Page Nav

Grid

GRID_STYLE

Grid

GRID_STYLE

Hover Effects

Classic Header

{fbt_classic_header}

 ਬੀਟੀਟੀ ਨਿਊਜ਼ 'ਤੇ ਤੁਹਾਡਾ ਹਾਰਦਿਕ ਸਵਾਗਤ ਹੈ, ਅਦਾਰਾ BTTNews ਹੈ ਤੁਹਾਡਾ ਆਪਣਾ, ਤੁਸੀ ਕੋਈ ਵੀ ਅਪਣੇ ਇਲਾਕੇ ਦੀਆਂ ਖਬਰਾਂ 'ਤੇ ਇਸ਼ਤਿਹਾਰ ਸਾਨੂੰ ਭੇਜ ਸਕਦੇ ਹੋ, ਵਧੇਰੀ ਜਾਣਕਾਰੀ ਲਈ ਸੰਪਰਕ ਕਰੋ Mobile No.7035100015, WhatsApp - 9582900013 ,ਈਮੇਲ contact-us@bttnews.online

ਤਾਜਾ ਖਬਰਾਂ

latest

 ਬੀਟੀਟੀ ਨਿਊਜ਼ 'ਤੇ ਤੁਹਾਡਾ ਹਾਰਦਿਕ ਸਵਾਗਤ ਹੈ, ਅਦਾਰਾ BTTNews ਹੈ ਤੁਹਾਡਾ ਆਪਣਾ, ਤੁਸੀ ਕੋਈ ਵੀ ਅਪਣੇ ਇਲਾਕੇ ਦੀਆਂ ਖਬਰਾਂ 'ਤੇ ਇਸ਼ਤਿਹਾਰ ਸਾਨੂੰ ਭੇਜ ਸਕਦੇ ਹੋ ਵਧੇਰੀ ਜਾਣਕਾਰੀ ਲਈ ਸੰਪਰਕ ਕਰੋ Mobile No. 7035100015, WhatsApp - 9582900013 ,ਈਮੇਲ contact-us@bttnews.online

CM ने 12.73 करोड़ रुपए के 25 खेत कामगारों और भूमि रहित किसानों को दिए कर्ज माफी के सर्टीफिकेट

  हलके के गाँवों की रिहायशी सम्पत्तियों की ड्रोन तकनीक के साथ मैपिंग करने वाले पायलट प्रोजैक्ट कि की शुरूआत मोरिंडा, 3 अक्तूबरः  राज्य भर के...

 हलके के गाँवों की रिहायशी सम्पत्तियों की ड्रोन तकनीक के साथ मैपिंग करने वाले पायलट प्रोजैक्ट कि की शुरूआत

CM ने 12.73 करोड़ रुपए के 25 खेत कामगारों और भूमि रहित किसानों को दिए कर्ज माफी के सर्टीफिकेट

मोरिंडा, 3 अक्तूबरः 

राज्य भर के लोगों के लिए साफ और पारदर्शी प्रशासन यकीनी बनाने के लिए अपनी सरकार की दृढ़ वचनबद्धता को दोहराते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री स. चरणजीत सिंह चन्नी ने आज कहा कि सभी सिविल और पुलिस अधिकारियों को लोगों की शिकायतों को पहल के आधार और तुरंत निपटाने के लिए जवाबदेह और जिम्मेदार बनाया जायेगा। 
मीशन लाल लकीर अधीन श्री चमकौर साहिब विधानसभा हलके की ग्रामीण सम्पत्तियों की डिजिटल मैपिंग के लिए ड्रोन तकनीक वाला पायलट प्रोजैक्ट लांच करने के साथ-साथ खेत कामगारों और भूमि रहित काश्तकारों को कर्ज माफी सर्टीफिकेट सौंपने के लिए करवाए गए राज्य स्तरीय समागम दौरान मोरिंडा में सार्वजनिक जलसे को संबोधन करते हुए मुख्यमंत्री ने सरकार के कामकाज में लोगों के भरोसे को फिर से बहाल करने के लिए लोगों खासकर गरीबों और कमजोर वर्ग के लोगों की जायज शिकायतों के तत्काल निपटारे की जरूरत पर जोर दिया।
स. चन्नी ने कहा कि यदि कोई व्यक्ति गलत कामों में शामिल पाया जाता है तो उसको बख्शा नहीं जायेगा जबकि निर्दोष और इमानदार को पुलिस किसी भी रूप में परेशान नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि प्रांतीय प्रशासन की तरफ से सभी सिविल और पुलिस अधिकारियों को पहले ही विस्तृत निर्देश जारी किये जा चुके हैं जिससे लोगों तक उनकी पहुँच यकीनी बनाई जा सके और साथ ही लोगों के नुमायंदों जैसे कि विधायक, सरपंचों, पंचों, कौंसलरों आदि को बनता सत्कार दिया जा सके।
स. चन्नी ने भावुक होते हुए श्री चमकौर साहिब विधानसभा हलके के लोगों का धन्यवाद किया जिन्होंने दशमेश पिता श्री गुरु गोबिन्द सिंह जी और साहिबजादों बाबा अजीत सिंह जी और बाबा जुझार सिंह द्वारा बख्शी इस पवित्र धरती के विनम्र सेवक के तौर पर उनकी लीडरशिप में भरोसा प्रकट किया है। मुख्यमंत्री ने जीवन भर पूरी श्रद्धा, इमानदारी और वचनबद्धता के साथ क्षेत्र के विकास और लोगों की भलाई के लिए उनकी सेवा करने का भरोसा दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों की इच्छाओं का सम्मान करते हुए वह अगले 3-4 महीनों में इलाके के सर्वपक्षीय विकास को यकीनी बनाने में कोई कसर बाकी नहीं छोडेंगे।
मुख्यमंत्री ने इस क्षेत्र के लिए कई विकास प्रोजेक्टों का ऐलान भी किया जिनमें 114 करोड़ रुपए की लागत के साथ बेला-पनियाली सड़क को राष्ट्रीय राजमार्ग 344-ए के साथ जोड़ने वाला एक ओवरब्रिज, रायपुर और त्रिपड़ी की आई.टी.आईज में दो खेल स्टेडियम बनाने के अलावा श्री चमकौर साहिब में सिविल अस्पताल का नवीनीकरण शामिल है। उन्होंने यह भी ऐलान किया कि मोरिंडा में रेलवे अंडरब्रिज जल्द ही शुरू कर दिया जायेगा और श्री चमकौर साहिब में बनने जा रही स्किल यूनिवर्सिटी स्थानीय नौजवानों को कुशल बनाकर इस क्षेत्र में रोजगार के मौकों को उत्साहित करने के लिए अहम भूमिका निभाएगी।
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने उनके साथ मौजूद राजस्व और पुनर्वास मंत्री श्रीमती अरुणा चैधरी के साथ मोरिंडा विधानसभा क्षेत्र के गाँवों में रिहायशी सम्पत्तियों की मैपिंग के लिए ड्रोन तकनीक का पायलट प्रोजैक्ट भी लांच किया जिससे योग्य लाभार्थीयों को मालिकाना अधिकार प्रदान किये जा सकें। इस दौरान गुरमीत सिंह और नरिन्दर सिंह निवासी वजीदपुर को मालिकाना प्रमाणपत्र भी दिए गए।
बाद में उन्होंने कर्ज माफी स्कीम की प्रतीकात्मक शुरूआत के रूप में 25 खेत कामगारों और भूमि रहित किसानों को कर्ज राहत सर्टिफिकेट भी सौंपे। जिक्रयोग्य है कि इस स्कीम के अंतर्गत रोपड़ और मोहाली जिलों के 7445 लाभार्थीयों के लिए प्राथमिक कृषि सहकारी सभाओं की तरफ से दिए गए 12.73 करोड़ रुपए के कर्जे माफ किये जाने हैं।
जिक्रयोग्य है कि पंजाब सरकार ने पहले ही 31 जुलाई, 2017 को 2.85 लाख खेत मजदूरों और भूमि रहित किसानों के उनके सहकारी कर्जाें की मूल रकम के सम्बन्ध में 520 करोड़ रुपए के कर्जे और 6 मार्च, 2019 तक उक्त रकम पर 7.0 प्रतिशत साधारण ब्याज माफ करने का फैसला किया है। ध्यान देने वाली बात है कि राज्य सरकार ने इससे पहले 5.85 लाख छोटे और सीमांत किसानों के 4700 करोड़ रुपए के कर्जे (2 लाख रुपए तक के फसलीय कर्जे) को माफ कर दिया था।
इस मौके पर बोलते हुए राजस्व और पुनर्वास मंत्री श्रीमती अरुणा चैधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की तरफ से हाल ही में कई गरीब-समर्थकीय पहलकदमियां की गई हैं, जो राज्य के प्रशासन में लोगों के भरोसे को बहाल करने में बहुत अहम साबित होंगी। उन्होंने मुख्यमंत्री को भरोसा दिलाया कि मीशन लाल लकीर अक्तूबर के अंत तक जरूर मुकम्मल हो जायेगा क्योंकि ड्रोन प्रोजैक्ट पहले ही जिला गुरदासपुर में पायलट प्रोजैक्ट के तौर पर लांच किया जा चुका है और डिजिटल मैपिंग के द्वारा ग्रामीण सम्पत्तियों की पहचान करने के लिए इसको अन्य सभी जिलों में भी इस्तेमाल किया जायेगा। 
इस दौरान सहकारी सभाओं के रजिस्ट्रार श्री विकास गर्ग ने अपने सवागती भाषण में मुख्यमंत्री को खेत मजदूरों और भूमि रहित किसानों के लिए कर्ज माफी स्कीम बारे जानकारी दी।
इस मौके दूसरों के अलावा पूर्व विधायक भाग सिंह, स्थानीय नेताओं और पार्टी वर्करों के अलावा रूपनगर के सीनियर सिविल और पुलिस अधिकारी शामिल हुए।

No comments

Ads Place