ਬੀਟੀਟੀ ਨਿਊਜ਼ 'ਤੇ ਤੁਹਾਡਾ ਹਾਰਦਿਕ ਸਵਾਗਤ ਹੈ, ਅਦਾਰਾ BTTNews ਹੈ ਤੁਹਾਡਾ ਆਪਣਾ, ਤੁਸੀ ਕੋਈ ਵੀ ਅਪਣੇ ਇਲਾਕੇ ਦੀਆਂ ਖਬਰਾਂ 'ਤੇ ਇਸ਼ਤਿਹਾਰ ਸਾਨੂੰ ਭੇਜ ਸਕਦੇ ਹੋ ਵਧੇਰੀ ਜਾਣਕਾਰੀ ਲਈ ਸੰਪਰਕ ਕਰੋ Mobile No. 7035100015, WhatsApp - 9582900013 ,ਈਮੇਲ contact-us@bttnews.online

डॉ. राज कुमार वेरका द्वारा स्वास्थ्य के क्षेत्र में पंजाब को मॉडल राज्य बनाने का ऐलान

डॉक्टरी शिक्षा और अनुसंधान मंत्री द्वारा समर्पण, ईमानदारी और दृढ़ता से काम करने की अपील

डॉ. राज कुमार वेरका द्वारा स्वास्थ्य के क्षेत्र में पंजाब को मॉडल राज्य बनाने का ऐलान


चंडीगढ़, 30 सितम्बरः
पंजाब के डॉक्टरी शिक्षा और अनुसंधान मंत्री डॉ. राज कुमार वेरका ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में पंजाब को एक मॉडल राज्य बनाने का ऐलान किया है।
डॉक्टरी शिक्षा और अनुसंधान मंत्री के तौर पर पद संभालने के बाद आज स्थानीय पंजाब भवन में विभाग की पहली मीटिंग को संबोधन करते हुए डॉ. वेरका ने कहा कि राज्य में एक ऐसा सरकारी अस्पताल बनाया जायेगा जो न केवल सरकारी बल्कि प्राईवेट अस्पतालों में से भी सबसे बढ़िया और मिसाली होगा। किसी भी समाज के लिए दवा और पढ़ाई को महत्वपूर्ण बताते हुए उन्होंने कहा कि वह राज्य में बढ़िया स्वास्थ्य सहूलतें मुहैया करवाने के काम को आगे बढ़ाने की हर कोशिश करेंगे जिससे राज्य के लोगों को वाजिब दरों पर सरकारी अस्पतालों में इलाज की सहूलतें प्राप्त हो सकें।

कोरोना काल के दौरान राज्य के सरकारी डॉक्टरों द्वारा निभाई गई भूमिका की सराहना करते हुए डॉ. वेरका ने कहा कि लोगों को बढ़िया स्वास्थ्य सहूलतें देने के लिए सभी कमज़ोरियां दूर करने के लिए प्रत्येक को समर्पण, ईमानदारी और दृढ़ता के साथ काम करने की ज़रूरत है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं का स्तर ऊँचा करके हमें प्रायवेट अस्पतालों के मुकाबले सरकारी अस्पतालों में लोगों का विश्वास बढ़ाने की ज़रूरत है। उन्होंने कहा कि वह स्वास्थ्य क्षेत्र में चल रहे सभी प्रोजैक्टों को अमल में लाने के लिए हर कोशिश करेंगे।
इससे पहले डॉ. वेरका को विभाग के डायरैक्टर डॉ. सुजाता शर्मा ने बताया कि इस समय पर राज्य में बाबा फ़रीद यूनिवर्सिटी ऑफ हैल्थ सायंसेज़ फरीदकोट और गुरू रविदास आयुर्वेद यूनिवर्सिटी होशियारपुर नाम की सरकारी क्षेत्र की दो यूनिवर्सिटियाँ चल रही हैं और तीन सरकारी मैडीकल कालेज अमृतसर, पटियाला और फरीदकोट और सरकारी आयुर्वेदिक कालेज पटियाला भी है। इसके इलावा सरकारी डॉ. बी आर अम्बेडकर स्टेट इंस्टीच्यूट ऑफ मैडीकल सायंसेज़ मोहाली, शहीद ऊधम सिंह स्टेट इंस्टीच्यूट ऑफ मैडीकल सायंसेज़ होशियारपुर और श्री गुरु नानक देव स्टेट इंस्टीच्यूट ऑफ मैडीकल सायंसेज़ कपूरथला बनाऐ जाने का प्रस्ताव है।

डॉ. शर्मा ने बताया कि इस समय तीन सरकारी मैडीकल कालेजों के इलावा और 4 और विभागों में वीआरडीएल टेस्टिंग लैब हैं। इनमें आरटीपीसीआर टैस्ट प्रति दिन 35000 तक किये गए हैं। अब तक 97 लाख टैस्ट किये जा चुके हैं। कोविड मरीज़ों के लिए सरकारी मैडीकल कालेजों में 4आईसोलेशन वार्ड, 358 कोविड वेंटिलेटर, 67 ग़ैर कोविड वेंटिलेटर हैं। आज तक तकरीबन 24500 मरीजों का इलाज किया गया है।

इससे पहले डॉक्टरी शिक्षा और अनुसंधान विभाग के प्रिंसीपल सचिव श्री अलोक शेखर ने डॉ. वेरका का स्वागत किया और विभाग के बारे संक्षिप्त जानकारी दी। इस मौके पर अन्यों के इलावा अतिरिक्त सचिव राहुल गुप्ता, वाइस चांसलर बाबा फ़रीद यूनिवर्सिटी डॉ. राज बहादुर, वाइस चांसलर गुरू रविदास यूनिवर्सिटी डॉ बी के शर्मा, संयुक्त डायरैक्टर डॉ. ए डी अग्रवाल और डॉ. पुनीत गिरधर, चेयरमैन मैडीकल, डैंटल, नर्सिंग आयुर्वेदिक, होम्योपैथी कौंसिल, प्रिंसीपल और मैडीकल सुपरीटेंडंट सरकारी मैडीकल डैंटल आयुर्वैदिक कालेज उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad



Contact Us