[post ads]




श्री मुक्तसर साहिब

शहर में श्री दरबार साहिब के नाका नंबर छह निहंगा वाली छावनी के पास नवजात भ्रूण मिलने से सनसनी फैल गई। भ्रूण मादा का ना होकर नर होने के चलते आशंका जताई जा रही है कि यह कुंवारी मां का भी हो सकता है। फिलहाल पुलिस ने उसे कब्जे में लेने के बाद पोस्टमार्टम करवाकर अज्ञात मां के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए कार्रवाई शुरू कर दी है। पोस्टमार्टम के बाद भ्रूण दफनाने के लिए शनिदेव सेवा सोसायटी को सौंपा जाएगा।
जानकारी के अनुसार शुक्रवार की शाम को जन स्वास्थ्य विभाग के सफाई सेवक इंदरजीत सिंह व पप्पू सीवरेज की सफाई कर रहे थे। इस दौरान पहले एक तरफ कचरा फेंकते हुए उन्होंने भ्रूण भी कचरे के साथ ही फेंक दिया, लेकिन कुछ समय के बाद जब उन्हें उसके मानव भ्रूण होने का आभास हुआ तो उन्होंने मोहल्ले के लोगों को इसकी सूचना दी। लोगों के सूचित करने पर थाना सिटी के एएसआई अमरजीत सिंह ने पहुंचकर सीवर मेनहोल में मिले नर भ्रूण को कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है। थाना सिटी प्रभारी तेजिंदरपाल सिंह के अनुसार पुलिस ने अज्ञात महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

इंतजार की घड़ियां हुई खत्म, मिला 'खतरों के खिलाड़ी 8' का विनर रिपोर्ट्स के मुताबिक शांतनु माहेश्वरी 'खतरों के खिलाड़ी 8' के विनर बन गए हैं


केबीसी सीजन-9 को पहला करोड़पति मिल गया है. बताया जा रहा है कि झारखंड की अनामिका मजूमदार ने एक करोड़ की धनराशि जीत ली है. गुरुवार को ही गोरेगांव फिल्मसिटी में इस एपिसोड की शूटिंग पूरी हुई है. इस एपिसोड में अनामिका 7 करोड़ के सवाल तक पहुंच गई थीं. मगर उन्होंने ज्यादा रिस्क न लेते हुए क्विट करना ही ठीक समझा और एक करोड़ की धनराशि जीती. केबीसी के इस सीजन को ऑन एयर हुए लगभग एक महीना हो चुका है, अब तक कोई भी प्रतिभागी करोड़पति का ये टैग हासिल नहीं कर सका था.

अमृतसर के बाद फरीदकोट में टिल्ला बाबा फरीद के दर्शन करने आ रहा था परिवार

फरीदकोट

 
 वीरवार को कोटकपूरा के पास हादसे में पांच लोगों की मौत के बाद शनिवार की सुबह फिर से फरीदकोट अमृतसर रोड पर मुदकी के पास हुए हादसे में पांच लोग काल का ग्रास बन गए। अमृतसर फरीदकोट रोड़ पर गांव मुदकी के पास मारूती वैन व स्विफ्ट के बीच आमने सामने की टक्कर हुई कारण हुई इस घटना में लोग गंभीर जख्मी हुए हैं, जिनको उपचार के लिए गुरू गोबिंद सिंह मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया गया है। काल का ग्रास बना उक्त परिवार मुंबई से अमृतसर के बाद टिल्ला बाबा फरीद के दर्शनों के लिए आ रहा था।
जानकारी अनुसार अमृतसर से फरीदकोट की तरफ आ रही मारूति वैन नंबर एमएच-06एआर- 4106 की सामने से आ रही स्विफ्ट कार नंबर डीएल-8सीपी-7050 के साथ गांव मुदकी के पास भीषण टक्कर हो गई। इस हादसे में रूपिन्द्र सिंह पुत्र सोहन सिंह, गुरमीत कौर पत्नी रूपिन्द्र सिंह तथा हरमीत सिंह वासी मुंबई की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि कार चालक तरसेम सिंह व 9 वर्षीय बच्चे गुरनूर सिंह ने अस्पताल लाते समय रास्ते में ही दम तोड़ दिया। हादसे में जैसमीन कौर ,सतिंदर सिंह व सरबजीत कौर गंभीर जख्मी हैं। बताया जा रहा है कि मुंबई वासी रुपिन्द्र सिंह अपने परिवार के साथ श्री अमृतसर साहिब मात्था टेकने के लिए आया था और वह बाबा फरीद टिल्ला के दर्शनों के लिए फरीदकोट आ रहे थे। इस दौरान ओवरटेक करते हुए उक्त हादसा हो गया।  सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए फरीदकोट मेडीकल अस्पताल पहुंचा दिया है।

श्री मुक्तसर साहिब

 
 प्रदेश भर में जहां बुराई पर अच्छाई की जीत के  प्रतीक विजयदशमी पर्व मौके रावण, कुंभकर्ण व मेघनाद के बुत फूंके गए। वहीं  भगवान वाल्मीकि सभा की ओर से श्री मुक्तसर साहिब के गुरु गोबिंद सिंह पार्क के पीछे स्थित वाल्मीक चौक पर रावण को पूजा गया। वाल्मीकि सभा द्वारा विजयदशमी पर्व को महात्मा रावण के बलिदान दिवस के रुप में मनाया गया। वक्ताओं ने रावण के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए श्रद्धासुमन अर्पित किए गए। इस दौरान वक्ताओं ने रावण के जीवन पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम में चेयरमैन मुकेश धमेनिया, मंगत राम, अध्यक्ष अशोक कुमार, काकू राम, सोनू उजीनवाल, नसीब, विक्की, चरनदास चन्नी, बिहारी लाल, वीरपाल कौर, अभि, अमन, आकाश समेत सभा के अन्य पदाधिकारी भी मौजूद थे।

टीवी एक्ट्रेस हिना खान 'बिग बॉस 11' की सेलिब्रिटी कंटेस्टेंट बनने जा रही हैं

डांसर सपना चौधरी



'ढिंचैक पूजा' खबर है कि वो शो की कंफर्म खिलाड़ी हैं। पिछले दिनों ढिंचैक पूजा ने अपने गानों से सनसनी फैलाई थी।
मुस्लिम मॉडल हलीमा मतलूब 
लंदन की मॉडल नतालिया केवी 
एमटीवी वीजे बनाफशा सूनावाला 
अभिनेता अबरार जहूर
टीवी अभिनेता पर्ल वी पुरी
टीवी निर्माता विकास गुप्ता 
एमटीवी स्पिलिटविला के विनर प्रियांक शर्मा
'भाभी जी घर पर हैं' कि अभिनेत्री शिल्पा शिंदे

श्री मुक्तसर साहिब में चल रही लाला चेत राम सत्या रामलीला कमेटी की रामलीला शुक्रवार की देर रात रावण रुपी बुराई के अंत के साथ सम्पन हो गयी। इससे पूर्व दर्शको में रामलीला के कलाकारों द्वारा मंचित युद्ध का भरपूर लुत्फ़ उठाया। कमेटी की ओर से आज रात को भव्य जागरण करवाया जायेगा।



श्रीगंगानगर
रायसिंहनगर-अनूपगढ़ मार्ग पर बांडा कॉलोनी के पास शुक्रवार दोपहर को बारातियों को ले जा रही एक क्रूजर गाड़ी सामने से आये ट्रक से टकरा गई। हादसे में चार बाराती घायल हो गये, जिन्हें अनूपगढ़ के सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। 

इनमें दो बाराती श्रीगंगानगर के निवासी हैं। हादसा होते ही क्रूजर और ट्रक को उनके चालक फरार हो गये। प्राप्त जानकारी के अनुसार  अनूपगढ़ से एक बारात शुक्रवार दोपहर को चक 68 एनपी के लिए रवाना हुई थी। अनूपगढ़ के वार्ड न बर 20 से 68 एन पी के लिए करीब 10-12 लोग एक बारात में जा रहे थे। बांडा गांव के पास पहुंचते ही सामने से आ रहे ट्रक से क्रूजर भिड़ंत हो गई। भिड़ंत होते ही भीड़ जमा हो गई। लोगों ने दुर्घटना में घायल क्रूजर सवार लोगों को दुर्घटनाग्रस्त वाहन से बाहर निकाला। इस दुर्घटना में क्रूजर सवार 10-12 लोंगो में से प्रकाश पुत्र श्रवण राम निवासी वार्ड नम्बर 20 अनूपगढ ,किशन लाल पुत्र सुखराम निवासी वार्ड 19 श्रीगंगानगर, राधाकिशन पुत्र गिरधारी राम वार्ड गांव दुलापुर केरी,श्रीगंगानगर,  श्रवण राम पुत्र आदूराम वार्ड 20 अनूपगढ़ घायल हो गए। लोगों द्वारा घायलों को तुरन्त निजी वाहन से अनूपगढ सामुदायिक स्वास्थ्य लाया गया। जानकारी के अनुसार चिकित्सकों ने घायलों में से 2 व्यक्तियों की हालत देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद बीकानेर रैफर कर दिया। मौके पर पहुंचे बांडा कॉलोनी के हवलदार धनराज ने बताया कि दोपहर करीब पौने 2 बजे यह हादसा हुआ, तो क्रूजर और ट्रक को उसके चालक छोडक़र भाग गये। इस दुर्घटना का देर रात समाचार लिखे जाने तक कोई मामला दर्ज नहीं हुआ था।

 एक युवक को बचा लिया गया, पांच पानी में बहे

 बहने वालों में दो महिलाएं व दो बच्चे शामिल

हनुमानगढ़

 
हनुमानगढ़ जिले में लक्खुवाली के पास शुक्रवार देर शाम को एक तेज रफ्तार इनोवा गाड़ी बेकाबू हो गई। यह इनोवा इन्दिरा गांधी नहर में जा गिरी। इनोवा मेें एक ही परिवार के छह सदस्य सवार थे। इनमेें एक युवक को बचा लिया गया। दो महिलाओं व दो बच्चों सहित पांच जने गाड़ी में ही हैं, जो नहर में डूब गये हैं। मौके पर वरिष्ठ पुलिस अधिकारी पहुंच गये हैं। गाड़ी को बाहर निकालने के लिए जतन किये जा रहे हैं। हनुमानगढ़ जिले में ही संगरिया थाना क्षेत्र के गांव खाट का निवासी यह परिवार सीकर जिले में सालासर में बालाजी के मन्दिर में धोक लगाकर वापिस आ रहा था। देर रात मौके पर मौजूद हनुमानगढ़ टाऊन थानाप्रभारी अनवर मोहम्मद ने बताया कि गाड़ी को बाहर निकालने की कोशिश की जा रही है। गाड़ी के अंदर दो महिलाओं व दो बच्चों के साथ एक पुरुष है, जिनके बचने की उम्मीद न के बराबर है। उन्होंने बताया कि यह परिवार वापिस अपने गांव खाट जा रहा था। मेगा हाइवे पर लक्खुवाली के नजदीक इनकी इनोवा बेकाबू हो गई। लक्खुवाली में इन्दिरा गांधी नहर के पुल से कुछ ही पहले बेकाबू हुई इनोवा बायीं तरफ नहर में जा गिरी।


लक्खुवाली में पुलिस चौकी प्रभारी एसआई फरसाराम ने बताया कि लोगों ने इस इनोवा को नहर में गिरते हुए देखा, उन्होंने शोर मचा दिया। जब यह गाड़ी नहर में गिर रही थी, तभी इसकी एक खिडक़ी खुल गई। खिडक़ी के पास ही बैठा युवक नहर के अंदर किनारे के पास ही गिर गया। चौकी में मौजूद पुलिसकर्मी भागकर नहर पर पहुंचे। यह पुलिसकर्मी चौकी से एक कुंडी साथ ही ले गये थे। इस कुंडी को नहर में फेंकने पर किनारे पर गिरे युवक ने उसे पकड़ लिया, जिसे बाहर निकाल लिया गया। यह युवक जगदीश (30) पुत्र सुल्तानराम निवासी खाट है। बाहर निकाले जाने पर उसे जैसे ही ऐहसास हुआ कि उसके परिवार के पांच सदस्यों सहित इनोवा नहर में समा गई है, वह बदहवास हो गया। उसे बेहोशी के दौरे पडऩे लगे। जगदीश को तत्काल 108 की एम्बुलेंस से हनुमानगढ़ टाऊन सिविल अस्पताल रवाना कर दिया गया। जगदीश ने बदहवासी की हालत में बताया कि गाड़ी में उसके परिवार की दो महिलाएं, दो बच्चे व एक पुरुष है। वह इनके नाम नहीं बता पाया। मौके पर हनुमानगढ़ के डीएसपी वीरेन्द्र जाखड़ और रावतसर थानाप्रभारी पुष्पेन्द्र सिंह भी दलबल सहित पहुंच गये हैं। बड़ी संख्या में गांव वाले इकट््ठे हो रखे हंै। रात को ही फल्ड लाइटों का इंतजाम कर गाड़ी को ढूंढकर बाहर निकालने की कोशिशें की जा रही हैं।

मुंबई के एलफिंस्टन स्टेशन के फुट ओवर ब्रिज पर आज सुबह भगदड़ मच गई। इस भगदड़ में अब तक 22 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है।

वहीं घटना में करीब 2 दर्जन लोगों के घायल होने की भी ख़बर है। घायलों को पास के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। आशंका जताई जा रही है कि मृतकों की संख्या और बढ़ सकती है। हादसे के कारणों का अब तक पता नहीं चल पाया है। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने हादसे पर गहरा दु:ख जताया है। अस्पताल जाकर उन्होंने घायलों का हाल-चाल जाना। रेल मंत्री ने कहा कि घटना की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं।
उन्होंने कहा कि भविष्य में ऐसी किसी भी घटना को रोकने के लिए हरसंभव कदम उठाए जाएंगे। रेलवे ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख की मदद राशि देने की घोषणा की है। भगदड़ में मरने वालों के परिवार को राज्य सरकार ने भी 5-5 लाख की मदद राशि देने की घोषणा की है। महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि हादसे में घायल हुए लोगों के इलाज का खर्च राज्य सरकार उठाएगी।

बाड़मेर, बीकानेर, नागौर, हमीरपुर, चौपाल, मलोट, फिरोजपुर, अटारी व अमृतसर में हो सकती है छापामारी
चंडीगढ़ 


  साध्वी दुष्कर्म मामले में सजायाफ्ता डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की दत्तक पुत्री हनीप्रीत इंसा और डेरा के प्रवक्ता आदित्य इंसा के ठिकानों के बारे में हरियाणा पुलिस के हाथ अहम सुराग लग गए हैं, तथा पुलिस कभी भी इन तक पहुंच सकती है। पुलिस द्वारा सिरसा से पकड़े गए व्यक्ति से की गई पुछताछ में उसने हनीप्रीत और आदित्य के ठिकानों को लेकर कई बड़े खुलासे किए हैं, फिलहाल पुलिस उसे 10 दिन के रिमांड पर ले लिया है तथा रिमांड अवधी में उससे गहन पूछताछ की जाएगी। 
 जानकारी के अनुसार हरियाणा पुलिस ने सिरसा से राकेश कुमार अरोड़ा नामक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जो कि पंजाब के संगरूर जिले का रहने वाला बताया जा रहा है। उस पर आरोप है कि मोस्ट वांटेट हनीप्रीत और देशद्रोह के आरोपी आदित्य इंसा को छिपाने में वह मदद कर रहा था। सूत्रों अनुसार पकड़े गए राकेश ने पूछताछ के दौरान पुलिस के सामने हनीप्रीत और आदित्य को लेकर कई बड़े खुलासे किए हैं तथा पुलिस ने राकेश की निशानदेही पर कुछेक जगहों पर छापेमारी भी शुरू भी कर दी है। इस सिलसिले में पुलिस राजस्थान के बाड़मेर, बीकानेर, नागौर, हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर, चौपाल, पंजाब के मलोट, फिरोजपुर, अटारी तथा अमृतसर में भी छापामारी कर सकती है। हरियाणा पुलिस ने बीती 25 अगस्त के बाद से लगातार हनीप्रीत और आदित्य के संपर्क में रहे राकेश को पकडऩे के बाद पंचकूला कोर्ट में पेश कर 10 दिन की रिमांड पर लिया है तथा उससे गहन पूछताछ की जा रही है।

अकेली पाकर घर में काम करने वाली लडक़ी से किया दुष्कर्म

 श्री मुक्तसर साहिब


 घर में काम करने वाली नाबालिग लडक़ी को उसके मालिक के बेटे ने हवस का शिकार बना डाला तथा किसी को बताने की सूरत में जान से मारने की धमकी भी दी। फिलहाल पुलिस ने घटना के करीब डेढ़ माह बाद मामला सामने आने के बाद आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।
 पुलिस को दी शिकायत में कबरवाला रोड पर रहने वाली करीब 15 वर्षीय पीडि़ता ने बताया कि करीब चार साल पहले उसके पिता की सर्पदंश से मौत के बाद मेहनत मजदूरी कर पेट पालने वाले उसके भाईयों ने उसे स्कूल से हटा लिया। कुछ समय पूर्व वह घर के आर्थिक हालातों के चलते बस्ती टिब्बी साहिब के निवासी मनमोहन सिंह के घर में घरेलू काम काज करने लग गई। उसके अनुसार मनमोहन सिंह के छोटे बेटे हरजोत सिंह उर्फ जोत ने 09 अगस्त को उसे अकेला पाकर शाम करीब चार बजे उसे जबरन हवस का शिकार बना डाला। उसने आरोप लगाया कि उसने किसी को बताने की सूरत में उसको जान से मार देने की धमकी भी दी, जिसके चलते वह चुप रही। 16 सितंबर को वह काम से हट गई तथा अपने ननिहाल चली गई जहां उसने कुछ दिनों के बाद अपनी मामी को घटना के बारे में बताया। इसके बाद उसके मामा और मामी ने उसकी मां को साथ लेकर पुलिस को शिकायत दी। थाना सिटी प्रभारी तेजिंदरपाल सिंह ने बताया कि फिलहाल पुलिस ने पीडि़त लडक़ी के बयानों के आधार पर बुधवार की रात को हरजोत सिंह उर्फ जोत के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।
------------

संगरिया 
 
हनुमानगढ़ जिले में संगरिया थाना क्षेत्र के गांव नगराना में आज सुबह नाली के पास एक नवजात शिशु जीवित पड़ा मिला। यह देखकर लोग हैरान रह गये। कुछ ही देर मेें यह खबर नगराना ही नहीं, बल्कि आसपास के गांवों में भी फैल गई। शिशु को गांव वाले तुरंत ही संगरिया के सरकारी अस्पताल में ले गये, जहां डॉक्टरों ने उसका चैकअप किया। यह शिशु पूरी तरह से स्वस्थ है। इस सम्बंध मेें पुलिस ने अज्ञात महिला पर पैदाइश को छिपाने और बच्चे को मारने की नियत से लावारिस फेंक देने का मामला दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार सुबह करीब 6 बजे नगराना में पालाराम कुम्हार का परिवार सोकर उठा, तो उन्हें किसी शिशु के रोने की आवाज सुनाई दी। बाहर आकर देखा तो घर के नजदीक नाली के पास ही रुईं-कपड़े में लिपटा नवजात शिशु रो रहा था। शिशु के शरीर पर खून लगा हुआ था। इस शिशु को रात्रि के समय कोई नाली के पास छोडक़र चला गया। पालाराम के परिवार ने आसपास के लोगों को इसकी जानकारी दी। कुछ ही देर में वहां भीड़ लग गई। इस बीच थाने में सूचना दे दी। साथ ही गांव वाले इस शिशु को संगरिया के अस्पताल मेें ले गये। पुलिस ने बताया कि इस शिशु का जन्म लगता है कुछ ही घंटे पहले हुआ था। किसी मजबूरी के चलते इस शिशु को उसकी मां ने इस तरह लावारिस फिंकवाया होगा। शिशु लडक़ा है। अस्पताल में उसकी पूरी देखभाल की जा रही है। अस्पताल में भी इस शिशु को देखने आने वालों का तांता लगा हुआ है। पुलिस ने धारा 317 के तहत अज्ञात महिला पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। इस शिशु के मिलने की जानकारी जिला बाल संरक्षण समिति के अध्यक्ष व अन्य पदाधिकारियों को दी गई है। शिशु की देखभाल की जिम्मेवारी अब यह बाल संरक्षण समिति कर रही है। उधर, पुलिस पता लगाने में जुट गई है कि कल बुधवार से इस क्षेत्र मेें किसी के यहां कोई डिलीवरी तो नहीं हुई। इस बीच ग्रामीणों का कहना है कि इन दिनों गांव मेें नरमा-कपास की चुगाई की मजदूरी करने के लिए दूसरे इलाकों से काफी लोग आये हुए हैं। इस बात को भी पुलिस ध्यान में रखे हुए हैं।

पुलिस अधीक्षक के समक्ष पेश होने के बाद कहीं जाकर दर्ज हुआ मामला 

बीकानेर

दिल्ली की एक युवती को कथित रूप से बीकानेर में 23 लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म की शर्मनाक घटना को अंजाम दिया। इससे भी शर्मनाक यह रहा कि पीडि़ता की सम्बन्धित थाने में सुनवाई तक नहीं हुई, तो हारकर वह पुलिस अधीक्षक के समक्ष पेश हुई। एसपी सवाईसिंह गोदारा के आदेश पर बाद कहीं जाकर जेएनवीसी थाना में 23 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। सत्र बताते हैं कि अभी भी पुलिस की कारगुजारी संतोषजनक नहीं है तथा पुलिस ने जांच-पड़ताल करते हुए पकड़े गए आठ लोगों को में से तीन लोगों को बीती रात किसी दबाव के चलते छोड़ दिया गया। पांच को अभी भी बिठा रखा है।
करीब 28 वर्षीय यह युवती नई दिल्ली में न्यू फ्रेंच कॉलोनी की निवासी है, जिसका एक मकान बीकानेर में जयपुर मार्ग पर खाटू श्याम मन्दिर के पीछे रिड़मलसर पुरोहितान में है। इस मकान को सम्भालने के लिए वह अकसर आती-जाती रहती है। पीडि़ता के मुताबिक वह 25 सितम्बर की शाम को खाटू श्याम मन्दिर में पूजा-अर्चना कर बाहर आकर खड़ी थी। तभी उसे सुभाष और राजू नामक दो युवक बोलेरो गाड़ी में डालकर जबरन कोयले की खदानों (बरसिंहसर नेवयली लिग्राइट प्लांट) की ओर ले गये। पहले इन दोनों जनों ने उसके साथ गाड़ी में दुष्कर्म किया। इसके बाद वे उसे बरसिंहसर जीएसएस में ले गये। उसे दो दिन तक वहीं बंधक बनाये रखा गया। इस दौरान वहां सुभाष और राजू ने कईं जनों को बुलाया, जिन्होंने उसके साथ दुष्कर्म किया। पीडि़ता का कहना है कि उसके साथ तीन दिनों में 23 बार दुष्कर्म किया गया। वह 26-27 सितम्बर की रात को मौका पाकर वहां से भाग निकली। कल दोपहर वह जेएनवीसी थाने में गई, जहां उसकी सुनवाई नहीं हुई। अपराह्न एसपी से मिलने पर शाम को पुलिस ने मामला दर्ज किया। पुलिस ने उसका तत्काल मेडिकल करवाया। साथ ही एक पुलिस टीम ने बरसिंहसर जीएसएस पर छापा मारा। जानकारी के अनुसार जिस कमरे में इस युवती को बंधक बनाया हुआ था, उसके अंदर व बाहर कुल 16 इस्तेमाल किये हुए कंडोम बरामद हुए। यह युवती भागते समय इस जीएसएस के कमरे की एक टेबल पर रखे हुए कुछ सरकारी कागजात उठा लाई थी, जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया है। बीती रात पुलिस ने छापे मारकर आठ जनों को पकड़ा। इसके साथ ही जेएनवीसी थाने में इस मामले को रफ-दफा करवाने के लिए सफेदपोश लोगों का मेला लग गया। युवती पर समझौता कर लेने का काफी दबाव पड़ा। पुलिस भी सफेदपोश लोगों का ही साथ देती नजर आई। पुलिस का कहना है कि अभी पांच संदिग्धों को राउंडअप किया गया है। आज पीडि़ता के धारा 164 के तहत बयान मजिस्ट्रेट से कलमबद्ध करवाने की कार्रवाई की गई। बकौल पुलिस अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। यह युवती दिल्ली में अपने पति के साथ मालाएं बनाने का लघु उद्योग भी चलाती है। इस सामूहिक दुष्कर्म के मामले में बीकानेर में जबरदस्त खलबली मचा रखी है।


कोटकपूरा 


दो दिन पहले ही एक महिला की सडक़ हादसे में मौत से गांव थांदेवाला के लोग उबर भी नहीं पाए थे कि गांव की रहने वाली दो सगी बहनों के साथ एक बच्चे की कोटकपूरा के पास हुए सडक़ हादसे में हुई मौत ने गांव दहला दिया। कोटकपूरा के पास हुए उक्त हादसे में मरने वालों में मृतक महिलाओं के मायके से भी दो लोग शामिल हैं। बताया जा रहा है कि यह हादसा कार चालक को नींद आ जाने के कारण हुआ है।
गांव आशा बुट्टर निवासी भूंडी कौर गांव में ही चौकीदारी करने वाले अपने भतीजे तरसेम सिंह के अलावा थांदेवाला रहती बेटियों दविंदर कौर, सोमा कौर तथा तीन दोहतों के साथ मलेरकोटला में बाबा की चौकी भरने के लिए गई थी। लौटते समय कोटकपूरा के पास कार चला रहे तरसेम की आंख लगने से गाड़ी सडक़ पर खड़े एक ट्रक से टकरा गई। इस हादसे में गांव आशा बुटटर निवासी भूंडी कौर, उसकी दोनों बेटियां दविंदर कौर व सोमा तथा दोहता लखवीर व भतीजा गाड़ी चालक तरसेम सिंह की मौके पर ही मौत हो गई जबकि देविंदरं कौर के दो बेटे लवहीरा व लवप्रीत की गंभीर हालत के चलते उन्हें फरीदकोट रेफर किया गया है। सुबह पांच बजे हुए उक्त हादसे का समाचार गांव थांदेवाला में करीब छह बजे जब पहुंचा तो घर में कोहराम मचने के साथ समूचे गांव में शौक की लहर दौड़ गई। दविंदर कौर के घर पर उसकी करीब सत्तर वर्षीय सास महिंदर कौर तथा दोनों बेटियों का जहां रो रोकर बुरा हाल था वहीं ससुर मुक्खा सिंह पत्थर बना जमीन को निहारते हुए होनी को कोस रहा था।





ਮਾਨਸਾ: -  ਪਿਤਾ ਦੀ ਮੌਤ ਤੋ ਬਾਅਦ ਮਾਂ ਨਾਲ ਘਰ ਦਾ ਗੁਜਾਰਾ ਚਲਾਉਣ ਦੇ ਲਈ ਮਾਨਸਾ ਦੇ ਇੱਕ ਨਿਜੀ ਹਸਪਤਾਲ ‘ਚ ਪਾਰਟ ਟਾਇਮ ਕੰਮ ਕਰਦੀ ਜੀਐਨਐਮ ਦੀ ਵਿਦਿਆਰਥਣ ਸੜਕ ਹਾਦਸੇ ਦਾ ਸਿਕਾਰ ਹੋਣ ਤੋ ਬਾਅਦ ਇਸ ਟਾਇਮ ਪੀਜੀਆਈ ‘ਚ ਜਿੰਦਗੀ ਨਾਲ ਸੰਘਰਸ ਕਰ ਰਹੀ ਹੈ| ਘਰ ‘ਚ ਅੱਤ ਦੀ ਗਰੀਬੀ ਹੋਣ ਦੇ ਕਾਰਨ ਇਲਾਜ ਤੋ ਅਸਮਰੱਥ ਪਰਿਵਾਰ ਸਮਾਜਸੇਵੀ ਤੇ ਸਰਕਾਰ ਵੱਲ ਨੰਨ੍ਹੀ ਛਾਂ ਨੂੰ ਬਚਾਉਣ ਦੀ ਦੁਹਾਈ ਦੇ ਰਿਹਾ ਹੈ|
ਪਿੰਡ ਰੱਲਾ ਦੇ ਗਰੀਬ ਪਰਿਵਾਰ ਦੀ ਲੜਕੀ ਮਨਪ੍ਰੀਤ ਕੌਰ 26 ਸਤੰਬਰ ਨੂੰ ਆਪਣੇ ਘਰ ਜਾ ਰਹੀ ਸੀ ਕਿ ਅਚਾਨਕ ਬਰਨਾਲਾ ਡੀਪੂ ਦੀ ਪੀਆਰਟੀਸੀ ਦੀ ਬੱਸ ਨੇ ਲੜਕੀ ਨੂੰ ਕੁਚਲ ਦਿੱਤਾ ਜਿਸ ਉਪਰੰਤ ਉਸਨੂੰ ਬਠਿੰਡਾ ਦੇ ਪ੍ਰਾਈਵੇਟ ਹਸਪਤਾਲ ਲਿਜਾਇਆ ਗਿਆ ਜਿੱਥੋ ਉਸਨੂੰ ਪੀਜੀਆਈ ਚੰਡੀਗੜ੍ਹ ਲਈ ਰੈਫਰ ਕਰ ਦਿੱਤਾ ਗਿਆ| ਮਨਪ੍ਰੀਤ ਕੌਰ ਦੀ ਮਾਂ ਜਸਪ੍ਰੀਤ ਕੌਰ ਨੇ ਦੱਸਿਆ ਕਿ ਮਨਪ੍ਰੀਤ ਕੌਰ ਦੇ ਦੋਨੋਂ ਚੂਲੇ ਰੀੜ੍ਹ ਦੀ ਹੱਡੀ ਤੱਕ ਟੁੱਟ ਚੁੱਕੀ ਹੈ| ਉਨ੍ਹਾ ਕਿਹਾ ਕਿ ਬੱਸ ਚਾਲਕਾਂ ਵਲੋ ਪਰਿਵਾਰ ਦੀ ਕੋਈ ਮੱਦਦ ਨਹੀ ਕੀਤੀ ਗਈ ਅਤੇ ਨਾ ਹੀ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨਾਲ ਕੋਈ ਸੰਪਰਕ ਕੀਤਾ ਗਿਆ ਹੈ| ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਉਹ ਇਸ ਸਮੇਂ ਅੱਤ ਦੀ ਗਰੀਬੀ ‘ਚ ਗੁਜਰ ਰਹੀ ਹੈ| ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੱਸਿਆ ਕਿਹਾ ਕਿ ਦੋ ਸਾਲ ਪਹਿਲਾਂ ਮਨਪ੍ਰੀਤ ਕੌਰ ਦੇ ਪਿਤਾ ਗੁਰਜੰਟ ਸਿੰਘ ਦੀ ਖੇਤ ‘ਚ ਦਿਹਾੜੀ ਤੇ ਗਏ ਸਮੇਂ ਸਪਰੇ ਚੜ੍ਹਨ ਕਰਕੇ ਮੌਤ ਹੋ ਗਈ ਸੀ|
ਪੀੜ੍ਹਤ ਲੜਕੀ ਦੀ ਮਾਂ ਨੇ ਸਮਾਜਸੇਵੀ ਅਤੇ ਜਿਲ੍ਹਾ ਪ੍ਰਸाਸਨ ਨੂੰ ਅਪੀਲ ਕਰਦਿਆ ਕਿਹਾ ਕਿ ਉਹ ਉਸਦੀ ਨੰਨ੍ਹੀ ਲੜਕੀ ਦੀ ਜਾਨ ਬਚਾ ਲਵੇ, ਕਿਉਕਿ ਪਰਿਵਾਰ ਕੋਲ ਕੋਈ ਵੀ ਆਮਦਨ ਦਾ ਸਾਧਨ ਨਹੀ ਹੈ ਜਿਸ ਨਾਲ ਉਹ ਆਪਣੀ ਬੇਟੀ ਦਾ ਇਲਾਜ ਕਰਵਾ ਸਕੇ|ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੱਸਿਆ ਕਿ ਮਨਪ੍ਰੀਤ ਕੌਰ ਇਸ ਸਮੇਂ ਭੀਖੀ ਦੇ ਇੱਕ ਕਾਲਜ ‘ਚ ਜੀਐਨਐਮ ਦੀ ਪੜ੍ਹਾਈ ਕਰ ਰਹੀ ਹੈ|

भारतीय सेना ने म्यांमार बॉर्डर पर नगा उग्रवादियों के समूह पर बड़ी कार्रवाई की है. रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय सेना पर म्यांमार बार्डर पर नगा इंसर्जेंट कैंप की तरफ से फायरिंग की गई. जवाब में सेना ने स्ट्राइक किया है, इसमें कई नगा  उग्रवादियों के मारे जाने की सूचना है.

आईसीसी ने क्रिकेट में नए बदलावों को मंज़ूरी देते हुए अंपायर्स को और ज्यादा ताक़तवर बना दिया है। अब मैदान अंपायर से दुर्व्यवहार करने की सूरत में खिलाड़ी को खेल के बीच से ही पवेलियन भेजा जा सकेगा। खेल की बेहतरी के लिए आईसीसी द्वारा बनाए गए कई नए नियम 28 सितंबर से लागू होने वाले हैं।
आईसीसी के खेलने के नियमों में सुधार से अनुचित व्यवहार करने वाले खिलाड़ियों को मैदान से बाहर करना अब क्रिकेट में नियम के रूप में सामने आ रहा है। इस नियम को 28 सितंबर या इसके बाद से शुरू हो रही सभी सीरीज़ में लागू किया जाएगा। इन बदलावों में बल्ले की लंबाई-चौड़ाई की सीमा और डीआरएस में बदलाव शामिल हैं। हालांकि भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रही सीमित ओवरों की श्रृंखला पुराने नियमों के अनुसार ही खेली जाएगी। ये सभी नियम दो आगामी टेस्ट सीरीज़ में प्रभावी होंगे जब दक्षिण अफ्रीका बांग्लादेश की मेजबानी करेगा और पाकिस्तान संयुक्त अरब अमीरात में श्रीलंका से भिड़ेगा। आईसीसी के मुताबिक आईसीसी के खेलने के नियमों में ज्यादातर बदलाव एमसीसी द्वारा घोषित क्रिकेट नियमों के बदलाव के परिणामस्वरूप किए गए हैं। आईसीसी ने हाल में अंपायरों के साथ वर्कशॉप पूरी की है ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि वे सभी बदलावों को समझा लें और अंतरराष्ट्रीय मैचों में खेलने के नए नियमों को शुरू करने में कोई दिक्कत न हो। बल्ले और गेंद में संतुलन बनाए रखने के लिये बल्ले के किनारों का आकार और उसकी मोटाई अब सीमित हो जाएगी। आईसीसी ने कहा, बल्ले की लंबाई और चौड़ाई पर रोक बरकरार रहेगी लेकिन किनारे की मोटाई अब 40 मिमी से ज्यादा नहीं हो सकती और इसकी किनारे की पूरी गहराई अधिकमत 67 मिमी ही हो सकती है। अंपायरों को नया बैट गॉज दिया जाएगा, जिससे वे खिलाड़ियों के बल्ले की जांच सकते हैं। खिलाड़ियों के आचरण संबंधी नए नियमों में खिलाड़ी को किसी भी तरह के गलत व्यवहार के लिये मैच के बीच में से मैदान से बाहर भेजा सकता है। इसके अनुसार, मतलब यह है कि यह लेवल चार उल्लघंन में शामिल होगा जबकि लेवल एक से तीन के उल्लघंन आईसीसी आचार संहिता के अंतर्गत ही जारी रहेंगे। इसके मुताबिक, अंपायर को मारने की धमकी, अंपायर के साथ अनुचित और जानबूझकर शारीरिक संपर्क करना, खिलाड़ियों या किसी अन्य व्यक्ति पर शारीरिक रूप से हमला करना और हिंसा का कोई अन्य काम करना सभी लेवल चार के उल्लघंन में शामिल होंगे।


डेरा सच्चा सौदा के गुरमीत राम रहीम की बेटी हनीप्रीत ने दिल्ली हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका लगाई थी | मंगलवार को हनीप्रीत तनेजा के नाम से लगाई गई उसकी अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए खारिज कर दिया है |




 इससे पहले हाईकोर्ट ने पूछा था कि पहले आप यह बताइये कि आपने याचिका यहां क्यों दाखिल की? हनीप्रीत के वकील ने कहा कि वह याचिका दाखिल कर सकते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि वे दिल्ली में गिरफ्तार हो सकती हैं। इस बीच, पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय, डेरा हिंसा के सिलसिले में विभिन्न स्थानों पर दर्ज सभी मामलों की जांच के लिए पंजाब एवं हरियाणा सरकारों द्वारा तीन अधिकारियों की विशेष जांच दल के गठन के खिलाफ आज सुनवाई करेगा।

जवाहर नवोदया विद्यालय महियावाला में अध्ययनरत था तरुण 

श्रीगंगानगर
जवाहर नवोदया महियावाला में पढऩे वाला छात्र जब घर आता तो मम्मी का मोबाइल लेकर एटीएम से पैसे निकलवाता और मम्मी के मोबाइल पर आने वाला मैसेज डिलीट कर देता। एक दिन किसी शादी समागम में गई उसकी मम्मी से मोबाइल लिए बिना ही जब उसने पैसे निकलवाए तो उसकी मम्मी के अपने खाते में महज 94 रुपये रह जाने का मैसेज देखकर होश उड़ गए।भांडा फूटने के बाद से छात्र भर से गायब है।


जानकारी के अनुसार पूर्व सभापति यशपाल कलेर का पौता तरूण बैंक अकाउंट से एटीएम के जरिये लगातार पैसे निकालता रहा। उसने लगभग 50 हजार रुपये धीरे-धीरे करके निकाल लिये। विगत शनिवार को अन्तिम बार उसने दो हजार रुपये निकलवाये, तब अकाउंट में सिर्फ 94 रुपये रह जाने का मैसेज उसकी मम्मी परमजीत कौर के मोबाइल फोन पर आया, तो वह चौक उठी। उसने विगत नवम्बर माह में नया बैंक अकाउंट खुलवाते हुए उसमें 50 हजार रुपये जमा करवाये थे। इसकी पास बुक और एटीएम कार्ड उसने घर में रखा हुआ था। जवाहर नवोदय विद्यालय महियावाली में अध्ययनरत तरूण (पुत्र बलवीर) ने कब घर से एटीएम कार्ड उठा लिया, यह उसके घर वालों को पता ही नहीं चला। वह विगत जून माह से कुछ-कुछ दिन के अंतराल पर एटीएम से रकम निकाल रहा था। इस सितम्बर माह की शुरूआत में ही उसने कुछ दिनों मेें ही 9 बार पैसे निकाले। तरूण के संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो जाने की जांच कर रहे पुरानी आबादी थाना के सब इंस्पेक्टर नाहर सिंह ने यह जानकारी देते हुए बताया कि तरूण एटीएम से रुपये तभी निकालता था, जब वह रविदासनगर स्थित अपने घर आया होता था। एटीएम से रुपये निकालते ही इसका मैसेज उसकी मम्मी के मोबाइल फोन पर आता था।  उस समय मोबाइल तरूण अपने पास ही रखता था। मैसेज आते ही वह उसे डिलीट कर देता था। इसलिए घर वालों को उसके रुपये निकालने का पता नहीं चला। विगत शनिवार को जब उसने दो हजार की रकम निकाली, उस समय मोबाइल फोन उसकी मम्मी के पास था, जो किसी के यहां शादी में गई हुई थी। उसने रकम निकलने के आये हुए मैसेज को देखा तो वह चौक उठी, क्योंकि अकाउंट में 94 रुपये ही शेष बचे थे। तब उसने तरूण से पूछा तो वह आनाकानी करने लगा। उसका जवाब था कि किसी ने ऑनलाइन अकाउंट में सेंधमारी की है। सोमवार को वह बैंक खुलने पर इस बारे में पता करेगा। जांच अधिकारी के अनुसार घर वालों को उसकी बात पर यकीन नहीं आया। तब उसने अपने रिश्ते में लगते एक भाई से 50 हजार रुपये मांगे, जिसने इतनी बड़ी रकम देने में असमर्थता जता दी। अगले दिन रविवार को अपराह्न करीब 3 बजे तरूण यहां केन्द्रीय बस अड्डे के पास अपने रिश्ते मेें लगते चाचा राजकुमार को दिखाई दे गया। पूछने पर तरूण ने बताया कि वह अभी कुछ देर पहले ही महियांवाली से आया है और वापिस जा रहा है। उसने चाचा से मोबाइल फोन लेकर किसी को कॉल भी की थी। जिसे कॉल की, उसे बस अड्डे पर आने के लिए कहा। कॉल करने के बाद तरूण ने चाचा से बातें करते हुए मोबाइल फोन से इस नम्बर को डिलीट कर दिया। इसके बाद तरूण ने बस अड्डे के पास से ही किसी मॉन्टी की दुकान से तीन हजार रुपये में नया मोबाइल फोन खरीदा, जिसकी उसने 1900 रुपये ही दिये। बाकी रुपये उसने बाद में आकर देने की बात कही। जांच अधिकारी के अनुसार इस मोबाइल फोन का बॉक्स वह दुकान पर ही छोड़ गया था। उसमें मिले ईएमआई नम्बर से अब तरूण की लोकेशन को ट्रेस करने के प्रयास किये जा रहे हैं। बता दें कि उदाराम चौक में फोटो स्टूडियो की दुकान करने वाले राजकुमार की सूचना पर पुरानी आबादी थाना पुलिस ने तरूण का किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा अपहरण कर लेने का मुकदमा दर्ज करवाया हे, जिसकी जांच पड़ताल में यह तथ्य सामने आये हैं। लिहाजा पुलिस का अब यह मानना है कि तरूण का किसी ने अपहरण नहीं किया, बल्कि वह अपनी मर्जी से गायब है। गायब होने की वजह भी यही मानी जा रही है कि उसके द्वारा घर वालों को बताये बिना अकाउंट से निकाली गई 50 हजार की राशि है। वह इस बाबत घर वालों को कोई जवाब नहीं दे पा रहा होगा, इसलिए वह गायब हो गया। तरूण का छोटा भाई रेाहित भी जवाहर नवोदय विद्यालय में अध्ययनरत है। पुलिस ने नवोदय विद्यालय में जाकर रोहित के सहपाठियों, वहां कैंटीन के संचालक तथा हाइवे पर एक होटल वाले से भी पूछताछ की है। इस होटल से कईं बार तरूण खाने-पीने का सामान अपने हॉस्टल के कमरे में मंगवाया करता था।

प्यारे के ठुमकों ने किया दर्शकों को घायल


ना पैसे की चाह, ना अभिनय को भविष्य बनाने की योजना. चाह है तो बस रामलीला में मिलने वाले अपने रोल में जान फूंक देने की। शायद यही वजह है कि प्यारे लाल घायल के रोल वाले दिन दर्शकों की संख्या दोगुना तक हो जाती है। उनके ताडक़ा व सुर्पनखा के रोल विख्यात हैं तथा उनके इस रोल के दौरान पंडाल में तिल रखने भर की जगह तक नहीं बचती। सोमवार की रात को सुर्पनखा नाईट में भी कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला। सुर्पनखा बने प्यारे ने भगवान श्री राम व लक्ष्मण को रिझाने के लिए लगाए अपने ठुमकों से दर्शकों को घायल कर डाला। मूल रूप से संदूक, पेटियां बनाने का काम करने वाले प्यारे लाल घायल अस्सी के दशक से लाला चेतराम सत्या रामलीला कमेटी के साथ जुड़े हुए हैं। रामलीला में वह सुमित्रा, अंगद, जटायू जैसे अलग अलग रोल करके आल राउंडर कलाकार के तौर पर तो जाने ही जाते हैं, लेकिन ताडक़ा, सुर्पनखा के अलावा केकई का उनका रोल देखने के लिए दर्शकों में कुछ अलग ही उत्साह नजर आता है।

भारत ने संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा में फर्जी तस्‍वीर का इस्‍तेमाल कर भारत को बदनाम करने की पाकिस्‍तान की नाकाम कोशिश की कड़ी आलोचना की है।

संयुक्‍त राष्‍ट्र में पाकिस्‍तान की दूत ने महासभा में अपने भाषण के दौरान गजा क्षेत्र की एक लड़की की तस्‍वीर को कश्‍मीर में पैलेट गन की शिकार के तौर पर पेश किया था। संयुक्‍त राष्‍ट्र में भारत के स्‍थाई मिशन में राजनयिक पॉलोमी त्रिपाठी ने कल संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा में भारत के जवाब देने के अधिकार का इस्‍तेमाल करते हुए पाकिस्‍तान की प्रतिनिधि मलीहा लोधी पर पलटवार किया। पाकिस्तान की प्रतिनिधि ने भारत के बारे में गलत प्रचार करने ले लिए झूठी तस्वीर दिखाकर महासभा को गुमराह किया। अध्यक्ष महोदय, पाकिस्तान की इस गुमराह करने वाली हरकत को देखते हुए हम भी महासभा को एक तस्वीर दिखाने के लिए मजबूर हैं जो भारत के खिलाफ पाकिस्तान के घृणित इरादों को दर्शाती है। उन्‍होंने कहा कि ये तस्‍वीर अमरीकी फोटोग्राफर हैदी लेविंग ने खीची थी और इसे गजा में ‘संघर्ष, साहस और मरहम’ शीर्षक के साथ 24 मार्च, 2015 को न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स में प्र‍काशित किया गया था। भारतीय प्रतिनिधि ने संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा में लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की तस्‍वीर दिखाते हुए कहा कि पाकिस्‍तान के कटुतापूर्ण और गुमराह करने के प्रयास के जबाव में भारत को भी पाकिस्‍तान के घृणित प्रयासों की वास्‍तविक तस्‍वीर सामने रखने पर मजबूर होना पड़ा है। उन्‍होंने कहा कि यह तस्‍वीर भारत के जम्‍मू-कश्‍मीर राज्‍य के एक युवा अधिकारी की असली तस्‍वीर है। इस अधिकारी को इस साल मई में पाकिस्‍तान समर्थक आतंकवादियों ने एक विवाह समारोह से अपहरण करके बर्बर यातना देते हुये मार डाला था।

श्रीगंगानगर की जमींदारा पार्टी से संबंधित है विधायिका कामिनी जिन्दल
आयकर विभाग ने कार्रवाई करते हुए किए पांच बैंक अकाउंट अटैच्ड
विधायिका मैडम ने नहीं चुकता किया सवा दो करोड़ का वैल्थ टैक्स
श्रीगंगानगर
 
श्रीगंगानगर से जमींदारा पार्टी की विधायक कामिनी जिन्दल को टैक्स चुकता न करना महंगा पड़ गया है तथा आयकर विभाग ने उन पर शिकंजा कस दिया। बताया जा रहा है कि आयकर विभाग का कामिनी जिन्दल की तरफ लगभग सवा 2 करोड़ का वैल्थ टैक्स बकाया है, जिसकी वसूली के लिए विधायिका को विभाग की ओर से बार-बार नोटिस भी भेजे जा रहे थे। विधायक ने नोटिस का जवाब तो दिया, लेकिन यह टैक्स नहीं चुकाया बल्कि नोटिसों के खिलाफ विधायिका ने आयकर विभाग के उच्चाधिकारियों के समक्ष अपील दायर कर रखी है। नियमानुसार अपील दायर करने पर भी विधायिका कामिनी जिन्दल ने बकाया टैक्स की 20 प्रतिशत राशि आयकर विभाग को जमा नहीं करवाई। आयकर विभाग के उच्च पदस्थ सूत्रों के मुताबिक विभाग के बीकानेर स्थित प्रिंसीपल कमिश्नर के आदेश पर सोमवार को स्थानीय अधिकारियों ने विधायक कामिनी जिन्दल के पांच पर्सनल बैंक अकाउंट को अटैच्ड कर दिया।

जानकारी के अनुसार विधायक कामिनी जिन्दल के यह पांच अकाउंट पंजाब नेशनल बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया, यूनियन बैंक, एक्सिस बैंक और ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स में है। विभागीय सूत्रों ने बताया कि कामिनी जिन्दल की तरफ वर्ष 2014-15 से कुल मिलाकर 2 करोड़ 23 लाख से अधिक का वैल्थ टैक्स बकाया है, जिसे चुकता करने के लिए कईं बार नोटिस दिये गये। उन्होंने नोटिसों का जवाब तो दिया, लेकिन टैक्स नहीं चुकाया। इन्हीं सूत्रों के अनुसार विधायक कामिनी जिन्दल की ओर से यह टैक्स चुकाने में कथित रूप से असमर्थता व्यक्त की गई है। दूसरी ओर उन्होंने टैक्स कैलकुलेशन को गलत बताते हुए उच्चाधिकारियों के समक्ष अपील की है। इस अपील पर किसी तरह का कोई स्थगन आदेश विधायक को प्राप्त नहीं हुआ है। विभागीय सूत्रों ने बताया कि केन्द्रीय प्रत्यक्षकर बोर्ड (सीबीडीटी) के स्पष्ट नियम हैं कि इस तरह के प्रकरणों में अपील किये जाने के साथ टैक्स की 20 प्रतिशत राशि विभाग को जमा करवानी होगी। विधायक कामिनी जिन्दल ने यह 20 प्रतिशत राशि भी विभाग को जमा नहीं करवाई है। इसीलिए विभाग ने बकाया करीब सवा 2 करोड़ के वैल्थ टैक्स की वसूली करने के लिए उनके बैंक अकाउंट्स को अटैच्ड करने की कार्रवाई की है। इन्हीं सूत्रों के अनुसार विभाग ने पांचों बैंक अकाउंट्स का सम्बन्धित बैंकों से विवरण प्राप्त कर लिया है। इन खातों मेें कुल मिलाकर जो राशि है, वह सवा 2 करोड़ से कम है। खातों में जो भी राशि है, उसे आयकर विभाग के खाते में ट्रांसफर करने के निर्देश बैंकों को दिये गये हैं। इन खातों में और राशि जमा होने पर, वह भी आयकर विभाग को स्थानांतरित करनी होगी। जब विभाग के  सवा 2 करोड़ रुपये पूरे हो जायेंगे, उसके बाद इन खातों में आई हुई रकम को ट्रांसफर नहीं किया जायेगा। विभागीय सूत्रों ने बताया कि यह वैल्थ टैक्स कामिनी जिन्दल की तरफ उनकी व्यक्तिगत आय का बकाया है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के हर घर में बिजली पहुंचाने के लिए नई योजना का ऐलान किया है. इसके चलते सरकार गरीबों को मुफ्त में 24 घंटे बिजली देगी. सोमवार शाम को बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक के बाद पीएम मोदी ने इस योजना का उद्घाटन किया, नई योजना के तहत साल के अंत तक सभी गांवों का बिजलीकरण कर दिया जाएगा. प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य) के तहत बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, ओडिशा, झारखंड, जम्मू एवं कश्मीर, पूर्वोत्तर राज्य और राजस्थान के हर घर में बिजली पहुंचाई जाएगी

प्रवर्तन निदेशालय ने एयरसेल मैक्सिस मामले में कार्रवाई करते हुए कांग्रेस नेता पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम की संपत्ति कुर्क कर ली है।
सोमवार को ED ने कार्ति के बैंक खाता और 90 लाख की फिक्स्ड डिपोसिड को भी कुर्क किया। कार्ति चिदम्बरम की परिसम्पत्तियों और एक करोड़ साठ लाख रूपये के बैंक खाते को कुर्क कर लिया है। सूत्रों के अनुसार पूर्व वित्तमंत्री पी चिदम्बरम के पुत्र कार्ती चिदम्बरम की नब्बे लाख रूपये की सावधि जमाराशि को भी एजेंसी ने कुर्क किया। यह मामला 2006 में एयरसेल मैक्सिस समझौते में विदेशी निवेश को मंजूरी देने में अनियमितताओं से संबंधित है। उस समय पी चिदम्बरम वित्तमंत्री थे। दरअसल, कार्ति अपनी अधिकतर संपत्तियों को बेचने की कोशिश कर रहे थे साथ ही बैंक अकाउंट्स को भी बंद कर रहे थे। ED का कहना है कि कार्ति और पी. चिदंबरम को एयरसेल मैक्सिस डील में सॉफ्टवेयर कंसलटंसी के नाम पर 2 लाख डॉलर की रकम दी गई थी।

सन्नी लेयोनी व राम रहीम को लेकर राखी सावंत ने दिया विवादित बयान
राखी सावंत के अनुसार उसे भी दो करोड़ में की थी न्यूड डांस की ऑफर
सन्नी लेयोनी को न्यूड डांस करने के दिए थे तीन से चार करोड़ रुपये
गुरमीत राम रहीम को आइटम गर्ल बहुत पसंद, सन्नी संग फिल्म बनाने की भी थी चाहत
हनीप्रीत के अलावा राखी सांवत और सन्नी लेयोनी पर भी मरते थे बलात्कारी राम रहीम




दुष्कर्म के आरोप में सजायाफ्ता गुरमीत राम रहीम को आयटम गर्ल बहुत पसंद है तथा उसने कथित तौर पर सन्नी लियोनी को न्यूड डांस के लिए तीन से चार करोड़ रुपये तक दिए। इस बात का खुलासा किया है विवादों को लेकर चर्चाओं में रहने वाली अदाकारा राखी सावंत ने। यही नहीं राखी का कहना है कि उसे भी न्यूड डांस के लिए राम रहीम ने दो करोड़ का ऑफर दिया था, लेकिन उसने ये ऑफर ठुकरा दिया था। राखी सांवत के  अनुसार उसे यह बात किसी और से नहीं बल्कि हनीप्रीत से पता चली। हनीप्रीत ने ही उसे कहा था कि राम रहीम सन्नी लियोनी को आश्रम में बुला रहे हैं। राखी ने बताया कि सन्नी लेयोनी व उसका पति आश्रम भी गए थे, अब सन्नी लेयोनी वहां बाबा का आर्शीवाद लेने तो गई नहीं होगी। राखी कहती है कि हनीप्रीत ने उसे एक दिन बताया था कि बाबा सन्नी लेयोनी व राखी सांवत बहुत पसंद करते हैं। राखी का तो यह भी कहना है कि गुरमीत राम रहीम पर बन रही बायोपिक अब होगा इंसाफÓ में भी उनकी टीम
द्वारा ये मुद्दा उठाया जाएगा तथा फिल्म में भी बाबा के तीनों लड़कियों हनीप्रीत, राखी सावंत व सन्नी लेयोनी पर रोमांस दिखाया जाएगा। बता दें कि कुछ समय पहले तक गुरमीत राम रहीम द्वारा सन्नी लियोनी के साथ फिल्म करने संबंधी चर्चाएं तो आईं थीं, लेकिन तब राम रहीम ने अपनी वाली और सन्नी की पोर्न स्टार वाली छवि के चलते ही ये फिल्म नहीं की। मगर अब राखी सांवत के इस बयान ने फिर से नए विवाद को जन्म दे दिया दे। देखते है राखी सांवत के इस बयान पर सन्नी लेयोनी का क्या प्रतिकर्म आता है।

Rakhi Sawant has given the controversial statement about Sunny Leoni and Ram Rahim

According to Rakhi Sawant, he also had two crore Nude Dance offer

Sunny Leoni was given three to four million rupees to dance

Gurmeet Ram Rahim wanted to make item girl a lot, liked to make a film with Sunny

Apart from Honeypreet, Rakhi Sawant and Sunny Leoni also died on the rape of Rama Rahim
 

Sentenced to rape, Gurmeet Ram Rahim likes item girl and he allegedly paid Sunny Leoni up to three to four crore rupees for nude dance. Rakhi Sawant, who has been in discussions about controversies, has disclosed this to the Rakhi Sawant. Not only this, Rakhi says that even Ram Rahim had given the offer of Rs 2 crore to Nude Dance, but he had turned down the offer. According to Rakhi Sawat, he came to know this thing not from anyone but Honeypreet. Honeypreet had told him that Ram Rahim Sunny Leoni is calling in the ashram. Rakhi said that Sunny Leoni and her husband had gone to the ashram, now Sunny Leoni will not have gone there to take the blessings of Baba. Rakhi says that Honeypreet had told her one day that Baba Sonni loves Leoni and Rakhi Sawat. Rakhi also says that the biopic on Gurmeet Ram Rahim will now be done in 'Insaf'This issue will be raised by and the film will also show romance on Baba's three girls Honeypreet, Rakhi Sawant and Sunny Leoni. Let me tell you that there was talk of making a film with Sunny Leoni by Gurmeet Ram Rahim sometime ago, but then Ram Rahim did not do the film due to the image of his wife and Sonny's porn star. But now this statement of Rakhi Sattav gave birth to a new controversy. See what the reaction of Sunny Leoni on Rakhi Sawant's statement?

bttnews

{picture#https://1.bp.blogspot.com/-pWIjABmZ2eY/YQAE-l-tgqI/AAAAAAAAJpI/bkcBvxgyMoQDtl4fpBeK3YcGmDhRgWflwCLcBGAsYHQ/s971/bttlogo.jpg} BASED ON TRUTH TELECAST {facebook#https://www.facebook.com/bttnewsonline/} {twitter#https://twitter.com/bttnewsonline} {youtube#https://www.youtube.com/c/BttNews} {linkedin#https://www.linkedin.com/company/bttnews}
Powered by Blogger.