवाएं देने के लिए गए हैं । वहां पर लंगर स्थान, कैंटीन, प्याऊ, शौचालय, रहने के स्थान इत्यादि की सेवाएं चल रही है। जहा सेवाओं में बरनाला ब्रांच के भाई बहन आपना भरपूर योगदान दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि निरंकारी सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज जी के वचन सेवा, सिमरन व सत्संग गुरसिख के जीवन के गहने होते है, इनको धारण करके ही गुरसिख गुरसिखी के मार्ग पर चलता है। अपने जीवन में सद्गुरु माता सुदीक्षा महाराज का सदेंश है संतो भगतों का कर्म हमेशा यही होता है कि वह किसी भी क्षेत्र में सेवा में जुटे हो, उसमें केवल गुरमत की बातें अपनाते हैं, गुरु की बात को ही अपनाते हैं, सेवा भावना को ही अपनाते हैं। संत महात्मा हमेशा प्रेरणा भी यह ही देते हैं कि, हे इंसान ! तू सेवा कर। युगों युगों से सेवा की महानता बनी हुई है। इस सेवा के कारण हमारे जीवन में खुशियाँ आती हैं। तन, मन, धन की सेवा, यह सभी सेवायें अपने जीवन में जो नियमित रूप से अपना लेते है, उन्हें हमेशा खुशियाँ प्राप्त होती हैं। निष्काम सेवा ही सबके लिए सदैव लाभकारी होती है।
---------------------------
ਸੰਤ ਨਿਰੰਕਾਰੀ ਮਿਸ਼ਨ  ਦੇ 90 ਸਾਲਾਂ  ਦੇ ਸੱਚ , ਪ੍ਰੇਮ ਅਤੇ ਏਕਤਵ ਦੇ ਭਾਵ ਨੂੰ ਸਮਰਪਤ ਹੋਵੇਗਾ 72ਵਾ ਸਾਲਾਨਾ ਨਿਰੰਕਾਰੀ ਸੰਤ ਸਮਾਗਮ 

 ਬਰਨਾਲਾ ,  5 ਨਵੰਬਰ  
ਸੰਤ ਨਿਰੰਕਾਰੀ ਮਿਸ਼ਨ  ਦਾ ਸਾਲਾਨਾ ਅੰਤਰ-ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਸੰਤ ਸਮਾਗਮ  ,  ਜੋ ਕਿ ਨਿਰੰਕਾਰੀ ਸਤਿਗੁਰੂ ਮਾਤਾ ਸੁਦੀਕਸ਼ਾ ਜੀ  ਮਹਾਰਾਜ ਦੀ ਛਤਰਛਾਇਆ ਵਿੱਚ ਆਯੋਜਿਤ ਹੋਵੇਗਾ , ਉਹ ਸੰਤ ਨਿਰੰਕਾਰੀ ਮਿਸ਼ਨ  ਦੇ 90 ਸਾਲਾਂ  ਦੇ ਸੱਚ ,  ਪ੍ਰੇਮ ਅਤੇ ਏਕਤਵ  ਦੇ ਭਾਵ ਨੂੰ ਸਮਰਪਤ ਹੋਵੇਗਾ ।  ਇਸ ਸਮਾਗਮ ਦੀਆਂ ਤਿਆਰੀਆਂ ਵਿੱਚ ਦੇਸ਼ ਅਤੇ ਵਿਦੇਸ਼ਾਂ ਵਲੋਂ ਭਾਰੀ ਗਿਣਤੀ ਵਿੱਚ ਪਹੁੰਚ ਕੇ ਸ਼ਰਧਾਲੂ ਆਪਣਾ ਯੋਗਦਾਨ ਦੇਣਗੇ ।  ਉਕਤ ਜਾਣਕਾਰੀ ਸੰਤ ਨਿਰੰਕਾਰੀ ਮੰਡਲ ਦੀ ਬ੍ਰਾਂਚ ਬਰਨਾਲਾ ਦੇ ਸੰਯੋਜਕ ਜੀਵਨ ਗੋਇਲ  ਨੇ ਦਿੰਦੇ  ਹੋਏ ਦੱਸਿਆ ਕਿ ਕਿ ਸੰਤ ਨਿਰੰਕਾਰੀ ਮਿਸ਼ਨ ਦਾ 72ਵਾਂ ਨਿਰੰਕਾਰੀ ਸੰਤ ਸਮਾਗਮ 16 , 17 ਅਤੇ 18 ਨਵੰਬਰ 2019 ਨੂੰ ਸਤਿਗੁਰੂ ਮਾਤਾ ਸੁਦੀਕਸ਼ਾ ਜੀ  ਮਹਾਰਾਜ ਦੀ ਛਤਰਛਾਇਆ ਵਿੱਚ ਸੰਤ ਨਿਰੰਕਾਰੀ ਅਧਿਆਤਮਿਕ ਸਥਲ ,  ਜੀ . ਟੀ .  ਰੋਡ  ,  ਸਮਾਲਖਾ  ,  ਜਿਲਾ ਪਾਨੀਪਤ ਹਰਿਆਣਾ ਵਿੱਚ ਆਯੋਜਿਤ ਹੋਣ ਜਾ ਰਿਹਾ ਹੈ।  ਸੰਤ ਸਮਾਗਮ ਵਿੱਚ ਸੰਸਾਰ ਭਰ ਤੋਂ ਲੱਖਾਂ ਦੀ ਗਿਣਤੀ ਵਿੱਚ ਸ਼ਰੱਧਾਲੁ ਸਤਿਗੁਰੂ ਮਾਤਾ ਸੁਦੀਕਸ਼ਾ ਜੀ  ਮਹਾਰਾਜ ਜੀ   ਦੇ ਦਰਸ਼ਨ ਕਰਨਗੇ ਅਤੇ ਉਨ੍ਹਾਂ  ਦੇ  ਅਨਮੋਲ ਵਚਨ ਸੁਣਨਗੇ ।  

ਸੰਤ ਸਮਾਗਮ ਵਿੱਚ ਦੂਰ-ਦੂਰ ਤੋਂ ਆਉਣ ਵਾਲੇ ਸ਼ਰਧਾਲੂਆ ਦੀਆਂ ਸਹੂਲਤਾਂ ਨੂੰ ਧਿਆਨ ਵਿੱਚ ਰੱਖਣ ਲਈ ਸਮਾਗਮ ਸਥਲ ਉੱਤੇ ਵੱਖ ਵੱਖ ਖੇਤਰਾਂ  ਦੇ ਸ਼ਰਧਾਂਲੂਆਂ ਵਲੋਂ ਸੇਵਾਵਾਂ ਦਿੱਤੀਆਂ ਜਾ ਰਹੀਆਂ ਹਨ ।  ਇਸ ਲੜੀ ਵਿੱਚ ਸੰਤ ਨਿਰੰਕਾਰੀ ਮਿਸ਼ਨ ਦੀ ਬ੍ਰਾਂਚ ਬਰਨਾਲਾ ਦੇ ਸੇਵਾਦਲ  ਦੇ ਭੈਣ -  ਭਰਾ ਅਤੇ ਹੋਰ ਸ਼ਰਧਾਲੂ ਸਮਾਗਮ ਗਰਾਉੰਡ ਵਿੱਚ ਸੇਵਾਵਾਂ ਦੇਣ ਲਈ ਗਏ ਹਨ  ।  ਉੱਥੇ ਲੰਗਰ ਸਥਾਨ ,  ਕੰਟੀਨ ,  ਪਿਆਊ ,  ਸ਼ੌਚਾਲਏ ,  ਰਹਿਣ  ਦੇ ਸਥਾਨ ਆਦਿ ਦੀਆਂ ਸੇਵਾਵਾਂ ਚੱਲ ਰਹੀਆਂ ਹਨ ।  ਇਨ੍ਹਾਂ ਸੇਵਾਵਾਂ ਵਿੱਚ  ਬਰਨਾਲਾ ਬ੍ਰਾਂਚ  ਦੇ ਭੈਣਾਂ ਭਰਾ ਭਰਪੂਰ ਯੋਗਦਾਨ  ਦੇ ਰਹੇ ਹਨ ।  ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਨਿਰੰਕਾਰੀ ਸਤਿਗੁਰੂ ਮਾਤਾ ਸੁਦੀਕਸ਼ਾ ਜੀ  ਮਹਾਰਾਜ ਜੀ ਦੇ ਵਚਨ ਸੇਵਾ ,  ਸਿਮਰਨ ਅਤੇ ਸਤਸੰਗ ਗੁਰਸਿਖ  ਦੇ ਜੀਵਨ   ਦੇ ਗਹਿਣੇ ਹੁੰਦੇ ਹਨ,  ਇਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਧਾਰਨ ਕਰਕੇ ਹੀ ਗੁਰਸਿਖ ਗੁਰਸਿਖੀ  ਦੇ ਰਸਤੇ ਉੱਤੇ ਚੱਲਦਾ ਹੈ ।  ਸਤਿਗੁਰੂ ਮਾਤਾ ਸੁਦੀਕਸ਼ਾ ਮਹਾਰਾਜ ਦਾ ਸਦੇਂਸ਼ ਹੈ ਸੰਤਾ ਭਗਤਾਂ  ਦਾ ਕਰਮ ਹਮੇਸ਼ਾ ਇਹੀ ਹੁੰਦਾ ਹੈ ਕਿ ਉਹ ਕਿਸੇ ਵੀ ਖੇਤਰ ਵਿੱਚ ਸੇਵਾ ਵਿੱਚ ਜੁਟੇ ਹੋਣ ,  ਉਸ ਵਿੱਚ ਕੇਵਲ ਗੁਰਮਤ ਦੀਆਂ ਗੱਲਾਂ ਅਪਣਾਉਂਦੇ ਹਨ ,  ਗੁਰੂ ਦੀ ਗੱਲ ਨੂੰ ਹੀ ਅਪਣਾਉਂਦੇ ਹਨ ,  ਸੇਵਾ ਭਾਵਨਾ  ਨੂੰ ਹੀ ਅਪਣਾਉਂਦੇ ਹਨ ।  ਸੰਤ ਮਹਾਤਮਾ ਹਮੇਸ਼ਾ ਪ੍ਰੇਰਨਾ ਵੀ ਇਹ ਹੀ ਦਿੰਦੇ ਹਨ ਕਿ ,  ਹੇ ਇਨਸਾਨ  !  ਤੂੰ ਸੇਵਾ ਕਰ ।   ਯੁੱਗਾਂ ਯੁੱਗਾਂ ਤੋਂ ਸੇਵਾ ਦੀ ਮਹਾਨਤਾ  ਬਣੀ ਹੋਈ ਹੈ ।   ਇਸ ਸੇਵਾ ਦੇ ਕਾਰਨ ਸਾਡੇ ਜੀਵਨ ਵਿੱਚ ਖੁਸ਼ੀਆਂ ਆਉਂਦੀਆਂ ਹਨ ।  ਤਨ ,  ਮਨ ,  ਧੰਨ ਦੀ ਸੇਵਾ ,  ਇਹ ਸਾਰੀਆਂ ਸੇਵਾਵਾਂ ਜੋ ਆਪਣੇ ਜੀਵਨ ਵਿੱਚ ਜੋ ਨਿਯਮਤ ਰੂਪ ਨਾਲ ਆਪਣਾ ਲੈਂਦੇ ਹੈ ,  ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਹਮੇਸ਼ਾ ਖੁਸ਼ੀਆਂ ਪ੍ਰਾਪਤ ਹੁੰਦੀਆਂ ਹਨ ।  ਨਿਸ਼ਕਾਮ ਸੇਵਾ ਹੀ ਸਭ  ਦੇ ਲਈ ਹਮੇਸ਼ਾਂ ਲਾਭਕਾਰੀ ਹੁੰਦੀ ਹੈ । 


ਫਿਰੋਜ਼ਪੁਰ, 05 ਨਵੰਬਰ :

ਡਿਪਟੀ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਫਿਰੋਜ਼ਪੁਰ ਸ੍ਰੀ ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ ਨੇ ਅੱਜ ਕਿਹਾ ਕਿ ਜ਼ਿਲ੍ਹੇ ਦੇ ਕਿਸੇ ਪਿੰਡ ਵਿੱਚ ਜੇ ਕਿਸੇ ਕਿਸਾਨ ਵੱਲੋਂ ਪਰਾਲੀ ਸਾੜੀ ਗਈ ਤਾਂ ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਪ੍ਰਸ਼ਾਸਨ ਹੁਣ ਉਸ ਦੇ ਪਿੰਡ ਦੇ ਸਬੰਧਿਤ ਕਿਸਾਨ ਸਮੇਤ ਸਰਪੰਚ ਤੇ ਗ੍ਰਾਮ ਪੰਚਾਇਤ ਖ਼ਿਲਾਫ਼ ਕੇਸ ਦਰਜ ਕਰੇਗਾ।

ਵੇਰਵੇ ਜਾਰੀ ਕਰਦਿਆਂ ਡਿਪਟੀ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਅਦਾਲਤ ਵੱਲੋਂ ਜਾਰੀ ਕੀਤੇ ਗਏ ਆਦੇਸ਼ਾਂ ਦੇ ਮੱਦੇਨਜ਼ਰ ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਪ੍ਰਸ਼ਾਸਨ ਸਰਪੰਚ, ਗ੍ਰਾਮ ਪੰਚਾਇਤ ਅਤੇ ਸਬੰਧਤ ਕਿਸਾਨ ਵਿਰੁੱਧ ਸਖ਼ਤ ਕਾਰਵਾਈ ਕਰੇਗੀ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਜੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੇ ਪਿੰਡ ਵਿੱਚ ਪਰਾਲੀ ਸਾੜਨ ਦੀ ਕੋਈ ਵੀ ਘਟਨਾ ਸਾਹਮਣੇ ਆਉਂਦੀ ਹੈ ਤਾਂ ਸਿਰਫ ਕਿਸਾਨ ਹੀ ਨਹੀਂ ਬਲਕਿ ਸਰਪੰਚ ਤੇ ਗ੍ਰਾਮ ਪੰਚਾਇਤ ਵੀ ਉਸ ਲਈ ਜਵਾਬਦੇਹ ਹੋਵੇਗੀ।

ਗੈਂਦ ਨੇ ਕਿਸਾਨਾਂ ਨੂੰ ਚੇਤਾਵਨੀ ਦਿੱਤੀ ਕਿ ਜੇ ਅਜਿਹੀਆਂ ਕੋਈ ਘਟਨਾਵਾਂ ਵਾਪਰਦੀਆਂ ਹਨ ਤਾਂ ਉਨ੍ਹਾਂ ਵਿੱਚੋਂ ਕਿਸੇ ਨੂੰ ਵੀ ਬਖਸ਼ਿਆ ਨਹੀਂ ਜਾਵੇਗਾ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਸੀਨੀਅਰ ਸੁਪਰਡੈਂਟ ਨੂੰ ਅਜਿਹੇ ਸਾਰੇ ਮਾਮਲਿਆਂ ਵਿੱਚ ਤੁਰੰਤ ਐਫਆਈਆਰ ਦਰਜ ਕਰਨ ਲਈ ਕਿਹਾ ਗਿਆ ਹੈ।


bttnews

{picture#https://1.bp.blogspot.com/-pWIjABmZ2eY/YQAE-l-tgqI/AAAAAAAAJpI/bkcBvxgyMoQDtl4fpBeK3YcGmDhRgWflwCLcBGAsYHQ/s971/bttlogo.jpg} BASED ON TRUTH TELECAST {facebook#https://www.facebook.com/bttnewsonline/} {twitter#https://twitter.com/bttnewsonline} {youtube#https://www.youtube.com/c/BttNews} {linkedin#https://www.linkedin.com/company/bttnews}
Powered by Blogger.