Page Nav

Grid

GRID_STYLE

Grid

GRID_STYLE

Hover Effects

Classic Header

{fbt_classic_header}

 ਬੀਟੀਟੀ ਨਿਊਜ਼ 'ਤੇ ਤੁਹਾਡਾ ਹਾਰਦਿਕ ਸਵਾਗਤ ਹੈ, ਅਦਾਰਾ BTTNews ਹੈ ਤੁਹਾਡਾ ਆਪਣਾ, ਤੁਸੀ ਕੋਈ ਵੀ ਅਪਣੇ ਇਲਾਕੇ ਦੀਆਂ ਖਬਰਾਂ 'ਤੇ ਇਸ਼ਤਿਹਾਰ ਸਾਨੂੰ ਭੇਜ ਸਕਦੇ ਹੋ, ਵਧੇਰੀ ਜਾਣਕਾਰੀ ਲਈ ਸੰਪਰਕ ਕਰੋ Mobile No.7035100015, WhatsApp - 9582900013 ,ਈਮੇਲ contact-us@bttnews.online

ਤਾਜਾ ਖਬਰਾਂ

latest

 ਬੀਟੀਟੀ ਨਿਊਜ਼ 'ਤੇ ਤੁਹਾਡਾ ਹਾਰਦਿਕ ਸਵਾਗਤ ਹੈ, ਅਦਾਰਾ BTTNews ਹੈ ਤੁਹਾਡਾ ਆਪਣਾ, ਤੁਸੀ ਕੋਈ ਵੀ ਅਪਣੇ ਇਲਾਕੇ ਦੀਆਂ ਖਬਰਾਂ 'ਤੇ ਇਸ਼ਤਿਹਾਰ ਸਾਨੂੰ ਭੇਜ ਸਕਦੇ ਹੋ ਵਧੇਰੀ ਜਾਣਕਾਰੀ ਲਈ ਸੰਪਰਕ ਕਰੋ Mobile No. 7035100015, WhatsApp - 9582900013 ,ਈਮੇਲ contact-us@bttnews.online

साइबर क्राइम के बढ़ते मामले गंभीर चिंता का विषय

 -एस.एस.पी. से की जाएगी मुलाकात - श्री मुक्तसर साहिब, 02 दिसंबर-  वैज्ञानिक प्रगति कारण मोबाइल, इंटरनैट और शोसल मीडिया का उपयोग बेहद आम हो ग...

 -एस.एस.पी. से की जाएगी मुलाकात -

साइबर क्राइम के बढ़ते मामले गंभीर चिंता का विषय

श्री मुक्तसर साहिब, 02 दिसंबर-
 वैज्ञानिक प्रगति कारण मोबाइल, इंटरनैट और शोसल मीडिया का उपयोग बेहद आम हो गया हे। शिक्षा, विज्ञान व व्यापार समेत समाज के सभी वर्गों समेत सरकारे दरबारे  इस टैकनालोजी का उपयोग किया जाता है। इन क्षेत्रों में इसका उपयोग बहुत लाभदायक सिद्ध होता है। परंतु कई बार कुछ समाज विरोधी अनसर और ब्लैकमेलिंग करने वाले गैंग इस टैकनालोजी का दुर्पयोग भी करते हैं। बहुत से व्यक्ति कानूनी प्रकिृया से डरते हुए और अपने रोजाना के कार्यों में व्यस्त होने के कारण ऐसे मामलों को पुलिस यां प्रशासन पास नहीं लेकर जाते, जिससे ऐसे अनसरों का हौंसला ओर भी बढ़ जाता है। समाज के भले और विकास को समर्पित प्रमुख गैर सरकारी समाज सेवी संस्था के प्रधान प्रसिद्ध समाज सेवक जगदीश राय ढोसीवाल ने आज यहां जानकारी देते हुए बताया है कि शहर के कुछ धार्मिक व्यक्तियों, समाजिक कार्यकरताओं, वकील और अध्यापकों, सीनियर सिटीजन और अन्य व्यक्तियों ने उनकी संस्था के ध्यान में लाया है कि उनके निजी मोबाइल नंबरों पर कुछ अनजान नंबरों से अशलील मैसेज और फोटो भेजे जा रहे हैं। इन मैसेजस और फोटोंओं का उनके साथ दूर का भी वासता नहीं है। ऐसे मैसेजों से उनकी निजी और परिवारिक आजादी में विघन पड़ता है। इतना ही नहीं कई बार उनके फोन घर की महिलाओं, लड़कियों यां बच्चों के पास होते हैं जिससे उन पर बुरा असर पड़ता है। प्रधान ने आगे बताया है कि जल्द ही उनकी संस्था द्वारा जिले के एस.एस.पी. से मुलाकात करके मामले की गंभीरता और जन हित्त को ध्यान में रखते हुए ऐसे मैसेज भेजने वाले नंबरों की जानकारी दी जाएगी। ऐसे मोबाइल नंबरों की काल डिटेल निकलवा कर दोषी व्यक्तियों विरूद्ध कार्यवाई की मांग की जाएगी। 

No comments

Ads Place